Submit your post

Follow Us

क्या 'शिवाय' पीछे कर देगी 'ऐ दिल है मुश्किल' को?

शिवाय! ऐ दिल है मुश्किल! दो फिल्में. खूब बातें. दोनों के फैन्स. दोनों के बारे में बातें. दोनों की लड़ाई. सब चल रहा है. शुरुआत में ऐ दिल है मुश्किल आगे चल रही है. कमाई के मामले में. फ़िल्म दोनों ही न बनती तो अच्छा रहता. सर दर्द भी नहीं होता और इतना बवाल भी न उठता. आइरनी यही है कि यहां लड़ाई दो बेकार फिल्मों के बीच चल रही है. बात चल रही है उनकी कमाई की. और बात तब चल रही है जब ये डिक्लेयर किया जा चुका है कि फिल्में कुछ खास नहीं हैं. खैर.

अजय देवगन ने बड़े अरमानों से फिल्म बनाई शिवाय. उतने ही जातां के साथ रिलीज़ ह्युई ऐ दिल है मुश्किल. फिल्म में फ़वाद खान था. फवाद खान कितना भी खूबसूरत हो, पाकिस्तानी है. फिल्म के खिलाफ़ विरोध हुआ. देश की संप्रभुता को सबसे बड़ा खतरा एक दाढ़ी रखे, लड़कियों के प्यारे, जलकुकड़ों की आंखों के नासूर फवाद खान से था. उससे भी नहीं, उसके एक फिल्म में होने से था. उस फिल्म की रिलीज़ से था. अजय देवगन उसी वक़्त शिवाय के प्रमोशन के लिये सेना के पास पहुंच गए. वहां भावुक भी हो गए. मसाला मिल गया. चैनलों ने खूब घसीटा. मज़ा आगा गया.

फ़िल्में दिवाली के दो दिन पहले रिलीज़ हुईं. ऐन धनतेरस के दिन. लिहाज़ा भीड़ अपेक्षा से कम पहुंची. कहने लगे कि साहब दिवाली बीतने दो. फिर देखो. मगर इन तीन दिनों में शिवाय से आगे रही ऐ दिल है मुश्किल. तब जबकि खेमे देशभक्त शिवाय और गद्दार ऐ दिल है मुश्किल के बीच बंट गया था, ‘गद्दारों की टोली’ जीत रही थी. 5 करोड़ की रंगदारी को निकाल दें तब भी. मैं हमेशा ही उन पांच करोड़ रुपयों को संज्ञान में ले लेता हूं. ऐ दिल है मुश्किल की कुल कमाई में से उसे निकाल फेंकता हूं. उसके बावजूद करन जौहर आगे हैं देवगन से.

Shivaay Earning (2)

ADHM earning

इसपर शिवाय समर्थक कहने लगे कि देवगन के फैन्स दिवाली मनाने में मशगूल थे. उन्हें घर के जाले साफ़ करने थे. पर्दे धुलवाने थे. मम्मी के काम में हाथ बंटाना था. पापा की भी हेल्प करनी थी. भारी वाले काम पापा करते हैं. मम्मी तो बात-बात पर सब्जी काटने को कह देती हैं.

लिहाज़ा सोमवार के नतीजों का इंतज़ार था. ये वो दिन था जब हर आदमी खलिहर ही बैठता है. अगर सुबह उठकर दिवाली की रात के पटाखों का धुआं न सूंघा हो तो दोपहर में उठकर फिल्म देखने का प्लान बना लेता है. कईयों ने बनाया भी. मुझे खुद को 3 लोगों ने पूछा कौन सी देखि जाए. हमने जवाब नहीं दिया. जवाब देने की स्थिति में नहीं थे. गाली पदनी तय थी, चाहे कोई भी ऑप्शन चुन्ने को कह देते.

खैर, सोमवार की कुल कमाई सामने आई है. देखा जाए:

ADHM Monday

Shivaay earning

सोमवार को, हर रोज़ आगे रहने वाली ऐ दिल है मुश्किल, शिवाय के बराबर आ गयी. ये शिवाय के लिए बहुत बड़ा बूस्ट था. बहुत बहुत बड़ा. शिवाय की सबसे बड़ी कमाई वाला दिन था शुक्रवार. उस दिन 10.24 करोड़ मिले थे. सोमवार को 17.35 करोड़. ये डेढ़ गुने से भी अधिक था. वहीं ऐ दिल है मुश्किल अपने पेस से बढ़ रही है.

शिवाय को देखने वाले लोग सिंगल स्क्रीन में ज़्यादा पाए जा रहे हैं. वहीं ऐ दिल है मुश्किल कॉर्पोरेट वर्ग और मल्टीप्लेक्स जाने वाली जनता को ज़्यादा रास आ रही है. रास क्या, प्रेफरेंस की बातें होती हैं.

लेकिन शिवाय एक बात न भूले. ऐ दिल है मुश्किल की इंटरनेशनल मार्केट भी है. जिसमें उसे इतने पैसे मिल चुके हैं जितने शिवाय ने देश में कुल कमाई की है. इस मामले में ऐ दिल है मुश्किल आगे बढ़ रही है. देखना ये होगा कि क्या शिवाय के लिए दिवाली के बाद बढ़ रही भीड़ आने वाले दिनों में उसी स्पीड से बढ़ रही होगी?

ADHM international


 

ये भी पढ़ें:

‘ऐ दिल है मुश्किल’ के इस डायलॉग की वजह से गरियाए गए करण जौहर

‘शिवाय’ vs ‘ऐ दिल है मुश्किल’ की लड़ाई का नतीजा आ गया है

फिल्म रिव्यू – शिवाय : न ही शून्य और न ही इकाई, मुझको देओ सर दर्द की दवाई

‘ऐ दिल है मुश्किल’ का ‘पेड रिव्यू’ ले आए हैं, गालियां देने यहां पधारें

मैं ‘ऐ दिल है मुश्किल’ देखने नहीं जाऊंगी

ईलू-ईलू करने वालों के बीच बहुत फेमस हैं ये क्यूटी पाई टाइप शब्द

करण जौहर के 5 करोड़ से पहले सेना के इस फंड का क्या हाल है, जान लीजिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.