Submit your post

Follow Us

गांधीनगर: जिस सीट पर कांग्रेस उम्मीदवार कभी नहीं हारा, उस सीट का क्या हुआ?

सीट: गांधीनगर

प्रत्याशी:
नवीन चौधरी(दीपू), आम आदमी पार्टी

अनिल कुमार वाजपेयी, भारतीय जनता पार्टी

अरविंदर सिंह लवली, कांग्रेस पार्टी


गांधी नगर से बीजेपी के अनिल कुमार वाजपेयी ने आम आदमी पार्टी के नवीन चौधरी को 6079 वोटों से हराया. इस सीट पर कांग्रेस के अरविंदर सिंह लवली तीसरे नंबर पर रहे. 

Gandhi Nagar
गांधी नगर विधानसभा सीट के नतीजे. फोटो: ECI

गांधीनगर विधानसभा सीट, पूर्वी दिल्ली की वो विधानसभा सीट है. जो कि दिल्ली की एक बड़ी होलसेट मार्किट है. ये पूरा इलाका मार्किट से घिरा है. इस इलाके में बड़ी संख्या में पंजाबी वोटर भी हैं. और मुस्लिम वोटर भी इस इलाके में आते हैं. गांधीनगर मार्किट एरिया के अलावा सीलमपुर का भी एक बड़ा इलाका इस विधानसभा सीट में आता है. इस विधानसभा सीट पर लगभग 3.5 लाख वोटर हैं.

इस सीट से 2015 के विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी से अनिल कुमार वाजपेयी जीते थे. 2015 के चुनाव मे कांग्रेस के कद्दावर नेता अरविंदर सिंह लवली इस सीट पर मैदान में नहीं थे. लेकिन उससे पहले 2013 के चुनाव में लवली ने बीजेपी के आरसी जैन को हराकर इस सीट पर जीतने का रिकॉर्ड बनाया था. इससे पहले साल 2008 में भी लवली ने बीजेपी के कमल कुमार जैन को हराया था.

अरविंदर सिंह लवली साल 1998 में जीतकर दिल्ली के सबसे युवा एमएलए भी बने थे. कांग्रेस पार्टी में भीतरी कलह की वजह से वो 2015 के बाद कांग्रेस छोड़ बीजेपी में शामिल हो गए थे. लेकिन एक बार फिर से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़े. वहीं आम आदमी पार्टी से इस सीट के विधायक अनिल कुमार वाजपेयी ने चुनाव से पहले बीजेपी का दामन थाम लिया था.


दिल्ली चुनाव: कांग्रेस नेता अरविंदर सिंह लवली ने सोनिया गांधी और राहुल गांधी पर क्या कहा?

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.