Submit your post

Follow Us

11वें राउंड में 32 हजार वोटों से आगे भाजपाई, रिजल्ट आया तो सबकी आंखें खुली रह गईं

दिल्ली विधानसभा का रिजल्ट आ चुका है. आम आदमी पार्टी दिल्ली में तीसरी बार सरकार बनाने जा रही है. बीजेपी का स्टेटस सिंबल भी वही है. कांग्रेस ने भी अपना प्रदर्शन बरकरार रखा है. माने इस चुनाव के रिजल्ट में ज्यादा तिया पांचा नहीं था. लेकिन एक सीट पर हुई काउंटिंग का किस्सा गजबे है. सीट का नाम मुस्तफ़ाबाद. 2015 में बीजेपी ने जो तीन सीटें जीती थीं. उनमें से एक मुस्तफ़ाबाद की सीट भी थी.

इस कहानी के दो किरदार. पहले बीजेपी के जगदीश प्रधान. सिटिंग विधायक. दूसरे आम आदमी पार्टी के हाजी युनुस. भावी विधायक का तमगा लिए घूम रहे थे. जगदीश प्रधान और हाजी युनुस की पहली भिड़ंत 2015 के विधानसभा चुनाव में मुस्तफ़ाबाद सीट पर हुई थी. तब हाजी युनुस तीसरे नंबर पर रहे थे.

अब अगर आपको बताया जाए कि 11वें राउंड के बाद फलाना कैंडिडेट ढिकाने कैंडिडेट से 32 हजार वोटों से आगे चल रहा है, तो आपका रिएक्शन क्या होगा. यही न कि फलाने कैंडिडेट की जीत लगभग तय है. और विधानसभा चुनाव में तो ऐसी लीड डिसाइडिंग होती है. पर अब आपको बताएं कि जब नतीजे आए तो पता चला कि फलाना कैंडिडेट 21 हजार वोटों से चुनाव जीत गया तो. पूरे 53 हजार वोटों की उलटफेर.

ऐसा ही हुआ है. इसी मुस्तफाबाद सीट पर. कैसे. तनिक देख लेते हैं.

#11वें राउंड के बाद

जगदीश प्रधान – 52,904
हाजी युनुस – 20,840

बीजेपी खेमे में पटाखे फूटने की आवाज तेज हो गई थी. जगदीश प्रधान 32,064 वोटों से जो आगे चल रहे थे.

#14वें राउंड के बाद

जगदीश प्रधान – 61,643
हाजी युनुस – 33,035

जगदीश प्रधान 28,608 वोटों से आगे चल रहे हैं.

16वें राउंड की गिनती में जगदीश प्रधान को मिलते हैं 3578 वोट. हाजी युनुस को 3645.

और यहां से सिक्का पलटना शुरू होता है.

#17वां राउंड में हुआ ऐसा

इस राउंड में जगदीश प्रधान को मिले 589 वोट. हाजी युनुस के खाते में 7385 वोट. जगदीश प्रधान की लीड घटकर 19 हजार पर पहुंच जाती है. बीजेपी खेमे का शोर थोड़ा गिरता है.

#18वां राउंड

जगदीश प्रधान को मिलते हैं 2581 वोट. हाजी युनुस को 4858 वोट. जगदीश प्रधान की लीड और घटती है. उनकी लीड 16,847 पर पहुंचती है.

#19वां राउंड

इस राउंड में खेल और रोचक होता है. इस बार हाजी युनुस को 7904 वोट मिलते हैं. जगदीश प्रधान 36 वोट पर सिमट कर रह गए. जगदीश प्रधान की लीड और घटती है. लगभग 9 हजार.

#20वां राउंड

हाजी युनुस को 7326 वोट. जगदीश प्रधान को 29 वोट. जगदीश प्रधान की लीड गिरकर 1782 के आंकड़े पर पहुंच जाती है. बीजेपी खेमा सकते में आ जाता है.

#21वां राउंड

हाजी युनुस 6,838 वोट. जगदीश प्रधान को 35 वोट. अब लीड हाजी युनुस के पाले में पहुंच जाती है. 21 राउंड की गिनती के बाद हाजी युनुस पांच हजार से अधिक वोटों से आगे हो गए हैं. 11वें राउंड में 32 हजार से पीछे चलने वाले हाजी युनुस की चाल तेज हो गई है.

#22वां राउंड

हाजी युनुस को 6629 वोट. जगदीश प्रधान को 201 वोट. अब हाजी युनुस की लीड 11 हजार से ज्यादा की हो गई है.

#23वां राउंड

इस राउंड की गिनती में हाजी युनुस के खाते में 6878 वोट हैं. जगदीश प्रधान को मिलते हैं 5 वोट. हाजी युनुस की लीड बढ़कर 17 हजार की हो जाती है.

#24वां राउंड

हाजी युनुस को इस राउंड में 5666 वोट. जगदीश प्रधान को 1234 वोट. हाजी की लीड बढ़कर 21 हजार हो जाती है.

#25वां राउंड

जगदीश प्रधान वापसी करते हैं. लेकिन बहुत देर कर दी हुजूर आते-आते. जगदीश प्रधान को 4372 वोट. हाजी युनुस को 2881 वोट.

पूरे 26 राउंड्स तक चली गिनती के बाद. वोट का शेयर ऐसा रहा-

जगदीश प्रधान – 77,845 वोट.
हाजी युनुस – 98,681 वोट.

नतीजा- आम आदमी पार्टी के हाजी युनुस बीजेपी के जगदीश प्रधान से 20,836 वोटों से मुस्तफाबाद सीट का चुनाव जीत गए हैं.

हर एक राउंड के बाद कुल वोट कैसे-कैसे बदले,

राउंड दर राउंड किस कैंडिडेट को कितना वोट मिला. ये कहानी देखकर आपकी भी बुद्धि हिल गई ना. पर यही चुनाव है. यहां जो आखिर में जीता, वही सिकंदर. 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.