Submit your post

Follow Us

साध्वी के बाद मालेगांव धमाके के दो और आरोपी चुनाव लड़ेंगे, एक ने करकरे पर विवादित बयान भी दे डाला

मालेगांव धमाके के तीन आरोपी चुनावी मैदान में उतर चुके हैं. प्रज्ञा सिंह ठाकुर का नाम तो आपको पता ही है. इस लिस्ट में दो और नाम जुड़ गए हैं. ये नाम हैं रमेश उपाध्याय और सुधाकर चतुर्वेदी का. रमेश उपाध्याय ने अखिल हिंदू महासभा के टिकट पर बलिया सीट से पर्चा भरा है. वहीं सुधाकर चतुर्वेदी ने मिर्जापुर से अपनी उम्मीदवारी दाखिल की है.

रमेश उपाध्याय ने अखिल हिंदू महासभा के टिकट पर शुक्रवार को बलिया सीट से पर्चा भरा.
रमेश उपाध्याय ने अखिल हिंदू महासभा के टिकट पर शुक्रवार को बलिया सीट से पर्चा भरा.

अब आते हैं असली खबर पर. वो ये कि रमेश उपाध्याय ने शुक्रवार को पर्चा भरने के साथ ही एक विवादित बयान भी दे दिया है. उन्होंने हेमंत करकरे के ऊपर दिए गए प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयान का समर्थन किया. साथ ही हेमंत करकरे को नाकाबिल (inefficient) भी बताया. उन्होंने कहा:

हेमंत करकरे आतंकवादियों के हाथों मारे गए, ये उनकी नाकाबिलियत का सबसे बड़ा सबूत है. हेमंत करकरे ने साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर को नंगा करके पीटा. हम सभी को टॉर्चर किया. 12 में से 11 अभियुक्त ठीक से चल नहीं सकते हैं. प्रज्ञा सिंह ठाकुर वीलचेयर पर चलती हैं. ये इसका सबसे बड़ा सबूत है. उन्होंने करकरे को देशद्रोही कहकर ठीक किया. क्योंकि ये हमारा हक है.वे देशद्रोही थे या नहीं ये सरकार को तय करना है. और दूसरी तरफ कोई भी पुलिसकर्मी कहीं भी मरे वो शहीद नहीं कहलाता है. शहीद केवल स्वतंत्रता सेनानी और सैनिक होते हैं.

इससे पहले भोपाल से बीजेपी की उम्मीदवार प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने शहीद करकरे पर विवादित बयान दिया था. उन्होंने कहा था हेमंत करकरे उनकी शाप की वजह से मरे थे. क्योंकि उन्होंने उन्हें बहुत टॉर्चर किया था. उनके शाप देने के 5 हफ्ते के भीतर ही आतंकी हमले में करकरे शहीद हो गए.

रमेश उपाध्याय इससे पहले भी 2012 का विधानसभा चुनाव लड़ चुके हैं जिसमें उन्हें हार का सामना करना पड़ा था. इस बार बलिया लोकसभा सीट से उनका मुकाबला बीजेपी के वीरेंद्र सिंह से है. वहीं सुधाकर चतुर्वेदी मिर्जापुर से अनुप्रिया पटेल के खिलाफ चुनावी मैदान में हैं. दूसरी तरफ प्रज्ञा सिंह ठाकुर हैं जो बीजेपी के टिकट पर भोपाल से चुनाव लड़ रही है. उनका मुकाबला मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह से है.


लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

गुजरात चुनाव 2017

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

गुजरात और हिमाचल में सबसे बड़ी और जान अटका देने वाली जीतों के बारे में सुना?

एक-एक वोट कितना कीमती होता है, कोई इन प्रत्याशियों से पूछे.

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

गुजरात विधानसभा चुनाव के चार निष्कर्ष

बहुमत हासिल करने के बावजूद चुनाव के नतीजों से बीजेपी अंदर ही अंदर सकते में है.

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

गुजरात में AAP का क्या हुआ, जो 33 सीटों पर लड़ी थी!

अरविंद केजरीवाल का गुजरात में जादू चला या नहीं?

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

गुजरात चुनाव के बाद सुशील मोदी को खुला खत

चुनाव के नतीजे आने के बाद भी लिचड़ई नहीं छोड़ रहे.

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इस चुनाव में राहुल और हार्दिक से ज्यादा अफसोस इन सात लोगों को हुआ है

इन लोगों ने थोड़ी मेहनत और की होती, तो ये गुजरात की विधानसभा में बैठने की तैयारी कर रहे होते.

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

राहुल गांधी ने चुनाव में हार के बाद ये 8 बातें बोली हैं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की क्रेडिबिलिटी पर ही सवाल खड़े कर दिए.

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

गुजरात में हारे कांग्रेस के वो बड़े नेता जिन पर राहुल गांधी को बहुत भरोसा था

इनके बारे में कांग्रेस पार्टी ने बड़े-बड़े प्लान बनाए होंगे.

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

बीजेपी के वो 8 बड़े नेता जो गुजरात चुनाव में हार गए

इनको प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सभाएं और तमाम टोटके नहीं जिता सके.

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुजरात और हिमाचल प्रदेश में जीत के बाद ये 5 बातें कहीं

दोनों प्रदेशों में भगवा लहराया मगर गुजरात की जीत पर भावुक दिखे पीएम.

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

ये सीट जीतकर कांग्रेस ने शंकरसिंह वाघेला से बदला ले लिया है

वाघेला ने इस सीट पर एक निर्दलीय प्रतायशी को वॉकओवर दिया था.