Submit your post

Follow Us

कोच बिहार फायरिंग के बाद EC के किस फैसले पर ममता ने मोदी को सुना दिया

बंगाल में चौथे चरण की वोटिंग के दौरान शनिवार, 10 अप्रैल को सुरक्षा बलों की ओर से हुई फायरिंग में चार लोगों की मौत हो गई. ये घटना कोच बिहार में हुई थी. चुनाव आयोग ने  72 घंटो तक किसी भी राजनीतिक दल के नेता के कोच बिहार जाने पर बैन लगा दिया है. साथ ही आयोग ने पांचवे चरण के लिए चुनाव प्रचार की समयसीमा में भी बदलाव किया है.

कोच बिहार में कानून व्यवस्था बिगड़ने की आशंका को देखते हुए आयोग की ओर से पाबंदी लगाई गई है. वहीं पांचवे चरण की वोटिंग से 72 घंटे पहले चुनाव प्रचार बंद करने का आदेश भी चुनाव आयोग ने दिया है. नियम है कि वोटिंग से 48 घंटे पहले चुनाव प्रचार खत्म हो जाता है.

चुनाव आयोग के फैसले के बाद पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की मुखिया ममता बनर्जी ने चुनाव आयोग और पीएम मोदी पर निशाना साधा है. ममता ने ट्वीट कर कहा है कि MCC यानी मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट का नाम बदलकर मोदी कोड ऑफ कंडक्ट कर देना चाहिए. उन्होंने ट्वीट किया,

EC को MCC (मॉडल कोड ऑफ कंडक्ट ) का नाम बदलकर मोदी कोड ऑफ कंडक्ट कर लेना चाहिए. बीजेपी अपनी ताकत का इस्तेमाल कर सकती है, लेकिन इस दुनिया में कुछ भी मुझे अपने लोगों के साथ मिलने और उनका दर्द साझा करने से नहीं रोक सकता. वे मुझे कोच बिहार में तीन दिनों के लिए मेरे भाइयों और बहनों से मिलने से रोक सकते हैं, लेकिन मैं चौथे दिन वहां जाऊंगी.

ममता बनर्जी का रविवार, 11 अप्रैल को कोच बिहार फायरिंग में मारे गए लोगों के परिजनों से मिलने का कार्यक्रम था, लेकिन कल देर शाम चुनाव आयोग ने राजनीतिक दलों के नेताओं के कोच बिहार जाने पर बैन लगा दिया. इसके बाद ही ममता बनर्जी का ये बयान आया है.

ममता ने कहा कि यह अयोग्य प्रधानमंत्री और अयोग्य गृहमंत्री की अयोग्य सरकार है. वे बंगाल पर कब्जा करने के लिए हर दिन आ रहे हैं. आपका स्वागत है, आपको किसी ने नहीं रोका. लोगों को धमकाने के बजाय खुश करिए. आप केंद्रीय बलों द्वारा लोगों को मरवाते हैं और फिर उन्हें क्लिनचिट दे देते हैं.

इस घटना के बाद ममता बनर्जी ने कहा था कि हम पहले ही कह रहे थे कि गृह मंत्री केंद्रीय बलों को प्रभावित कर रहे हैं. हमारा डर सही साबित हुआ. आज उन लोगों ने चार लोगों का मार दिया. CRPF ने चार लोगों को मार दिया. ये लोग वोटिंग लाइन में खड़े थे. बीजेपी चुनाव हार चुकी है इसलिए ये लोग वोटरों की हत्या करवा रहे हैं. मैं सभी से शांति बरतने की अपील करती हूं.

वहीं पीएम मोदी ने कहा था BJP के पक्ष में जन समर्थन देखकर दीदी और उनके गुंडों में बौखलाहट हो रही है. आपकी कुर्सी जाती देख दीदी इस स्तर पर उतर आईं हैं. लेकिन मैं दीदी को, TMC को, उनके गुंडों को साफ साफ कह देना चाहता हूं, दीदी और TMC की मनमानी बंगाल में नहीं चलने दी जाएगी. मेरा चुनाव आयोग से आग्रह है कि कोच बिहार में जो हुआ है, उसके दोषियों पर सख्त से सख्त कार्रवाई हो.


बंगाल चुनाव: पश्चिम बंगाल में चुनाव खत्म होने के बाद किस बात का डर सता रहा लोगों को?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.