Submit your post

Follow Us

कैसे पता लगा गोल है धरती

5
शेयर्स

पहले धरती का शेप किसी को पता नहीं था. कोई रोटी सी चपटी कहता कोई चौकोर. भारत में वैदिक सभ्यता के लोग बड़े सयाने थे. याज्ञवल्क्य ने अपने संस्कृत के ग्रंथों में धरती को गोल ही लिखा था. ग्रीक सिविलाइजेशन भी हिस्ट्री के समझदारों में है. अरस्तू और होमर हजारों साल पहले बता चुके थे कि धरती गोल है. उनसे भी पहले थे साइंटिस्ट पाइथागोरस. वो भी गणित के बूते पर कहते थे.

अरस्तू का चेला सिकंदर था न. वो मानता था गुरू की बात. सेल्यूकस तो ये भी कह चुका था कि धरती न सिर्फ गोल है बल्कि घूम भी रही है. कहते हैं जब कोलंबस समुद्री यात्रा पर निकला तो लोग डराने लगे. वो बताते थे कि यह समुद्र एक झरने की तरह खत्म होगा. वह झरना जो कही नहीं गिरता. पता नहीं कहां चले जाओगे तुम. 1492 में कोलंबस इन बातों का लोड न लेकर निकल लिया था. पता नहीं ये सच है कि नहीं लेकिन लोग कहते हैं इसलिए हम बता दिए. नानी की कहानी जैसे.

15वीं सदी में इटली की धरती पर आए गैलीलियो. उन्होंने बनाया टेलिस्कोप. दुनिया को दिखाया कि बात में दम है. लेकिन ये सब लोग मानते थे कि धरती सौर मंडल का सेंटर है. फाइनली आइजक न्यूटन ने सबकी बोलती बंद कर दी. उन्होनें बनाया नया रिफ्लेक्टिंग टेलिस्कोप. सबको बुला बुला के दिखाया कि देख लो अपनी आंखों से. तब कहीं जाकर बहस खत्म हई.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.

अमिताभ बच्चन तो ठीक हैं, दादा साहेब फाल्के के बारे में कितना जानते हो?

खुद पर है विश्वास तो आ जाओ मैदान में.

‘ताई तो कहती है, ऐसी लंबी-लंबी अंगुलियां चुडै़ल की होती हैं’

एक कहानी रोज़ में आज पढ़िए शिवानी की चन्नी.

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो कितना जानते हो उनको

मितरों! अच्छे नंबर चइये कि नइ चइये?