Submit your post

Follow Us

भूटान का 'येति टेरिटरी' क्या है, जिसे चीन ने विवादित बताया है

भारत के साथ सीमा विवाद के बीच चीन ने भूटान के पूर्वी भाग पर दावा किया है. सकतेंग वाइल्ड लाइफ सेंचुरी को विवादित सीमा वाला क्षेत्र बताया है. चीन के इस दावे के बीच भारत भूटान के ‘येति टेरिटरी’ से होते हुए सड़क का निर्माण करना चाहता है. प्रस्तावित सड़क असम के गुवाहाटी और इंडिया-चीन बॉर्डर पर अरुणाचल प्रदेश में तवांग के बीच 150 किलोमीटर की दूरी कम कर देगी. यात्रा में लगने वाला समय भी 15 घंटे से घटकर 9-10 घंटे रह जाएगा. इस सड़क के निर्माण के बाद भूटान के पूर्वी क्षेत्र के साथ ही अरुणाचल प्रदेश में चीन से सटे सीमा तक भारत को मिलिट्री भेजेने में भी आसानी होगी.

इस खबर में हम इस पर बात करेंगे कि भूटान की ‘येति टेरिटरी’ क्या है. इस इलाके से होते हुए सड़क निर्माण से भारत को क्या हासिल होगा. लेकिन उस पर बात करने से पहले जान लेते हैं कि येति क्या होते हैं.

येति क्या होते हैं?

येति कहिए या फिर हिममानव. इनकी कहानियां बचपन में खूब सुनी होंगी. किताबों में किस्से भी पढ़े होंगे. किंवदंतियां हैं कि ये एक बड़ा-सा जीव, जो आधा इंसानों जैसा और आधा जानवरों जैसा होता है. खूब लंबा-चौड़ा, देखने में डरावना भी होता है. कई हॉलीवुड फिल्मों में भी हिममानव दिखाए गए हैं. विशालकाय, झबरे बालों वाला जीव, बड़े-बड़े पैर होने से लेकर बड़े और डरावने दांत होने तक की कल्पना की गई है.

समय-समय पर येति के पैरों के निशान देखे जाने के दावे किए जाते रहे हैं.
समय-समय पर येति के पैरों के निशान देखे जाने के दावे किए जाते रहे हैं.

येति को लेकर किस तरह की बातें होती हैं? 

येति. ये शब्द नेपाल के शेरपा से लिया गया है. येति का मतलब येह यानी चट्टान और तेह यानी जीव. मतलब चट्टानों का जीव. दावा किया जाता है कि भारी-भरकम शरीर की वजह से ही इन्हें येति कहा गया. कहा जाता है कि ये देखने में बड़ी चट्टान जैसे होते हैं. नेपाल और तिब्बती क्षेत्र के लोगों का मानना है कि येति लंबे-घने बालों वाले होते हैं. 10 फीट से ज्यादा की लंबाई वाले हिममानव का वजन 300 किलो के आसपास हो सकता है. ‘डेली मेल’ के मुताबिक, साल 2016 में स्टीव बैरी नाम के युवक ने भूटान में येति के पैरों के निशान देखने का दावा किया था. स्टीव ने ये भी दावा किया था कि वो निशान येति के हो सकते हैं. बाद में उन पैरों के निशान की जांच भी हुई थी और वैज्ञानिकों ने भी दावा किया था कि निशान किसी जानवर के नहीं हैं.

भूटान का येति टेरिटरी है क्या? 

भूटान की सकतेंग वाइल्ड लाइफ सेंचुरी. भूटान के पूर्वी भाग में स्थित है, जो लगभग 650 वर्ग किमी में है. सेंचुरी और उसके आसपास के इलाके को परंपरागत रूप से येति या मिगोई का घर माना जाता है. रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस सेंचुरी का निर्माण येति के संरक्षण के लिए किया गया. हालांकि यह सेंचुरी कई लुप्तप्राय प्रजातियों का घर है, जिनमें लाल पांडा, हिम तेंदुए और बाघ शामिल हैं. Park Wardens की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2012 में Thrumshingla National Park में भी येति देखे गए थे.

 
दिल्ली यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर और भूटान मामलों के जानकार डॉक्टर राम प्रताप प्रसाद का कहना है,

भूटान के लोगों का मानना है कि येति इसी एरिया में रहते हैं. हालांकि इसे बहुत कम लोग देखने का दावा करते हैं. इसका उल्लेख भूटान के तिब्बती साहित्य में भी देखने को मिलता है. तिब्बती और भूटानी किताबों में इसके आकार और बनावट को लेकर कई तरह की बातें कही जाती हैं. सकतेंग चुरी और उसके आसपास के इलाके को येति टेरिटरी कहते हैं.

भूटान का यह इलाका ब्रोकपास जनजाति का घर है. कई मौके पर इस जनजाति के लोगों ने दावा किया कि उन्होंने येति को देखा है.  Bhutanese Tales of the Yeti बुक में येति का जिक्र किया है. हालांकि येति या हिममानव के होने के पक्के सबूत अब तक नहीं मिले हैं. लेकिन इसे देखने के दावे समय-समय पर किए जाते हैं.

सकतेंग वाइल्ड लाइफ सेंचुरी पर क्या विवाद है? 

चीन का कहना है कि सकतेंग वाइल्ड लाइफ सेंचुरी विवादित क्षेत्र में है. हालांकि इससे पहले यह क्षेत्र कभी भी चीन और भूटान के बीच विवादित क्षेत्र नहीं रहा. वाइल्ड लाइफ सेंचुरी पर विवाद की शुरुआत हुई ग्लोबल एनवायरनमेंट फैसिलिटी GEFकी 58वीं काउंसिल मीटिंग से. दो-तीन जून को काउंसिल की ऑनलाइन मीटिंग में पूर्वी भूटान स्थित सकतेंग सेंचुरी के विकास से संबंधित एक परियोजना पर चीन ने आपत्ति जताई. हालांकि सकतेंग सेंचुरी को पहले भी इस तरह के अनुदान मिलते रहे हैं. साल 2018-19 में मिट्टी का कटाव रोकने से जुड़े प्रोजेक्ट पर भी अनुदान मिला था. लेकिन तब चीन ने उसका विरोध नहीं किया था.

चीन और भूटान के बीच 1984 से लेकर 2016 के बीच 24 दौर की बातचीत हुई. इस दौरान बातचीत में केवल पश्चिम और मध्‍य इलाके के विवाद पर चर्चा हुई. कभी भी पूर्वी भूटान या त्राशिगैंग दोंगशाक ज़िला, जहां सकतेंग वाइल्ड लाइफ सेंचुरी है, उसका ज़िक्र नहीं किया गया. GEF की वर्चुअल मीटिंग में जब सकतेंग वाइल्ड लाइफ सेंचुरी के लिए फंड इकट्ठा करने को लेकर बात चल रही थी, तो अचानक चीन के रिप्रजेंटेटिव ने इस पर आपत्ति जता दी.

भूटान की सकतेंग वाइल्ड लाइफ सेंचुरी. भूटान के पूर्वी भाग में स्थित है.
भूटान की सकतेंग वाइल्ड लाइफ सेंचुरी. भूटान के पूर्वी भाग में स्थित है.

चीन ने कहा कि ये सेंचुरी विवादित इलाके में आती है. चीन के इस दावे को काउंसिल ने स्वीकार नहीं किया और प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी. चीन के इस दावे पर भूटान ने आपत्ति जताई. कहा कि वाइल्ड लाइफ सेंचुरी भूटान का एक अभिन्न और संप्रभु क्षेत्र है. भूटान और चीन के बीच सीमा पर चर्चा के दौरान यह कभी भी एक विवाद का विषय नहीं रहा.

सड़क से दोनों देशों को क्या फायदा होगा?

भारत और भूटान सुरक्षा हितों को साझा करते हैं. पूर्वी भूटान पर चीन का दावा अरुणाचल प्रदेश के 90,000 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र पर अपने दावे से जुड़ा है. ऐसे में भूटान को भी जल्द ही इस बात का एहसास होगा कि यह स्ट्रेटजिक रोड भूटान के लिए भी क्यों जरूरी है. प्रस्तावित सड़क अरुणाचल प्रदेश में तवांग के पास लुमला को भूटान के ट्रैशीगांग से जोड़ेगी. इससे गुवाहाटी से समद्रुप जोंगखार और ट्रैशीगांग से होते हुए भूटान और चीन की सीमा और मैकमोहन लाइन के करीब यात्रा आसान हो जाएगी. पूर्वी क्षेत्र में जहां भारत और चीन के बीच सीमा लगती है.


Video: अटल पेंशन योजना क्या है, नए बदलावों के बाद यह कितना लाभ दे सकती है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़. अपना ज्ञान यहां चेक कल्लो!

चीन और जापान जिस द्वीप के लिए भिड़ रहे हैं, उसकी पूरी कहानी

आइए जानते हैं कि मामला अभी क्यों बढ़ा है.

भारतीयों के हाथ में जो मोबाइल फोन हैं, उनमें चीन की कितनी हिस्सेदारी है

'बॉयकॉट चाइनीज प्रॉडक्ट्स' के ट्रेंड्स के बीच ये बातें जान लीजिए.

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

मधुबाला को खटका लगा हुआ था इस हीरोइन को दिलीप कुमार के साथ देखकर

एक्ट्रेस निम्मी के गुज़र जाने पर उनको याद करते हुए उनकी ज़िंदगी के कुछ किस्से

90000 डॉलर का कर्ज़ा उतारकर प्राइवेट जेट खरीद लिया था इस 'गैंबलर' ने

उस अमेरिकी सिंगर की अजीब दास्तां, जो बात करने के बजाए गाने में ज़्यादा कंफर्टेबल महसूस करता था

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.