Submit your post

Follow Us

विश्वास नगर: लगातार तीसरी बार जीते बीजेपी के ओम प्रकाश शर्मा

सीट: विश्वास नगर

प्रत्याशी:

दीपक सिंगला, आम आदमी पार्टी

ओम प्रकाश शर्मा, भारतीय जनता पार्टी

गुरुचरण सिंह राजू, कांग्रेस पार्टी


विश्वास नगर से बीजेपी के ओ.पी. शर्मा ने 16457 वोटों से आम आदमी पार्टी के दीपक सिंगला को हराया.

Vishwas Nagar
विश्वास नगर विधानसभा सीट के नतीजे. फोटो: ECI

विश्वास नगर विधानसभा सीट, पूर्वी दिल्ली की वो विधानसभा सीट है. जिसे 2015 में आम आदमी पार्टी की आंधी में भी बीजेपी ने जीत लिया था. बीजेपी के जीतने वाले तीन उम्मीदवारों में से एक ओम प्रकाश शर्मा 2015 में इस सीट से जीते थे. 2015 की ही नहीं 2013 में भी ओम प्रकाश ने इस सीट को अपने कब्ज़े में किया था. 2015 में उन्होंने आप के अतुल गुप्ता को हराया था. जबकि 2013 में उन्होंने कांग्रेस के नसीब सिंह को इस सीट पर 7000 वोटों से हराया था. 2008 में इस सीट पर नसीब सिंह का कब्ज़ा था, जिन्होंने ओम प्रकाश को हराकर ये सीट जीती थी.

ईस्ट दिल्ली की इस विधानसभा सीट में बड़े स्तर पर इंडस्ट्रियल एरिया भी है. जिसकी वजह से एअर पोल्यूशन की समस्या भी है. हाल ही में नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने दिल्ली सरकार को निर्देश दिया था कि इन फैक्ट्रियों पर तुरंत पाबंदी लगाई जाए. जिसकी वजह से इस इलाके में कई फैक्ट्री सील की गईं.

ये सीट इसलिए भी दिलचस्प है क्योंकि इस सीट पर बीजेपी और आम आदमी पार्टी दोनों ने मिठाई वाले उम्मीदवारों को उतारा है.


दिल्ली चुनाव: BJP कैंडिडेट ओपी शर्मा ने कपिल मिश्रा के भारत-पाकिस्तान वाले बयान पर क्या कहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.