Submit your post

Follow Us

बंगाल में BJP वालों पर हमले, हिंसा के डरावने वीडियो, BJP और TMC के दावों का सच क्या है?

2 मई को पश्चिम बंगाल चुनाव के नतीजे आए. तृणमूल कांग्रेस (TMC) ने प्रचंड जीत दर्ज़ की. चुनाव नतीजे आने के साथ बंगाल से हिंसा की रिपोर्ट्स आ रही हैं. भारतीय जनता पार्टी (BJP) से जुड़े लोगों का दावा है कि तृणमूल कांग्रेस के समर्थकों ने बीजेपी कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट की है और बीजेपी ऑफिस में तोड़फोड़ की है. NDTV की रिपोर्ट मुताबिक़ नतीजे आने के बाद हुई हिंसा में 12 लोगों की मौत हो चुकी है. हालांकि प्रशासन ने अब तक यह नहीं बताया है कि इन लोगों की मौत कैसे हुई है और इन मौतों के लिए कौन जिम्मेदार है. पूरा मामला क्या है, आइए विस्तार से जानते हैं.

बीजेपी के कैलाश विजयवर्गीय ने कई विडियो ट्वीट कर कहा है कि भाजपा कार्यालय और कार्यकर्ताओं पर हमला किया जा रहा है. कहा है कि बंगाल जल रहा है. ममता बनर्जी को शर्म आनी चाहिए. 3 मई को एक ट्वीट में उन्होंने लिखा कि ममता की जीत के बाद उनके कार्यकर्ता जश्न मना रहे है और भाजपा कार्यकर्ताओं के घर तोड़ रहे हैं. अब तक 9 से ज़्यादा भाजपा कार्यकर्ताओं की हत्या हो चुकी है.

पश्चिम बंगाल के सहप्रभारी बीजेपी नेता अरविंद मेनन कह रहे हैं कि पश्चिम बंगाल में कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ाई जा रही है और पश्चिम बंगाल की पुलिस और सरकार मूक दर्शक बन कर बैठी हुई है. राजनीतिक जीत का उत्सव ममता बनर्जी लाशों और रक्त से मना रही हैं , पूरे बंगाल में आतंक का माहौल है.

दिलीप घोष BJP पश्चिम बंगाल के अध्यक्ष हैं. उनका कहना है कि सोनारपुर उत्तर विधान सभा क्षेत्र के बूथ नंबर 24 के 20 से अधिक घरों में तोड़फोड़ की गई है. लोग बेघर हो गए हैं और बुरे हाल में हैं.

न्यूज़ एजेंसी एएनआई की एक रिपोर्ट मुताबिक़ भाटापारा के घोषपारा रोड में बीजेपी ऑफिस और कुछ दुकानों पर अज्ञात लोगों ने हमला किया है. इलाके में बम भी फेंके गए हैं. एक स्थानीय ने बताया है कि तृणमूल कांग्रेस के उपद्रवियों ने मेरी दुकान लूट ली. यहां कम से कम 10 बम फेंके गए हैं.

न्यूज़ एजेंसी ANI का यह ट्वीट देखिए. इस ट्वीट के मुताबिक़ आसनसोल बीजेपी ऑफिस कार्यालय में कथित तौर पर तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने तोड़फोड़ की.

BJP के छात्र संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (ABVP) का कहना है कि तृणमूल कांग्रेस के 15-20 गुंडों ने ABVP के कोलकाता ऑफिस पर हमला किया. तोड़फोड़ की. कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट करने के बाद TMC के गुंडों ने जानबूझकर हनुमान और काली मां की मूर्तियों को भी तोड़ा.

ऐसे आरोप सिर्फ बीजेपी नहीं लगा रही

इस तरह के हमलों की बात सिर्फ बीजेपी से जुड़े लोग नहीं कर रहे हैं. लेफ्ट पार्टियों से जुड़े लोगों ने भी तृणमूल कांग्रेस पर आरोप लगाए हैं कि उनके समर्थक और कार्यकर्ताओं ने तोड़फोड़ की है और लोगों को मारा है.

CPIM के बड़े नेता हैं सीताराम येचुरी. उन्होंने एक ट्वीट में कहा है कि क्या ये रिपोर्ट्स तृणमूल कांग्रेस के ‘विजय उत्सव’ में भीषण हिंसा की हैं? निंदनीय. इसका विरोध किया जाएगा. TMC महामारी से लड़ने के बजाए इस तरह से तबाही फैला रही है. CPIM हमेशा की तरह लोगों के साथ खड़ी है.

आइशी घोष अबकी CPIM के टिकट पर पश्चिम बर्धमान सीट से मैदान में थी. चुनाव हार गईं. उन्होंने कई भयावह तस्वीरें पोस्ट की हैं. कहा है कि तृणमूल कांग्रेस को कम से कम जनादेश का सम्मान करना चाहिए. लोगों ने आपको काम करने के लिए चुना है न कि हमारे लोगों पर हिंसा करने के लिए. आपके पार्टी से जुड़े लोग हमारे घरों और पार्टी ऑफिस में हमला कर रहे हैं. इसे किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.

आइशी ने यह भी कहा है कि बीजेपी और राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ से जुड़े लोग कई भ्रामक जानकारी साझा कर सांप्रदायिक ध्रुवीकरण की कोशिश में हैं. ऐसे में कुछ भी शेयर करने से पहले उसे वेरीफाई कर लें.

CPIM पश्चिम बंगाल ने एक ट्वीट में कहा है कि पूर्वी बर्दवान के जमालपुर के नाबग्राम के 52 साल की कार्यकर्त्ता काकली खेत्रपाल की रविवार को हत्या कर दी गई है. तृणमूल सदस्यों ने चुनावी जश्न मनाते हुए कथित तौर पर उसके घर में घुसकर उसे धारदार हथियार से मार दिया. CPIM का कहना है कि काकली को उस वक्त मारा गया जब वह खाना बना रही थी.

पश्चिम बंगाल में हुए हिंसा को लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने न्यूज़ एजेंसी ANI से बातचीत में कहा है कि गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल सरकार से राज्य में विपक्षी राजनीतिक कार्यकर्ताओं को टारगेट करते हुए चुनाव नतीजों के बाद की हिंसा पर एक रिपोर्ट मांगी है.

पश्चिम बंगाल के राज्यपाल हैं जगदीप धनखड़. उन्होंने ट्वीट कर बताया है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने कॉल किया और  कानून व्यवस्था की गंभीर स्थिति पर अपनी चिंता व्यक्त की है. अपने इस ट्वीट में राज्यपाल ने ममता बनर्जी को भी टैग किया था.

BJP नेता क्या कह रहे?

पश्चिम बंगाल में हुए हिंसा को लेकर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा 4 मई को अपने दो दिन के दौरे पर बंगाल पहुंच चुके हैं. वह हिंसा प्रभावित कार्यकर्ताओं से मुलाक़ात कर रहे हैं.

उन्होंने कहा है की प्रतापनगर, सोनारपुर में तृणमूल कांग्रेस ने भयंकर हिंसा की है. हमारे कार्यकर्ताओं को बेहद नुकसान पहुंचा है. असहिष्णुता का नाम ममता है. हम इन सभी चीज़ों को लोगों के सामने रखेंगे और हरेक कार्यकर्ता को न्याय दिलवाने की कोशिश करेंगे.

बंगाल से आ रही हिंसा की खबरों पर बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा है-

बंगाल में जो मंजर आज हम देख रहे हैं, उस पर विश्वास नहीं होता. आज तक ऐसा मंजर किसी चुनाव के बाद, हिन्दुस्तान ने कभी नहीं देखा. आज बंगाल जल रहा है. दिल दहलाने वाले दृश्य सोशल मीडिया और टीवी के माध्यम से हम सब देख रहे हैं. रूह कांप उठती है ऐसे दृश्य देखकर. लोगों के घर में आग लगा दी गई है, घर तोड़े जा रहे हैं, कार्यकर्ताओं की हत्या की जा रही है. वहां का प्रशासन संपूर्ण रूप से चरमरा गया है.

पश्चिमी दिल्ली से बीजेपी के सांसद हैं प्रवेश साहिब सिंह वर्मा. उन्होंने ममता बनर्जी को टैग करते हुए ट्वीट कर लिखा-

TMC के गुंडो ने चुनाव जीतते ही हमारे कार्यकर्ताओं को जान से मारा, भाजपा कार्यकर्ताओं की गाड़ियां तोड़ी, घर में आग लगा रहे हैं. याद रखना TMC के सांसद, मुख्यमंत्री, विधायकों को दिल्ली में भी आना होगा, इसको चेतावनी समझ लेना. चुनाव में हार-जीत होती है, मर्डर नहीं.

TMC  नेता क्या कह रहे?

बंगाल से आ रही हिंसा की रिपोर्ट्स को लेकर तृणमूल कांग्रेस की सांसद महुआ मोइत्रा ने ट्वीट कर लिखा है कि

बीजेपी की फेक ट्रोल सेना पश्चिम बंगाल कैसे जल रहा, इसको लेकर राष्ट्रीय स्तर पर फेक न्यूज़ कैंपेन चलाने में व्यस्त है. जबकि ऐसा नहीं है. झूठ बोलना बंद करो. इसकी कीमत आपको बंगाल में चुकानी पड़ी. आगे आपको भारत में इसकी कीमत चुकानी पड़ेगी.

पश्चिम बंगाल की केयरटेकर सीएम ममता बनर्जी ने कहा है-

मैं सभी लोगों से अपील करती हूं कि शांति बनाए रखें और किसी भी तरह की हिंसा में न शामिल हों. हम जानते हैं कि बीजेपी और सेंट्रल फोर्सेज ने हमें बहुत प्रताड़ित किया है लेकिन हमें शांति बनाए रखना है. मौजूदा वक्त में हमें कोरोना वायरस से लड़ना है.

राज्य में हो रही हिंसा को लेकर ममता ने कहा-

बीजेपी से जुड़े लोग पुराने दंगों की तस्वीरें पोस्ट कर रहे हैं. यह उनकी आदत है. मुझे किसी भी तरह की हिंसा पसंद नहीं. बीजेपी ऐसा क्यों कर रही है? प्रचंड बहुमत मिलने के बाद भी हमने किसी तरह का कोई जश्न नहीं मनाया.

ताजा अपडेट ये है कि चुनाव नतीजों के बाद हुई हिंसा को लेकर ममता ने मुख्य चुनाव सचिव, गृह सचिव, डीजीपी और कोलकाता सीपी के साथ एक मीटिंग बुलाई है.

NCW भेजेगी अपनी टीम

नेशनल कमीशन फॉर वुमेन की प्रमुख हैं रेखा शर्मा. उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि

बंगाल हिंसा को लेकर राज्य के डीजीपी से बात की है और उन्हें लिखा भी है. डीजीपी से कहा है कि राज्य में महिलाओं के खिलाफ़ हो रहे अपराधों पर मूक दर्शक न बने रहें, कार्रवाई करें. उन्होंने बताया है कि अभी वीडियो वेरीफाई करवाए जा रहे हैं. यदि प्रदेश की ऐसी स्थिति है तो वे महिलाओं की क्या मदद करेंगे.

एक और ट्वीट में उन्होंने कहा पश्चिम बंगाल में हो रही हिंसा को लेकर श्यामला एस सुंदर के नेतृत्व में 5 मई को एक टीम बंगाल भेज रही हूं.

पुलिस ने रेप और छेड़खानी को फेक बताया

दीप हल्दर इंडिया टुडे से जुड़े हुए हैं. 3 मई की देर रात उन्होंने एक ट्वीट किया और लिखा-

बीजेपी बंगाल का कहना है कि बीरभूम में बीजेपी की दो महिला पोल एजेंट्स के साथ गैंगरेप किया गया और कई महिलाओं के साथ छेड़खानी की गई है.

इस ट्वीट पर तृणमूल सांसद डेरेक ओ ब्रायन आ ट्वीट आया. उन्होंने लिखा-

अफवाह फैलाई जा रही है. पश्चिम बंगाल पुलिस को तथ्यों का पता लगाना चाहिए.

इसके बाद पश्चिम बंगाल पुलिस का भी ट्वीट आया और पुलिस ने इन बातों को फेक बताया.

कई पॉलिटिकल एक्सपर्ट्स कह रहे हैं कि ऐसे वक्त में जब सेंट्रल फोर्सेज की 200 से अधिक टुकड़ियां पश्चिम बंगाल में तैनात हैं तो इसके बावजूद हिंसा चिंता का विषय है.

नोट- चुनाव नतीजे आने के बाद से बीजेपी और लेफ्ट पार्टियों ने सोशल मीडिया पर कई विडियो और फ़ोटोज़ पोस्ट करके तमाम दावे किए हैं कि तृणमूल समर्थकों और कार्यकर्ताओं ने हंगामा मचाया है. तोड़फोड़ की है. दी लल्लनटॉप इन तस्वीरों और विडियोज की पुष्टि नहीं करता. कई फैक्टचेक संस्थानों ने इस मसले से जुड़े कुछ पोस्ट को किसी और घटना से जुड़ा हुआ बताया है. माने फेक बताया है.


वीडियो- चुनाव के बाद ममता बनर्जी के बंगाल में BJP वालों को क्या ढूंढ-ढूंढ कर निशाना बनाया जा रहा है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

कौन सा था वो पहला मीम जो इत्तेफाक से दुनिया में आया?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

चुनावी माहौल में क्विज़ खेलिए और बताइए कितना स्कोर हुआ.

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

राहुल के साथ यहां भी गड़बड़ हो गई.

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

14 मार्च को बड्डे होता है. ये तो सब जानते हैं, और क्या जानते हो आके बताओ. अरे आओ तो.

आमिर पर अगर ये क्विज़ नहीं खेला तो दोगुना लगान देना पड़ेगा

म्हारा आमिर, सारुक-सलमान से कम है के?

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

आज आमिर खान का हैप्पी बड्डे है. कित्ता मालूम है उनके बारे में?

अनुपम खेर को ट्विटर और वॉट्सऐप वीडियो के अलावा भी ध्यान से देखा है तो ये क्विज खेलो

चेक करो अनुपम खेर पर अपना ज्ञान.

कहानी राहुल वैद्य की, जो हमेशा जीत से एक बिलांग पीछे रह जाते हैं

'इंडियन आइडल' से लेकर 'बिग बॉस' तक सोलह साल हो गए लेकिन किस्मत नहीं बदली.

गायों के बारे में कितना जानते हैं आप? ज़रा देखें तो...

कितने नंबर आए बताते जाइएगा.

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.