Submit your post

Follow Us

असम: जिस बूथ पर BJP कैंडिडेट की गाड़ी में EVM मिला था वहां फिर से चुनाव होंगे

असम में विधानसभा चुनाव समाप्त हो चुका है. 6 अप्रैल को आखिरी चरण का चुनाव था. इसी बीच 10 अप्रैल को चुनाव आयोग ने 4 पोलिंग बूथों पर 20 अप्रैल को फिर से चुनाव कराने का ऐलान किया है. ये चार पोलिंग बूथ तीन अलग-अलग विधानसभा क्षेत्रों के हैं. ये विधानसभा क्षेत्र हैं- राताबाड़ी, सोनाई और हाफलोंग.

चुनाव आयोग ने क्या कहा?

चुनाव आयोग ने असम के मुख्य चुनाव आयुक्त को पत्र लिखकर इसकी जानकारी दी है. आयोग ने इन पोलिंग बूथों पर हुए मतदान को जनप्रतिनिधित्व अधिनियम, 1951 के सेक्शन 58 सब सेक्शन (2) (क) के तहत निरस्त किए जाने की बात कही है. आयोग ने जिन पोलिंग बूथों पर दोबारा चुनाव करवाने के आदेश दिए हैं, वहां एक अप्रैल को वोटिंग हुई थी. आयोग ने अपने पत्र में ये भी लिखा है कि तीनों विधानसभा की इन बूथों पर 20 अप्रैल की सुबह 7 बजे से शाम 6 बजे तक वोटिंग होगी.

क्यों हो रहा है इन बूथों पर दोबारा चुनाव

हिंदुस्तान टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक़, राताबड़ी के BJP उम्मीदवार कृष्णेंदु पॉल की गाड़ी में EVM मिला था. इसको लेकर काफ़ी विवाद बढ़ रहा था. हालांकि चुनाव आयोग का कहना है कि EVM से कोई छेड़छाड़ नहीं की गई है, लेकिन किसी भी तरह की आशंका को ख़त्म करने के लिए दोबारा मतदान कराने का फ़ैसला लिया गया है.

वहीं हाफ़लोंग विधानसभा क्षेत्र में एक मतदान केंद्र पर 181 वोट दर्ज किए गए थे, जबकि असल में वहां रजिस्टर्ड वोटरों की संख्या सिर्फ़ 90 है. इस बूथ के प्रेजाइडिंग ऑफिसर और प्रथम चुनाव अधिकारी ने चुनाव आयोग को दिए अपने बयान में इस बात को स्वीकार किया है कि मेन पोलिंग बूथ के वोटरों को भी यहां वोट डालने दिया गया था.

दूसरी तरफ़ कछाई जिले के सोनाई विधानसभा क्षेत्र में एक अप्रैल को चुनाव के दिन दो गुटों के बीच झड़प हुई थी. झड़प का कारण एक पोलिंग बूथ पर कुप्रबंधन बताया गया. जमा भीड़ को हटाने के लिए पुलिस को हवा में फायरिंग करनी पड़ी. इस दौरान तीन लोग घायल भी हो गए थे. अब इस धनहेरी पोलिंग बूथ पर भी दोबारा चुनाव होगा.

इन तीनों विधानसभा क्षेत्रों में एक अप्रैल को हुए चुनाव में 80.96 फीसदी वोटरों ने अपने मत का प्रयोग किया था.


असम चुनाव में इस बार ऐसा ‘घपला’ हुआ कि अब आयोग की छीछालेदर हो रही है!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.