Submit your post

Follow Us

अफगानिस्तान की जमीन छोड़ने वाले आखिरी अमेरिकी सैनिक के बारे में जानते हैं?

अमेरिका ने अफगानिस्तान की जमीन को अलविदा कह दिया. सोमवार 30 अगस्त की रात को उसने अपने आखिरी सैनिक की घरवापसी करा दी. ये थे अमेरिकी सैन्य अधिकारी क्रिस्टोफर डॉन्ह्यू. बीती रात जब अमेरिकी सेना का विमान टेकऑफ करने को था, तब क्रिस्टोफर डॉन्ह्यू अफगानिस्तान की जमीन पर आखिरी अमेरिकी सैनिक के तौर पर मौजूद थे. उस समय की उनकी एक तस्वीर इतिहास का हिस्सा बन गई है और सोशल मीडिया पर वायरल है. लोग जानना चाह रहे हैं कि आखिर क्रिस्टोफर डॉन्ह्यू कौन हैं.

कौन हैं क्रिस डॉन्ह्यू?

अमेरिकी सेना में मेजर जनरल हैं. क्रिस डॉनह्यू को इसी महीने काबुल एयरपोर्ट की सुरक्षा में तैनात किया गया था. 31 अगस्त की तय समयसीमा से पहले सभी अमेरिकी सैनिकों को सुरक्षित निकालने के लिए. क्रिस डॉन्ह्यू इस इवैक्युएशन मिशन को लीड कर रहे थे. इसलिए सभी अमेरिकी सैनिकों को विमान में पहुंचाने से पहले वे खुद काबुल एयरपोर्ट पर मौजूद रहे. उनके भी विमान में चढ़ने के बाद काबुल एयरपोर्ट पर पूरी तरह तालिबानी लड़ाकों का कब्ज़ा हो गया है.

13 अगस्त 1961 को जन्मे क्रिस का पूरा नाम क्रिस्टोफ़र टॉड डॉन्ह्यू है. अमेरिकी सेना की वेबसाइट के मुताबिक़, 1992 में यूनाइटेड स्टेट्स मिलिट्री अकादमी से ग्रेजुएशन करने के बाद क्रिस ने इन्फेंट्री ब्रांच में सेकंड लेफ्टिनेंट के पद पर काम करना शुरू किया.

बतौर सैन्य अधिकारी डॉन्ह्यू कोरिया, लूसियाना और जॉर्जिया में प्लाटून कमांडर रहे. प्रमोशन के बाद कैप्टन बने और पनामा में बतौर राइफल कंपनी कमांडर काम किया. इसके बाद क्रिस वाशिंगटन आ गए. यहां पेंटागन में जॉइंट चीफ ऑफ स्टाफ के चेयरमैन के स्पेशल असिस्टेंट रहे. इसके बाद भी यूएस आर्मी में अलग-अलग जगहों और पदों पर क्रिस की तैनाती रही. फ़िलवक्त क्रिस डॉन्ह्यू यूएस आर्मी में टू-स्टार जनरल हैं और 82वीं एयरबोर्न डिवीजन के कमांडिंग ऑफिसर हैं.

Christopher Donahue
क्रिस्टोफर डॉन्ह्यू. (तस्वीर- Twitter@@travisakers से साभार)

क्रिस डॉन्ह्यू को अफगानिस्तान, इराक, सीरिया, उत्तरी अफ्रीका और पूर्वी यूरोप में अमेरिकी ऑपरेशन्स की निगरानी के लिए कुल 17 बार तैनात किया जा चुका है. अफ़गानिस्तान में मिलिट्री ऑपरेशन में भागीदारी के लिए क्रिस को अफगानिस्तान कैम्पेन मैडल भी मिल चुका है.

अमेरिका में वापसी

अमेरिकी डिफेन्स डिपार्टमेंट ने ट्विटर पर एक तस्वीर जारी की है. इसमें मेजर जनरल क्रिस डॉन्ह्यू काबुल के हामिद करजई हवाई अड्डे पर एक अमेरिकी C-17 कार्गो विमान में सवार होते दिख रहे हैं. क्रिस की ये तस्वीर विमान की साइड विंडो की तरफ़ से एक नाइट विज़न डिवाइस से ली गई है. इसके चलते तस्वीर का ओवरऑल कलर हरा है. इसमें क्रिस के एक हाथ में राइफल है और वे विमान की तरफ़ बढ़ते दिख रहे हैं. वे मिलिट्री यूनिफार्म में हैं. उनके सिर पर हेलमेट है.

क्रिस इसी महीने काबुल गए थे. वहां उन्होंने किन हालात का सामना किया, इस पर अभी खुद उनका कोई बयान नहीं आया है. लेकिन एयरबोर्न कॉर्प्स ने अपने ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से क्रिस की तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा,

“ये एक अविश्वसनीय रूप से कठिन और दबाव भरा मिशन था. पूरे वक़्त सक्रिय खतरों के साथ. हमारे सैनिकों ने धैर्य, अनुशासन और सहानुभूति दिखाई.”

क्रिस के विमान में चढ़ते ही अमेरिका का 9/11 आतंकी हमले के बाद शुरू हुआ बीस साल पुराना ‘महंगा अफ़गानिस्तान मिशन’ ख़त्म हो गया. ये ‘तालिबान की जीत’ है या ‘अमेरिका की हार’, इस पर अब आने वाले कई साल बहस चलने वाली है. दुनिया इसे जिस भी नज़र से देखे, लेकिन क़ाबुल छोड़ते वक़्त क्रिस की ये तस्वीर इतना सन्देश तो साफ़ छोड़ती है कि युद्ध ताकतवर सरकारों और नेताओं के लिए शायद रुचिकर होते हों, लेकिन आम नागरिकों और सैनिकों के लिए ये एक अनचाहा सौदा ही है, जो उन्हें भारी कीमत चुकाकर करना पड़ता है.

क्रिस और उनके साथी काबुल में अपने आख़िरी दिनों की दर्दनाक यादें लेकर घर लौटे होंगे. बीती 26 अगस्त को उन्होंने इस्लामिक स्टेट खोरासान नेटवर्क के हमले में अपने 13 साथियों को खोया था.

(ये स्टोरी हमारे यहां इंटर्नशिप कर रहे शिवेंद्र ने लिखी है.)


वीडियो- क्या अफगान शरणार्थियों को शरण देने में इस्लामिक देश भारत और अमेरिका जैसे देशों से पीछे हैं? 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

जगह थी मुंबई एयरपोर्ट. अब दस साल बाद फिर से दोनों का नाम एक साथ सुर्ख़ियों में है.

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.