Submit your post

Follow Us

जब कल्पवृक्ष के चक्कर में कृष्ण और इंद्र में हो गई मार

समुद्र मंथन में से देवता लोगों ने बहुत सारा माल निकाला. उसमें कल्पवृक्ष भी था जिसे पारिजात भी कहते हैं. इंद्र ने उसे ले जाकर स्वर्ग में लगा लिया.

एक बार नारद मुनि घूमते हुए धरती पर आए और कल्पवृक्ष के कुछ फूल भगवान कृष्ण को दे गए. कृष्ण ने ये फूल रुक्मणी को दे दिए. उन्हें क्या पता था कि उन्हें यह गिफ्ट महंगा पड़ेगा.

किसी ने सत्यभामा से कृष्ण की चुगली कर दी. वो भी पत्नी थीं भई. हो गईं नाराज कि उनको फूल दिया, हमको पूरा पेड़ लाकर दो. कृष्ण ने समझाने की कोशिश की पर सत्यभामा तो अड़ चुकी थीं. हारकर कृष्ण गए इंद्रलोक में और कल्पवृक्ष उखाड़ लाए.

इधर पेड़ उखड़ा, उधर इंद्र का दिमाग. उन्होंने गुस्से में अपनी सेना के साथ कृष्ण पर हमला कर दिया. लड़ाई में कृष्ण जीत गए और पेड़ लाकर सत्यभामा के गार्डन में लगा दिया.

पर इंद्र ऐसे कैसे चुप बैठ सकते थे. उन्होंने शाप दिया कि उस पेड़ पर कभी फल नहीं लगेंगे. कहा जाता है कि इसी वजह से पारिजात के पेड़ पर कभी फल नहीं लगते.

(श्रीमद्भागवत महापुराण)

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.