Submit your post

Follow Us

जन्नत के इमरान हाशमी वाला काम, जो करते हुए इस बार IPL से 2 लोग धरे गए!

2 मई को दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम पर इंडियन प्रीमियर लीग का मुकाबला हुआ था. राजस्थान रॉयल्स बनाम सनराइजर्स हैदराबाद. मैच के दौरान स्टेडियम के अंदर से दो संदिग्ध व्यक्ति पकड़े गए. यहां ‘स्टेडियम के अंदर से’ का ज़िक्र करना ज़रूरी है क्योंकि कोविड-19 के चलते IPL मैचों में दर्शकों की एंट्री पर पाबंदी थी. शुरुआती पड़ताल में पता चला है कि पकड़े गए ये दोनों व्यक्ति स्टेडियम के अंदर से ‘पिच साइडिंग’ कर सट्टेबाजों की मदद कर रहे थे. इन दोनों से तो IPL की एंटी करप्शन यूनिट (ACU) पूछताछ कर ही रही है, लेकिन पहले ये जान लेते हैं कि ये पिच साइडिंग होती क्या है? इससे सट्टेबाजों को क्या मदद मिलती है और इसकी सज़ा क्या है?

क्या होती है पिच साइडिंग?

सट्टेबाज तो स्टेडियम से बाहर बैठकर मैच पर सट्टा लगाता है. लेकिन स्टेडियम में भी उसके कुछ लोग बैठे रहते हैं, जो मैच से जुड़ी छोटी-छोटी जानकारियां सट्टेबाज तक पहुंचाते रहते हैं. वो जानकारियां, जो स्टेडियम में मौजूद व्यक्ति को कहीं जल्दी और बेहतर तरीके से मिल पाती हैं. जैसे कि पिच या टीम के प्लेइंग-11 को लेकर कोई एक्स-फैक्टर वगैरह. स्टेडियम से आई इन ‘एक्सक्लूसिव’ जानकारियों का इस्तेमाल सट्टेबाज अपना दांव चलने में करते हैं. इसी को पिच साइडिंग कहते हैं. यानी कुछ-कुछ वैसा ही काम, जैसा ‘जन्नत’ फिल्म में इमरान हाशमी करते दिखे थे.

सट्टेबाजों को कैसे फायदा मिलता है?

सबसे बड़ा फायदा तो ये होता है कि TV पर आ रहा टेलीकास्ट, मैदान पर हो रहे लाइव एक्शन से करीब 10 सेकंड या कुछ-कुछ मामलों में तो एक मिनट तक डिले रहता है. यानी उधर गेंद फेंकी गई, उसके 10 सेकंड बाद हम उसे TV पर देख पाते हैं. सट्टेबाजी में ये 10 सेकंड काफी अहम साबित हो सकते हैं. अगर स्टेडियम में बैठा पिच साइडर अपने सट्टेबाज को प्लेइंग-11 आने से 10 सेकंड पहले ही बता दे कि आज फलां स्टार प्लेयर टीम से ड्रॉप है या किसी ख़ास गेंद पर क्या होने वाला है, तो सट्टेबाज बड़ा फायदा चांप देता है. इसी वजह से सट्टेबाज पिच साइडिंग कराने के जुगाड़ में रहते हैं.

ये वैध है या अवैध?

लोग ये भी कहते हैं कि साब चूंकि ये सीधे-सीधे सट्टेबाजी तो है नहीं. ये तो एक किस्म से जानकारी देना भर है. तो इसे ग़ैर-कानूनी क्यों मानना? इस बात से कई देश सहमत भी हैं. बेटिंग वेबसाइट onlinebetting.org.uk के मुताबिक इंग्लैंड, न्यूज़ीलैंड और तमाम अन्य देशों में पिच साइडिंग को ग़ैर-कानूनी नहीं माना जाता. हालांकि यहां भी अब कई बड़े टूर्नामेंट्स में टिकट पर ही छपवा दिया जाता है कि स्टेडियम के अंदर जाकर इस तरह की हरकत न करें वरना हमेशा के लिए एंट्री बैन कर दी जाएगी.

लेकिन भारत में पिच साइडिंग को सट्टेबाजी से अलग नहीं माना जाता. यहां इसे पूरी तरह ग़ैर-कानूनी माना जाता है. IPL की ACU का मानना है कि पकड़े गए लोग छोटे कर्मचारी टाइप ही हैं. इनके बॉस कोई और हैं और उनकी तलाश चल रही है. हालांकि अभी तक किसी भी खिलाड़ी, सपोर्ट स्टाफ या मैच ऑफिशियल के इन सबसे जुड़े होने की कोई बात सामने नहीं आई है.

चलते-चलते बताते चलें कि पिच साइडिंग का ये ‘खेल’ असल में टेनिस से निकला है. वहां कोर्ट साइडिंग की जाती है. इंडियन एक्सप्रेस की एक ख़बर के मुताबिक ऑस्ट्रेलियन ओपन 2014 में पहली बार एक व्यक्ति कोर्ट साइडिंग करता पकड़ा गया था, जो टेनिस मैच के दौरान कोर्ट में बैठकर सीक्रेट तरीके से जानकारियां सट्टेबाजों तक पहुंचा रहा था.


राजस्थान में है सबसे बड़ा सट्टा बाज़ार, हर चुनाव पर लगते हैं करोड़ों रुपये

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.