Submit your post

Follow Us

प्याज फिर से क्यों रुला रहा है, क्या कर रही है सरकार

घर-गृहस्थी के चतुर लिंगम हर साल नवरात्रि के मौके पर एक खास खरीदारी करते हैं. चूंकि व्रत की वजह से प्याज सस्ते हो जाते हैं, इसलिए दो-तीन हफ्ते का स्टॉक खरीदकर घर में रखने की जुगत लगाते हैं. लेकिन इस बार प्याज ने रिवर्स स्विंग लिया है. न नवरात्रि में सस्ता हुआ है, न ही इसकी होलसेल कीमतें नीचे आने का नाम ले रही हैं. आखिर क्या है प्याज की ये गुगली, जो लोगों को आंखों से पानी निकाल रही है?

आलू-टमाटर से कंपिटीशन में प्याज फर्राटा

सब्जी मार्केट में आलू ने पहले ही हालत खराब कर रखी थी. टमाटर अलग से लाल हुआ पड़ा है. जहां आलू 50 रुपये किलो तक बिक रहा है, वहीं टमाटर की खुदरा कीमत 60 रुपए किलो से ऊपर निकल गई है. ऐसे में प्याज क्यों कम रहता. कई जगह 100 रुपये प्रति किलो का आंकड़ा भी पार कर लिया है. मुंबई और पुण में प्याज के दाम 100 रुपये से ऊपर जा चुके हैं.

प्याज की ‘महामंडी’ नासिक का क्या है हाल

नासिक में प्याज का सबसे बड़ा लासलगांव होलसेल मार्केट है. मार्केट क्या, ‘महामार्केट’ कहिए. देश में महाराष्ट्र में प्याज सबसे ज्यादा पैदा होता है. सिर्फ नासिक में ही पूरे महाराष्ट्र का करीब 60 फीसदी प्याज उगाया जाता है. ऐसे में लालसगांव की प्याज मंडी में हर क्वॉलिटी और किस्म का प्याज जमा होता है. यहां से प्याज दूसरे प्रदेशों में जाता है. ऐसे में इस मार्केट में प्याज का रेट जितना काबू में रहता है, उसी हिसाब से पूरे देश को सस्ता प्याज मिलता है. इस सीजन में हालात इतने खराब हैं कि खुद नासिक के रिटेल मार्केट में प्याज 80 रुपये प्रति किलो बिक रहा है. महाराष्ट्र के ही पुणे और मुंबई में प्याज 100 से 120 रुपए किलो तक बिक रहा है. ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि दूसरे प्रदेशों में मालभाड़ा लगाकर प्याज की कीमतें कितनी ऊपर चढ़ सकती हैं.

प्याज की बड़ी मंडियों में भी रेट आसमान छू रहे हैं, इस वजह से खुदरा रेट ऊपर जा रहे हैं. (फाइल फोटो)
प्याज की बड़ी मंडियों में भी रेट आसमान छू रहे हैं, इस वजह से खुदरा रेट ऊपर जा रहे हैं. (फाइल फोटो)

क्यों बढ़ रहे हैं प्याज के दाम

मार्कट में हर चीज की तरह प्याज का रेट भी डिमांड-सप्लाई पर चलता है. होलसेल मंडी में जितनी अधिक प्याज की सप्लाई रहेगी, उतना सस्ता प्याज खुदरा मंडियों में पहुंचेगा और खुदरा रेट पर आम लोग खरीद सकेंगे. प्याज की सप्लाई में आई गिरावट की वजह से प्याज के दाम तेजी से बढ़ रहे हैं.

रिपोर्ट के अनुसार, पुणे के बाजार में प्याज की आवक लगभग आधी हो चुकी है, जिसके चलते दाम बढ़ रहे हैं. अभी प्याज की नई फसल आने में काफी वक्त है, तो प्याज और भी महंगा हो सकता है. लासलगांव मंडी के अनुसार, पिछले दो महीने में प्याज की सप्लाई करीब 70 फीसदी गिरी है. अगस्त में जहां हर रोज 22 हजार क्विंटल प्याज आता था, अक्टूबर में यह महज सात हजार क्विंटल रहा है. इस कमी के पीछे का कारण मुंबई में हुई बारिश को बताया जा रहा है. इसकी वजह से खरीफ की 50 फीसदी और खरीफ में देर से होने वाली प्याज की फसल को बारिश से भारी नुकसान हुआ है.

कन्सॉर्टियम ऑफ इंडियन फार्मर्स एसोसिएशंस के एडवाइजर पी. चंगल रेड्डी के अनुसार-

आलू और प्याज देश के सीमित भाग में होते हैं, लेकिन इनका इस्तेमाल करने वाले पूरे देश में हैं. ऐसे में अगर उन खास जगहों पर कोई दिक्कत होती है, तो उसका असर पूरे देश पर पड़ता है. कोविड में इंफ्रास्ट्रक्चर और स्टोरेज की दिक्कत बढ़ गई. इसके अलावा कुछ इलाकों में भारी बारिश भी हुई. आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और महाराष्ट्र को बारिश से काफी नुकसान उठाना पड़ा है. यही कारण है कि पूरे देश मे प्याज और आलू का रेट काफी चढ़ा हुआ है.

 

सरकार क्या कर रही है

21 अक्टूबर, बुधवार को सरकार हरकत में आई और आनन-फानन में विदेशों से प्याज मंगाने की अनुमति दे दी गई. खाद्य मंंत्रालय के अनुसार, प्याज के दाम में अगस्त 2020 से ही तेजी देखी जा रही है. हालांकि तेज बढ़त पिछले 10 दिनों में ही देखने को मिली है. यह बढ़त पिछले साल के मुकाबते 12 फीसदी ज्यादा है.

प्याज के आयात को आसान बनाने के लिए सरकार ने 21 अक्टूबर को इसकी शर्तें नरम कर दी हैं. यह अवधि 15 दिसंबर, 2020 तक के लिए बढ़ा दी गई है. इसके साथ ही सरकार ने भारतीय हाई कमीशन को भी निर्देश दिए हैं कि उन देशों से संपर्क करें और प्याज के आयात को आसान बनाएं. मिनिस्ट्री का यह भी कहना है कि सभी आयातकों से एक अंडरटेकिंग ली जाएगी, जिसमें उन्हें यह लिखकर देना होगा कि आयात किए गए प्याज को आम लोगों के लिए मंडी में उपलब्ध कराना होगा. इसे आगे के लिए जमा नहीं किया जा सकेगा.

इसके अलावा शुक्रवार को सरकार ने जमाखोरी रोकने के लिए खास इंतजाम के तहत प्याज को स्टॉक करने की लिमिट तय कर दी. यह फैसला सरकार ने आवश्यक वस्तु अधिनियम के तहत लिया है. अब रिटेलर 2 टन और होलसेलर 25 टन से ज्यादा प्याज स्टॉक नहीं कर सकेंगे. यह लिमिट 31 दिसंबर 2020 तक के लिए तय की गई है.

फिलहाल सरकार ने दूसरे देशों को प्याज निर्यात करने पर 14 सितंबर 20202 से बैन लगा रखा है.

नई फसल आने तक प्याज की कीमतों में तेजी देखने को मिल सकती है.
थोक मंडियों में भी प्याज के दाम आसमान छू रहे हैं

 

इधर प्याज पर शुरू हो चुका है सोशल सियापा

इधर प्याज का भाव बढ़ा, तो सोशल मीडिया पर लोगों ने सियापा करना शुरू कर दिया. तरह-तरह के मीम और कमेंट देखने को मिले. बानगी पेश है.

प्याज-आलू-टमाटर की तिकड़ी के अलावा हरी सब्जियां भी रिटेल बाजार में काफी महंगी बिक रही हैं. इनकी कीमत 60 रुपये से 200 रुपये किलो तक हो गई है. मुंबई के रिटेल बाजार में हरा मटर 200 रुपये प्रति किलो तक जा पहुंचा है, जबकि दिल्ली में यह फिलहाल 100-120 रुपए किलो तक बिक रहा है. ऐसे में त्योहार के सीजन में सब्जी मंडी की सैर जेब हल्की कर रही है.


वीडियो – साहिब सिंह वर्मा: दिल्ली का वो मुख्यमंत्री जिसे प्याज की बढ़ती कीमतों की वजह से कुर्सी छोड़नी पड़ी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

क्विज़: नुसरत फतेह अली खान को दिल से सुना है, तो इन सवालों का जवाब दो

क्विज़: नुसरत फतेह अली खान को दिल से सुना है, तो इन सवालों का जवाब दो

आज बड्डे है.

ये क्विज जीत नहीं पाए तो तुम्हारा बचपन बेकार गया

ये क्विज जीत नहीं पाए तो तुम्हारा बचपन बेकार गया

आज कार्टून नेटवर्क का हैपी बड्डे है.

रणबीर कपूर की मम्मी उन्हें किस नाम से बुलाती हैं?

रणबीर कपूर की मम्मी उन्हें किस नाम से बुलाती हैं?

आज यानी 28 सितंबर को उनका जन्मदिन होता है. खेलिए क्विज.

करीना कपूर के फैन हो तो इ वाला क्विज खेल के दिखाओ जरा

करीना कपूर के फैन हो तो इ वाला क्विज खेल के दिखाओ जरा

बेबो वो बेबो. क्विज उसकी खेलो. सवाल हम लिख लाए. गलत जवाब देकर डांट झेलो.

रवनीत सिंह बिट्टू, कांग्रेस का वो सांसद जिसने एक केंद्रीय मंत्री के इस्तीफे का प्लॉट तैयार कर दिया!

रवनीत सिंह बिट्टू, कांग्रेस का वो सांसद जिसने एक केंद्रीय मंत्री के इस्तीफे का प्लॉट तैयार कर दिया!

17 सितंबर को किसानों के मुद्दे पर बिट्टू ऐसा बोल गए कि सियासत में हलचल मच गई.

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो उनको कितना जानते हो मितरों

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो उनको कितना जानते हो मितरों

अच्छे नंबर चइये कि नइ चइये?

KBC में करोड़पति बनाने वाले इन सवालों का जवाब जानते हो कि नहीं, यहां चेक कर लो

KBC में करोड़पति बनाने वाले इन सवालों का जवाब जानते हो कि नहीं, यहां चेक कर लो

करोड़पति बनने का हुनर चेक कल्लो.

विधायक विजय मिश्रा, जिन्हें यूपी पुलिस लाने लगी तो बेटियां बोलीं- गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए

विधायक विजय मिश्रा, जिन्हें यूपी पुलिस लाने लगी तो बेटियां बोलीं- गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए

चलिए, विधायक जी की कन्नी-काटी जानते हैं.

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

कभी सोचा नहीं होगा कि लल्लन साड़ियों पर भी क्विज बना सकता है. खेलो औऱ स्कोर करो.

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़. अपना ज्ञान यहां चेक कल्लो!