Submit your post

Follow Us

कमला हैरिस ने अपनी हिंदुस्तानी पहचान पर क्या कहा है?

ख़बर अमेरिका से जुड़ी है. वहां डेमोक्रैटिक पार्टी का राष्ट्रीय सम्मेलन चल रहा है. हर चुनावी साल में अमेरिका की दोनों मुख्य पार्टियां- डेमोक्रैटिक और रिपब्लिकन अपना-अपना नैशनल कन्वेंशन करती हैं. क्या होता है इस सम्मेलन में? इसमें दोनों पार्टियां अपने आधिकारिक उम्मीदवार के नाम पर फाइनल मुहर लगाती हैं. इसके अलावा पार्टी के बड़े नेता चुनावी भाषण भी देते हैं. बताते हैं कि उनकी पार्टी के उम्मीदवार में क्या ख़ासियत है. क्यों उसी को अगला राष्ट्रपति बनना चाहिए.

इस कन्वेंशन के तीसरे दिन दो बड़े ज़ोरदार भाषण हुए. एक, कमला हैरिस का. जो कि डेमोक्रैटिक पार्टी की तरफ से अगले उपराष्ट्रपति पद की दावेदार हैं. दूसरा भाषण दिया पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने. हम एक-एक करके इन दोनों के भाषणों की ख़ास बातें आपको बता देते हैं. सबसे पहले बारी कमला हैरिस की. अपने 17 मिनट लंबे भाषण में उन्होंने भारत से अमेरिका आईं अपनी मां श्यामला गोपालन का भी ज़िक्र किया. कमला ने कहा-

एक औरत है, जिसकी कहानी आप नहीं जानते. ये वो महिला है, जिसने अपने कंधों पर मुझे खड़ा किया. वो औरत कोई और नहीं, मेरी मां श्यामला गोपालन हैरिस है. वो 19 बरस की उम्र में कैंसर का इलाज खोजने का सपना लेकर अमेरिका आई. यूनिवर्सिटी ऑफ बर्कले में मेरे पिता डॉनल्ड हैरिस से मिली. ब्लैक राइट्स मूवमेंट के दौरान अमेरिका की सड़कों पर रैली निकालते हुए उन्हें प्यार हुआ. मेरी मां ने मुझे अपनी पहचान पर गर्व करना सिखाया. मुझे एक मज़बूत ब्लैक महिला बनाया. मां ने मुझे और मेरी बहन माया को अपनी हिंदुस्तानी विरासत पर गर्व करना भी सिखाया.

Shyamala Gopalan And Donald Harris
श्यामला और डॉनल्ड हैरिस (फोटो: ट्विटर)

उन्होंने आगे कहा-

काश, मेरी मां होती आज यहां. मुझे पता है कि वो स्वर्ग में बैठी मुझे देख रही होगी. मैं अक्सर उस पांच फुट लंबी 25 साल की हिंदुस्तानी औरत के बारे में सोचती हूं. वो औरत, जिसने कैलिफॉर्निया के एक अस्पताल में मुझे जन्म दिया था. उस रोज़ मेरी मां ने कभी नहीं सोचा होगा कि उसकी बच्ची इस मंच पर आपके आगे खड़ी होकर कहेगी कि हां, मैं अमेरिका के उपराष्ट्रपति पद की उम्मीदवार स्वीकार करती हूं.

कमला ने अपने भाषण में ये भी बताया कि वो किस्म का अमेरिका बनाना चाहती हैं. कमला बोलीं-

मां के सिखाये आदर्श मेरे साथ हैं. वो मुझे भरोसे के साथ आगे बढ़ना सिखाते हैं, न कि रूप और रंग देखकर फैसला करना सिखाते हैं. अमेरिका के लोगों ने भी अपनी पीढ़ियों को यही आदर्श सिखाया है. यही आदर्श राष्ट्रपति पद के हमारे उम्मीदवार जो बाइडन का भी सपना है. वो ऐसा अमेरिका बनाना चाहते हैं, जहां सबका स्वागत हो. ऐसा अमेरिका, जहां ज़रूरी नहीं कि लोग हर बात पर एक-दूसरे से सहमत हों. मगर तमाम असहमतियों के बावजूद वो संगठित हों. वो हर इंसान की अहमियत समझें. आज का अमेरिका इस कल्पना की अमेरिका से बहुत दूर है. डॉनल्ड ट्रंप की लीडरशिप ने हमारी ज़िंदगी, हमारी रोज़ी-रोटी को चोट पहुंचाई है. हमारे देश में कुछ बहुत बुरा हो रहा है. इसीलिए हमें जो बाइडन को चुनना चाहिए. ये चुनाव बस जो का और मेरा नहीं है. ये चुनाव अमेरिका और अमेरिका जनता का भी है.

Kamala Harris With Mother
अपनी मां श्यामला की गोदी में कमला. (फोटो: एपी)

ये था कमला हैरिस के भाषण का सारांश. अब बारी बराक ओबामा के भाषण की. उन्होंने कहा-

मैं इस वक़्त फिलाडेल्फिया में हूं. यहीं पर हमारे संविधान का ड्राफ्ट बना, उसपर दस्तख़त हुए. ये परफेक्ट संविधान नहीं था. उसमें ग़ुलामी जैसी अमानवीय प्रथाओं के लिए जगह थी. महिलाओं के लिए अधिकार नहीं थे. मगर उस संविधान ने हमें एक ध्रुव तारा ज़रूर दिया. उसने हमारी पीढ़ियों को राह दिखाई. हमने धीरे-धीरे करके अपने इस देश को ज़्यादा बेहतर, ज़्यादा बराबर, ज़्यादा स्वतंत्र और न्यायप्रिय बनाया है. हमें ऐसे राष्ट्रपति को चुनना चाहिए, जो इस लोकतंत्र की रखवाली कर सके. अपने अहंकार, महत्वाकांक्षाओं और राजनैतिक विचारों से परे जाकर हमारी उस आज़ादी की रक्षा कर सके, जिसे हासिल करने के लिए न जाने कितने पुरखों ने अपनी जान दी.

Barack Obama
पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा. (फोटो: एपी)

आमतौर पर ओबामा ट्रंप पर सीधी टिप्पणी से बचते हैं. मगर अपने इस भाषण में उन्होंने वो वर्जना भी नहीं रखी. ट्रंप पर हमलावर होते हुए ओबामा ने कहा-

मैंने उम्मीद की थी कि ट्रंप अपनी जिम्मेदारी को गंभीरता से लेंगे. वो समझेंगे कि उन्हें कितना अहम पद सौंपा गया है. मगर ऐसा कभी नहीं हुआ. उनके लिए राष्ट्रपति का कार्यकाल किसी रिऐलिटी शो जैसा था. जहां वो बस लोगों का ध्यान अपनी तरफ खींचते रहे. डॉनल्ड ट्रंप ये जिम्मेदारी उठा ही नहीं सकते. उनकी नाकामी का अंजाम पूरा अमेरिका भुगत रहा है. लाखों नौकरियां चली गईं. डेढ़ लाख से ज़्यादा अमेरिकी कोरोना से मर गए. पूरी दुनिया में हमारी मिट्टी पलीत हुई.

जो बाइडन और कमला हैरिस के लिए अपील करते हुए ओबामा ने कहा-

ये बहुत ध्रुवीकरण का माहौल है. मगर तब भी मैं आपसे अपील करना चाहूंगा. आप जो बाइडन को वोट दीजिए. जो और कमला हमारी खोई प्रतिष्ठा लौटाकर लाएंगे. ये दोनों लोग अमेरिका, इसके लोगों और इसके लोकतंत्र की सच्ची परवाह करते हैं. आप सोच-समझकर वोट डालिएगा. क्योंकि इस बार हमारा देश, हमारा लोकतंत्र दांव पर लगा है.

Joe Biden And Kamala Harris
अगर डेमोक्रैटिक जीतती है तो राष्ट्रपति बनेंगे जो बाइडन और उपराष्ट्रपति बनेंगी कमला हैरिस. (फोटो: एपी)

आपको पता है, पार्टी कन्वेंशन में किस दिन कौन बोलेगा, ये बहुत सोच-समझकर तय किया जाता है. तभी तो कमला हैरिस और ओबामा की स्पीच एक दिन रखी गई. ओबामा अफ्रीकी-अमेरिकी मूल के पहले राष्ट्रपति थे. और कमला हैरिस, वाइस प्रेज़िडेंट के लिए नॉमिनेट हुईं पहली भारतीय-अमेरिकन ब्लैक महिला. जैसे किताब की किसी ख़ास लाइन को उभारने के लिए उसको हाइलाइट करते हैं. वैसे ही चुनावी माहौल बनाने के लिए इस तरह की ऐतिहासिकता हाइलाइट की जाती है.


विडियो- भारत के लोगों की कमला हैरिस में क्या दिलचस्पी है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

विधायक विजय मिश्रा, जिन्हें यूपी पुलिस लाने लगी तो बेटियां बोलीं- गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए

चलिए, विधायक जी की कन्नी-काटी जानते हैं.

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

कभी सोचा नहीं होगा कि लल्लन साड़ियों पर भी क्विज बना सकता है. खेलो औऱ स्कोर करो.

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़. अपना ज्ञान यहां चेक कल्लो!

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.