Submit your post

Follow Us

आम आदमी पार्टी की ओर से खुद को मुस्लिम बताए जाने पर क्या बोले हंस राज हंस?

दिल्ली की एक लोकसभा सीट है उत्तर पश्चिम. ये सीट सुरक्षित है और इस पर अनुसूचित जाति का ही उम्मीदवार चुनाव लड़ सकता है. बीजेपी ने इस सीट से सूफी गायक हंस राज हंस को अपना उम्मीदवार बनाया है. इसके बाद से ही आम आदमी पार्टी ने हंस राज हंस को लेकर मोर्चा खोल दिया है. आम आदमी पार्टी का दावा है कि हंस राज हंस दलित नहीं, बल्कि मुस्लिम हैं और इसलिए उनकी उम्मीदवारी रद कर देनी चाहिए. आप नेता राजेंद्र पाल गौतम ने इस मामले को लेकर कई ट्वीट किए हैं-

2014 की मीडिया खबरों के अनुसार हंस राज हंस ने इस्लाम कबूल कर लिया था और अब नॉर्थ वेस्ट दिल्ली लोकसभा से भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं. यह संसदीय सीट अनुसूचित जाति के लिए सुरक्षित है और केवल एससी ही इस सीट पर चुनाव लड़ सकता है. कानूनी तौर पर यह मामला अभी संसद में लंबित है कि ऐसे लोगों को एससी का दर्जा व लाभ मिलता रहना चाहिए या नहीं.

राजेंद्र पाल गौतम के इस ट्वीट को दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने रीट्वीट करते हुए लिखा,

हंसराज हंस सुरक्षित सीट से चुनाव लड़ने के योग्य नहीं हैं. अंत में वह अयोग्य करार दिए जाएंगे. उत्तर पश्चिम दिल्ली के मतदाताओं को उन्हें वोट देकर अपना कीमती वोट बर्बाद नहीं करना चाहिए.

 

आम आदमी पार्टी के आरोपों का जवाब खुद हंस राज हंस ने है.  दी लल्लनटॉप से बातचीत में उन्होंने आम आदमी पार्टी और केजरीवाल पर झूठ बोलने का आरोप लगाया. हंस राज हंस ने कहा-

जब कहीं भी इलेक्शन होता है, अरविंद केजरीवाल झूठे इल्जाम लगाने लगते हैं. ये उनकी आदत है. बाद में इलेक्शन खत्म होते ही माफी मांग लेते हैं. केजरीवाल को ये नहीं पता वाल्मीकि कौन हैं. मैं वाल्मीकि सफाई कर्मचारी यूनियन का चेयरमैन भी हूं. वाल्मीकि अमृतसर ट्रस्ट का वाइसचेयरमैन भी हूं. सारे संतों ने मुझे वाल्मीकि समाज का बच्चा घोषित किया हुआ है. मैं जन्मजात वाल्मीकि हूं. मैंने एफिडेविट दिया है. हम अरविंद केजरीवाल के खिलाफ मानहानि का केस करेंगे. सारी कौम केस करेगी. केजरीवाल मेरे गुरु वाल्मीकिजी की तौहीन कर रहे हैं. मेरे समाज का और मेरे गुरु का अपमान कर रहे हैं. सिर्फ एक सीट के लिए इतना बड़ा झूठ बोल रहे हैं.

कहां से सामने आई ऐसी खबर?  

2014 में पाकिस्‍तानी मीडिया ने दावा किया था कि हंस राज हंस ने इस्‍लाम कबूल कर लिया है. ‘पाकिस्‍तान अफेयर्स’ और ‘यू न्‍यूज टीवी’ समेत कई वेबसाइटों ने दावा किया था कि कई दिनों से इस्‍लामिक साहित्‍य का अध्‍ययन कर रहे हंस राज की आस्‍था इस्‍लाम के मूल्‍यों के प्रति बढ़ी और उन्‍होंने यह धर्म कबूल कर लिया. इस खबर के आने के बाद बेटे नवराज हंस ने इसे बेबुनियाद करार दिया था.

आम आदमी पार्टी उसी खबर को आधार बनाकर हंस राज हंस के इस्लाम धर्म अपनाने की बात कह रही है. और आम आदमी पार्टी के नेता  राजेंद्र पाल गौतम कह रहे हैं कि बीजेपी के प्रत्याशी हंस राज हंस 20 फरवरी 2014 को धर्म परिवर्तन कर इस्लाम कबूल कर चुके हैं.


गोंडा: ‘सांसद कीर्तिवर्धन सिंह 5 साल में केवल चुनाव के समय ही नजर आते हैं’

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.