Submit your post

Follow Us

मुबारक हो, हम लोगों ने बाहुबली-2 में भी धर्म घुसा दिया

43.46 K
शेयर्स

‘बाहुबली-2’ रिलीज़ हो गई है. जैसा कि अंदाज़ा लगाया जा रहा था बंपर हिट साबित हो रही है. लगता है अगले-पिछले सारे रिकॉर्ड तोड़ के ही दम लेगी. एक रीजनल भाषा की फिल्म के लिए पूरे देशभर में ये दीवानगी अद्भुत है. बरसों बाद ऐसा नज़ारा देखने मिल रहा है. लेकिन इसी के साथ फिर से वही स्यापा शुरू हो गया है, जो पहली वाली ‘बाहुबली’ के वक़्त था. बल्कि इस बार नया आयाम भी जोड़ दिया है भाइयों ने.

‘कट्टपा ने बाहुबली को क्यों मारा?’ इस सवाल से पूरा भारत पिछले डेढ़-पौने दो सालों से जूझ रहा है. अब जब इसका जवाब मिलने की घड़ी आ गई है, तो कई सारे लोग सोशल मीडिया पर इसके इर्द-गिर्द खेल रहे हैं. कोई सस्पेंस खोलने की धमकी दे रहा है, तो कोई मज़ाक में अजीब-अजीब वजहें बता रहा है. लेकिन क्यूटता की हद तब हो गई जब कुछ मासूम लोग इस मज़ाक को साज़िश बताने लगे हैं. किसी षड्यंत्र की बू सूंघने लगे हैं.

कई जगह पढ़ा कि ‘बाहुबली-2’ का सस्पेंस लोग जानबूझकर लीक कर रहे हैं, ताकि फिल्म फ्लॉप हो जाए. इसे देखने कम लोग पहुंचे. ये एक साज़िश है ताकि किसी ‘हिंदू’ हीरो की फिल्म ख़ानों से ज़्यादा कमाई न कर पाए. हिंदू संस्कृति का प्रचार-प्रसार करती फिल्म को नुकसान हो. मैं हतप्रभ हूं. आती कहां से है इतनी मासूमियत! जनरेट कैसे होती है ये उलूकता?

bahubalivid

जब ‘बाहुबली-1’ आई थी तब भी ऐसी ही बातों से पूरा सोशल मीडिया पाट दिया था भाई लोगों ने. ‘बाहुबली’ वर्सेस ‘पीके’ का मैच करवा दिया था. एक जुमला आम हो गया था उस वक़्त. हिंदू धर्म का अपमान किए बगैर भी कोई फिल्म बनाई जा सकती है. करोड़ों रुपए कमा सकती है. ये सीधा पीके पर कटाक्ष था. ‘बाहुबली’ ने कंधे पर शिवलिंग नहीं उठाया था, बल्कि हिंदू संस्कृति को उठा लिया था. जो कि इतनी कमज़ोर थी कि उसे एक फिल्म के अलावा और कोई बचा ही नहीं सकता था.

हिंदू संस्कृति की रक्षा महज़ इस सीन भर से हो गई.

ऐसा ही कुछ-कुछ ‘बजरंगी भाईजान’ के वक़्त भी हुआ था. कुछ मौलवियों ने गुहार लगाई थी कि बजरंगी बने भाईजान को नहीं देखें मुसलमान. वहीं कुछ सनातन प्रेम में सराबोर भाई लोग नारा बुलंद किए थे कि इस ईद पर जय हनुमान का नारा बुलंद करवाना हो तो फिल्म ज़रूर देखें. दोनों ही तरफ के लोग बिना कहानी जाने फतवे दे रहे थे. स्क्रीन शॉट नहीं लगा रहे हैं. फेसबुक, ट्विटर पर एक्टिव बंदों का ये सब देखा भाला होगा.

'पीके' के इस सीन से ही शिवजी की इज्ज़त कम हुई थी जिसे 'बाहुबली' ने अपना कंधा दे के फिर से प्रतिस्थापित किया.
बताया गया ‘पीके’ के इस सीन से ही शिवजी का अपमान हुआ था, जिसे ‘बाहुबली’ ने अपना कंधा दे के फिर से प्रतिस्थापित किया.

ऐसे वक़्त मैं तल्ख़ होने से बचना चाहता हूं, लेकिन कामयाब नहीं हो पाता. पिछले कुछ सालों से समूचे भारत में एक ट्रेंड सा चल पड़ा है. हर चीज़ को धर्म से जोड़ कर देखा जाने लगा है. फिल्मों के मामले में तो ये और भी बड़े लेवल पर होने लगा है. आमिर की फिल्म का बॉयकाट करो, शाहरुख़ की फिल्म मत देखो, बाहुबली के खिलाफ़ साजिश है ये सब बातें ऐसी हैं जिनसे चिढ़ उपजने लगी है. एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री जो कुछ भी आपको परोसती है उसका विशुद्ध मकसद कारोबार ही होता है. ‘बाहुबली’ हो या ‘पीके’, किसी के पीछे कोई हिडन एजेंडा काम नहीं करता. इतना खलिहर कोई नहीं कि फिल्मों में एजेंडा घुसेड़ता फिरे. ये तो आप-हम हैं जो नफरतों के फ्लैग बेयरर बनने के लिए मरे जाते हैं.

अजीब मुल्क है हमारा. हम आने वाले हजार-पांच सौ सालों में भी एक बेहतर समाज नहीं बनने वाले. पाखण्ड, ढोंग, हिप्पोक्रिसी तो हमारी रग-रग में खून बन कर दौड़ रही है. हम नेताओं पर, रहनुमाओं पर सारा दोष मंढ़ कर खुद को हर तरह के नैतिक दायित्व से मुक्त कर लेते हैं. शायद इससे सुकून की नींद आ जाती होगी. नेता लड़ाते हैं जी हमें! वरना हम तो इतने भले मानस हैं कि धार्मिक/जातीय/आर्थिक आधार पर कभी किसी को नहीं परखते. भक!! हम इतना तंगदिल, तंगनज़र समाज हैं कि हमें नफरतों के दरिया बहाने के लिए किसी मुखिया की रहनुमाई की कतई ज़रूरत नहीं. ये काम हम खुद ही बाखूबी कर लेते हैं.

मनोरंजन के लिए बनाई गई फिल्मों को भी हम नफरतें फैलाने का टूल बना लेते हैं. इतने प्रतिभाशाली मुल्क में जो न हो जाए थोड़ा है! इस अद्वितीय टैलेंट को सलाम है.

‘बाहुबली 2’ का लल्लनटॉप रीव्यू:


ये भी पढ़ें:

फिल्म रिव्यू बाहुबली 2 – जय माहिष्मती!

बहुत हुई बकैती, जानिए कटप्पा ने बाहुबली को क्यों मारा

बाहुबली-2 लीक हो गई है!

बाहुबली-2 का सबसे पहला रिव्यू

बाहुबली-2 के विजुअल्स को और मजेदार बनाने वाले इस इंसान से मिलिए

बाहुबली-2 के हिंदी गाने आ गए हैं, फिल्म का आधा सुख यहीं है!

बाहुबली ने उस कैटेगरी में भी रिकॉर्ड तोड़े हैं, जिसमें हमने सोचा तक नहीं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
with Baahubali 2 release hate mongers are back

कौन हो तुम

चिन्नास्वामी स्टेडियम में हुई वो घटना जो आज भी इंडिया-पाकिस्तान WC मैच की सबसे करारी याद है

जब आमिर सोहेल की दिखाई उंगली के जवाब में वेंकी ने उन्हें उनकी जगह दिखाई थी.

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

14 मार्च को बड्डे होता है. ये तो सब जानते हैं, और क्या जानते हो आके बताओ. अरे आओ तो.

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

आज आमिर खान का हैप्पी बड्डे है. कित्ता मालूम है उनके बारे में?

चेक करो अनुपम खेर पर अपना ज्ञान और टॉलरेंस लेवल

अनुपम खेर को ट्विटर और व्हाट्सऐप वीडियो के अलावा भी ध्यान से देखा है तो ये क्विज खेलो.

Quiz: आप भोले बाबा के कितने बड़े भक्त हो

भगवान शंकर के बारे में इन सवालों का जवाब दे लिया तो समझो गंगा नहा लिया

आजादी का फायदा उठाओ, रिपब्लिक इंडिया के बारे में बताओ

रिपब्लिक डे से लेकर 15 अगस्त तक. कई सवाल हैं, क्या आपको जवाब मालूम हैं? आइए, दीजिए जरा..

जानते हो ह्रतिक रोशन की पहली कमाई कितनी थी?

सलमान ने ऐसा क्या कह दिया था, जिससे हृतिक हो गए थे नाराज़? क्विज़ खेल लो. जान लो.

राजेश खन्ना ने किस हीरो के खिलाफ चुनाव लड़ा और जीता था?

राजेश खन्ना के कितने बड़े फैन हो, ये क्विज खेलो तो पता चलेगा.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

फवाद पर ये क्विज खेलना राष्ट्रद्रोह नहीं है

फवाद खान के बर्थडे पर सपेसल.