Submit your post

Follow Us

हम यूट्यूब से नयी चीजें बनाना सीख रहे हैं, उन्हें भी देखें जिनके पास पुराने अन्न का एक दाना नहीं

गौरव सोलंकी
गौरव सोलंकी

गौरव सोलंकी IIT रुड़की से पढ़कर इंजीनियर हुए, लेकिन मन किस्सों-कहानियों और कविताओं में रमा रहा. हिंदी के चर्चित युवा कवियों और कहानीकारों में उनकी गिनती होती है. उनकी कविताओं का शिल्प खुरदुरा है और कलेवर तीखा. सोशल टैबूज पर उनका लिखा पढ़ने लायक है. फिलहाल वह मुंबई में अपने लेखन को विस्तार दे रहे हैं.  ‘आर्टिकल 15’ की स्क्रिप्ट के लिए फ़िल्मफ़ेयर अवार्ड पा चुके हैं. उनका ये भावनात्मक गद्य जब हमने उनकी एफ़बी वॉल पर पढ़ा तो, मन बहुत देर तक अजीब सा रहा. आप भी पढ़िए. लेकिन उदासी से डर न लगता हो तो…


खाना

(डिस्फ़ंक्शनल समाज के हाथों हुई हत्याएं)

कल एक दोस्त ने बताया कि उसके फ़ोन पर एक अनजान नंबर से सिर्फ़ एक शब्द का मैसेज आया- ‘खाना’.

बांद्रा में 8 लोगों का एक मज़दूर परिवार था जिन्होंने पिछले 2 दिन में एक दाना भी नहीं खाया था. उसका नंबर उन्हें लोगों को खाना पहुंचा रहे एक ग्रुप के पेज से मिला. बड़ों को तो मैसेज करना भी नहीं आता था. आख़िर घर के एक बच्चे ने लिखा. सिर्फ़ एक शब्द- ‘खाना’.

कितना इंतज़ार किया होगा उन्होंने उससे पहले? कोई इंसान किस हाल से गुज़रता होगा जब वो अपने बच्चों को कहता है कि अब मैं तुम्हें खाना नहीं खिला सकता और अब मांगना है!

हम यूट्यूब से नई चीज़ें बनाना सीख रहे हैं. उनके पास पुराने अन्न का दाना तक नहीं. ये कैसी दुनिया बनाई है हमने जिसमें आदमी दस बारह साल की उमर से हाड़तोड़ काम करना शुरू कर देता है और मरते दम तक करता जाता है, पर इतना भी नहीं कमा पाता कि 20 दिन का एक्स्ट्रा चावल ख़रीद पाए!

ताकि सनद रहे!
ताकि सनद रहे!

ये जो मदद हम इस समय कर रहे हैं, ये मदद नहीं, दरअसल माफ़ी के लिए जुड़े हुए हाथ हैं – उनका हक़ है जिसे हमने जाने अनजाने अपने घरों में भर लिया है. हमने नहीं तो हम जैसे किसी और ने.

कभी-कभी मुझे लगता है कि हम सब एक एसी ट्रेन के डिब्बे में सफ़र कर रहे हैं, बाहर के ख़ूबसूरत जंगल देखते हुए, सेल्फ़ियां लेते और पोस्ट करते हुए. और पसीने से भीगे ये लोग उस ट्रेन के दरवाज़ों पर लटक रहे हैं. हर मोड़ पे हम कुछ नया देखकर रोमांच से भर आते हैं, चिल्लाते हैं. हर मोड़ पे उनमें से कुछ गिरते जाते हैं.

अख़बार में जिसे हादसा बताते हैं, वे एक डिस्फ़ंक्शनल समाज के हाथों हुई हत्याओं के निशान हैं.



वीडियो देखें:

कोरोना: ज्यादा टेस्ट करवाने को लेकर मोदी सरकार की रणनीति क्या है?-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

मधुबाला को खटका लगा हुआ था इस हीरोइन को दिलीप कुमार के साथ देखकर

एक्ट्रेस निम्मी के गुज़र जाने पर उनको याद करते हुए उनकी ज़िंदगी के कुछ किस्से

90000 डॉलर का कर्ज़ा उतारकर प्राइवेट जेट खरीद लिया था इस 'गैंबलर' ने

उस अमेरिकी सिंगर की अजीब दास्तां, जो बात करने के बजाए गाने में ज़्यादा कंफर्टेबल महसूस करता था

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.