Submit your post

Follow Us

वर्ल्ड कप फाइनल जिसमें वेस्टइंडीज ने उस टीम को हराया जो मैदान पर मर्डर करने उतरती थी

21 जून 1975 के दिन वेस्टइंडीज ने ऑस्ट्रेलिया को वर्ल्ड कप में हराकर दुनिया में अपना वर्चस्व कायम किया था.

कहा जाता है कि 21 जून का दिन सबसे लंबा और गर्म होता है. इसके बाद सूरज की तपिश थोड़ी कम होने लगती है. मगर इस दिन क्रिकेट के मैदान पर एक अलग ही तपिश देखी गई थी. साल था 1975 का. क्रिकेट का पहला वर्ल्ड कप इसी दिन अपने समापन की ओर बढ़ा था. क्लाइव लॉयड की कप्तानी वाली वेस्टइंडीज और इयान चैपल की अगुवाई वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम के बीच लॉर्ड्स के मैदान पर फाइनल खेला जा रहा था.

ये वो दौर था जब ऑस्ट्रेलिया के फास्ट बॉलर डेनिस लिली और जेफ थॉमसन का क्रिकेट की दुनिया में आतंक था. वो गेंद नहीं गोला फेंकते थे. तब हेलमेट का चलन नहीं था और इन दोनों गेंदबाजों ने जिसके भी खिलाफ गेंदबाजी की, इनका टारगेट खिलाड़ियों को घायल करना ही था. 1975 में पहली दफा ये वर्ल्ड कप हो रहा था. 60 ओवर होते थे. फाइनल में पहुंचने से पहले श्रीलंका के दो खिलाड़ियों को जेफ थॉमसन अस्पताल पहुंचा चुके थे.

Untitled design
डेनिस लिली और जेफ थॉमसन.

अब मुकाबला वर्ल्ड कप के लिए था. वेस्टइंडीज को पहले बैटिंग के लिए बुलाया गया. 50 के स्कोर पर 3 विकेट उड़ गए. फिर आए वेस्टइंडीज के कप्तान क्लाइव लॉयड. 85 गेंदों पर 102 रन मार दिए. क्या डेनिस लिली, क्या जेफ थॉमसन. सब के सब बॉलरों की धुनाई की. लॉयड की ये पारी ठीक वैसी ही थी, जैसी बाद में 1983 के वर्ल्ड कप फाइनल में वेस्टइंडीज के खिलाफ कपिल देव ने खेली थी. लॉयड के अलावा कोई रोबिन कन्हाई ने 55 रन बनाए थे. 60 ओवरों मे कुल रन बने 291. ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए चाहिए थे 292.

1975 WC pic
उत्साहित दर्शक क्रीज तक पहुंच जाते थे.

ऑस्ट्रेलिया की बैटिंग शुरू हुई और यहां फील्डिंग करते हुए सर विव रिचर्ड्स पर कुछ ही अवतार में थे. ऑस्ट्रेलियाई ओपनर एलन टर्नर समेत इयॉन चैपल और ग्रेग चैपल को अपनी गजब की थ्रो से रन आउट किया. आखिरी विकेट के लिए डेनिस लिली खेलने आए. 7 ओवर बचे थे और 54 रन चाहिए थे. पहले से जेफ थॉमसन टिके थे. बॉलर्स की ये मशहूर जोड़ी अब बल्ला लेकर क्रीज पर थी.

उस वक्त वनडे क्रिकेट में कोई फील्ड की पाबंदी नहीं थी. थॉमसन ने शॉट मारा और फील्डर के हाथ में गेंद गई. मगर इससे पहले कि अंपायर इसे नो-बॉल करार देते, क्राउड मैदान पर दौड़ पड़ा. लोगों को लगा कि थॉमसन आउट हो गए और वेस्टइंडीज मैच जीत गई. मगर ऐसा था नहीं. दोनों बल्लेबाज लगातार रन भागते रहे. दर्शकों की भीड़ क्रीज तक पहुंच चुकी थी और फील्डर ने जब कीपर के पास गेंद फेंकी तो वो भीड़ में कई खो गई.  जब भीड़ को हटाया गया तो अंपायर ने ऑस्ट्रेलिया को सिर्फ दो रन दिए. इसका थॉमसन ने विरोध किया और फिर दो की जगह तीन रन दिए गए. इस तरह वेस्टइंडीज ये मैच 17 रन से जीत गई.

क्रीज पर हुए उस ड्रामे का वीडियो:

वेस्टइंडीज की इस जीत के बाद वो इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया की क्रिकेट में बादशाहत को खत्म करने के साथ साथ लंबे वक्त तक इन दोनों टीमों के नाक में दम करने के लिए जानी गई. इसी के बाद क्रिकेट में वेस्टइंडीज ने वो बॉलिंग अटैक तैयार किया जिसने बल्लेबाजों को हेलमेट और दूसरे सेफ्टी गियर्स इस्तेमाल करने पर मजबूर किया.


Also Read

एक ही दिन में साउथ अफ्रीका ने दो मैच खेले, दोनों में वर्ल्ड रिकॉर्ड बनवाकर हारी

107 गेंद खाली गईं, फिर भी इंग्लैंड ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे में 481 रन मार दिए

जब इंग्लैंड 500 रन मारने वाला था, इस बॉलर ने एक मेडन ओवर फेंक दिया

वो वर्ल्ड कप फाइनल जिसमें पाकिस्तान ने ऑस्ट्रेलिया के आगे घुटने टेक दिए

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.