Submit your post

Follow Us

सानिया ने किसे ठहराया ओलंपिक्स मेडल की उम्मीद तोड़ने का जिम्मेदार?

Tokyo 2020 Olympics की शुरुआत से पहले ही इंडियन टेनिस में बवाल मच गया है. स्टार टेनिस प्लेयर रोहन बोपन्ना ऑल इंडिया टेनिस असोसिएशन यानी AITA से नाराज़ है. बोपन्ना का आरोप है कि AITA ने उनसे कहा था कि मेंस डबल्स में उनके खेलने की उम्मीदें अब भी बाकी हैं. जबकि इंटरनेशनल टेनिस फेडरेशन यानी ITF का कहना है कि अब किसी भी प्लेयर के ओलंपिक्स क्वॉलिफाई करने की कोई संभावना नहीं है.

इस पूरे मसले पर कुल जमा दो पक्ष हैं. पहला पक्ष रोहन बोपन्ना और दूसरा AITA. बोपन्ना का दावा है कि उन्हें अंत तक अंधेरे में रखा गया. AITA ने उनसे लगातार झूठ बोला. जबकि AITA की मानें तो उनकी कोई गलती नहीं है.

इस पूरे विवाद की शुरुआत हुई रोहन बोपन्ना के एक ट्वीट से. सोमवार 19 जुलाई को बोपन्ना ने ट्वीट किया,

‘ITF ने सुमित नागल और मेरी एंट्री कभी भी नहीं स्वीकारी थी. ITF ने पहले ही क्लियर कर दिया था कि 22 जून की नॉमिनेशन डेडलाइन के बाद चोट या बीमारी के अलावा किसी बदलाव की अनुमति नहीं होगी. AITA ने हमारे पास अभी भी मौका है, कहकर प्लेयर्स, सरकार, मीडिया और सभी को धोखे में रखा.’

बोपन्ना के इस ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए सानिया मिर्ज़ा ने ट्वीट किया,

‘क्या??? अगर ये सच है तो यह पूरी तरह से भद्दा और शर्मनाक है… इसका अर्थ ये भी है कि हमने मिक्स्ड डबल्स में मेडल का एक बहुत अच्छा मौका गंवा दिया अगर तुम (बोपन्ना) और मैं प्लान के मुताबिक एक साथ खेलते तो. हम दोनों को ही बताया गया था कि तुम्हारा और सुमित का नाम दिया गया है.’

बस फिर क्या था. बवाल शुरू हो गया. तमाम टेनिस प्लेयर्स के साथ स्पोर्ट्स फै़न्स ने भी इसके लिए AITA को लताड़ना शुरू कर दिया. और इन सबके बीच एक नाम खूब चर्चा में था- अनिल धूपर. बढ़ते विवाद के बाद धूपर ने इंडियन एक्सप्रेस से बात की. सोमवार 19 जून को उन्होंने कहा,

‘किसी भी खिलाड़ी के अपना नाम वापस लेने पर ITF अपडेट देने वाला है. आज आखिरी दिन होना चाहिए. वे अभी भी पहुंच सकते है. रोहन की बात करें तो हमें उसकी मान्यता (एक्रेडिटेशन) पहले ही मिल चुकी है, उसे केवल उड़ान भरनी है. हम ITF के यह कहने का इंतजार कर रहे हैं कि वो क्वॉलिफाइड है.’

जहां एक तरफ AITA अपनी बात पर अड़ा था वहीं ITF ने साफ कर दिया कि इस मसले में बोपन्ना ही सही हैं. एक ई-मेल के जरिए ITF की कम्यूनिकेशन टीम ने इंडियन एक्सप्रेस से कहा,

‘मैं पुष्टि कर सकता हूं कि इवेंट में नए प्लेयर्स को लाने की आखिरी तारीख 16 जुलाई थी. 16 जुलाई तक सिर्फ डबल्स नॉमिनेशन में बदलाव किए जा सकते थे, वो भी तब, जब खिलाड़ी चोटिल या बीमार हो.’

इस मेल का सीधा अर्थ है कि 16 जुलाई के बाद कोई भी टेनिस प्लेयर टोक्यो2020 के लिए क्वॉलिफाई नहीं कर सकता था. ऐसे में बोपन्ना-दिविज शरण की जोड़ी में से दिविज की जगह नागल को नॉमिनेट करने का सवाल ही नहीं पैदा होता. और AITA लगातार यही कह रहा था कि उन्होंने दिविज की जगह बोपन्ना की जोड़ी नागल के साथ बना दी है. और ये लोग टोक्यो2020 में खेलेंगे.

# Sumit Nagal कहां से आए?

अब आप सोच रहे होंगे कि इस पूरे मामले में सुमित नागल कहां से आए? दरअसल बात कुछ ऐसी है कि 14 जून तक मेंस सिंगल्स में नागल की रैंकिंग 144 थी. और इस बीच उनसे बेहतर रैंकिंग वाेले कई प्लेयर्स ने टोक्यो2020 से नाम वापस ले लिया. औक इसके चलते नागल को सिंगल में एंट्री मिल गई.

और ऐसा होते ही AITA ने बनाया प्लान. उन्होंने डबल्स के लिए बोपन्ना-दिविज की जोड़ी को बोपन्ना-नागल की जोड़ी में बदल दिया. अब ये क्यों हुआ? क्योंकि बोपन्ना-दिविज की जोड़ी क्वॉलिफाई करने से चूक गई थी. और ऐसे में AITA ने नियमों का फायदा उठाने की सोची. नियम ये हैं कि डबल्स में टॉप-10 रैंक वाले प्लेयर्स टॉप 300 में शामिल किसी भी प्लेयर के साथ जोड़ी बनाकर ओलंपिक्स खेल सकते हैं.

और इस लिस्ट से बाहर के प्लेयर्स, 14 जून को अपडेट हुई लिस्ट के आधार पर एक संयुक्त रैंकिंग को ध्यान में रखकर ओलंपिक्स खेल सकते थे. मिक्सड रैंकिंग की 32 टीमों के डबल्स ड्रॉ में फिट होने वाली जोड़ी ओलंपिक्स के लिए क्वॉलिफाई कर जाती. बोपन्ना-दिविज की मिक्स्ड रैंकिंग 113 (बोपन्ना 38, दिविज 75) है. ऐसे में इनका क्वॉलिफाई करना संभव नहीं होता.

# बिगड़ गया मामला

ऐसे में सुमित नागल के क्वॉलिफाई करने के बाद AITA ने उन्हें बोपन्ना के साथ डबल्स में उतारने की सोची. बोपन्ना ने इस मसले पर कहा,

’16 जुलाई को धूपर ने मुझे फोन किया और बताया कि, चूंकि सुमित ने सिंगल में क्वॉलिफाई कर लिया है. इसलिए AITA ने दिविज का नाम वापस लेते हुए मेरी जोड़ी उनके साथ बनाकर हमारा नाम ITF को भेज दिया है.’

बोपन्ना ने यह भी साफ किया कि दिविज ने अपना नाम वापस नहीं लिया, बल्कि यह AITA का कारनामा था. बोपन्ना ने यह भी कहा कि AITA ने उन्हें बताया था कि दिविज के साथ की उनकी जोड़ी वेटिंग लिस्ट में चौथे नंबर पर है. और जब दिविज की जगह सुमित का नाम डाला गया तो इसमें कोई बदलाव नहीं आया.

बोपन्ना ने बाद में ITF को मेल कर इस मामले पर जानकारी मांगी. और इसके जवाब में चीजें काफी हद तक साफ हो गईं. ITF ने साफ कर दिया कि चोट या बीमारी के अलावा किसी भी हाल में जोड़ीदार बदला नहीं जा सकता. ऐसे में बोपन्ना और नागल की जोड़ी बननी संभव ही नहीं थी. और AITA की इस गलती के चलते अब बोपन्ना टोक्यो ओलंपिक्स नहीं खेल पाएंगे.


इस स्टोरी की रीसर्च हमारे साथ इंटर्नशिप कर रहीं गरिमा भारद्वाज ने की है.


ऋषभ पंत कोविड से तो उबर गए लेकिन खेलेंगे कब?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

जब ट्रेलर आया था, तबसे लगातार विरोध जारी है.

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

आज जानते हो किसका हैप्पी बड्डे है? माधुरी दीक्षित का. अपन आपका फैन मीटर जांचेंगे. ये क्विज खेलो.

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

कौन सा था वो पहला मीम जो इत्तेफाक से दुनिया में आया?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

चुनावी माहौल में क्विज़ खेलिए और बताइए कितना स्कोर हुआ.

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

राहुल के साथ यहां भी गड़बड़ हो गई.