Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

सबसे खतरनाक रोल की तैयारी कर रहे थे नवाज, पत्नी डर गईं थीं

29.47 K
शेयर्स

नवाजुद्दीन सिद्दीकी के सितारे बुलंद चल रहे हैं. पिछले साल ‘रमन राघव 2.0’ जैसी शानदार फिल्म में झामफाड़ परफॉर्मेंस दी. फिर इस साल की शुरुआत ‘हरामखोर’ से की. ऐसी फिल्म, जिसे शायद कोई दूसरा एक्टर हाथ भी न लगाता. लेकिन नवाज ने खूंटा गाड़ा. अब वह ‘मुन्ना माइकल’ और ‘मंटो’ में जुटे हुए हैं. ‘मुन्ना…’ में उनके साथ टाइगर श्रॉफ होंगे और ‘मंटो’ की डायरेक्टर नंदिता दास हैं. बीते दिनों उन्होंने OPEN मैगजीन को एक इंटरव्यू दिया, जिसमें उनके बारे में ढेर सारे किस्से जानने को मिले. आप भी पढ़िए:

1. जब ‘रमन राघव 2.0’ के लिए प्रैक्टिस करते हुए पत्नी को डरा दिया

नवाज बताते हैं कि मुफलिसी के दिनों में जब उनके पास काम कम था, तो लोगों को ऑब्जर्व करने का पर्याप्त समय था. उन्होंने भीड़ से काफी-कुछ ऐसा इकट्ठा कर रखा है, जिसे वह कैमरे के सामने इस्तेमाल करते हैं. वह ‘लंचबॉक्स’ का उदाहरण देते हुए बताते हैं कि फिल्म रिलीज होने के बाद उनके पास एक दोस्त ने मेसेज भेजा, ‘मैंने फिल्म देखी’. इसके अलावा उस दोस्त ने कुछ नहीं लिखा. ये भी नहीं बताया कि फिल्म अच्छी थी या बुरी. मैसेज इसलिए आया था, क्योंकि फिल्म में नवाज ने अपने उस पुराने रूममेट की कुछ चीजें इस्तेमाल की थीं.

raman-raghav-2.0
‘रमन राघव 2.0’ में नवाजुद्दीन रमन के किरदार में

नवाज ‘रमन राघव 2.0’ की शूटिंग के वक्त का एक किस्सा बताते हैं कि तब वह लोनावला के जंगलों में अपनी लाइनें दोहराते भटकते रहते थे. अकेले ऐसा करने से वह सीरियल किलर के अपने किरदार के और करीब जा पा रहे थे. रमन के किरदार ने उन्हें बीमार भी कर दिया था. ऐसे ही एक बार जब वो फ्लैट में जमीन पर पड़े अपने डायलॉग्स बड़बड़ा रहे थे, तभी उनकी पत्नी वहां आईं. उन्होंने देखा कि नवाज बेहोश पड़े लाइनें दोहरा रहे थे. इस चीज ने नवाज और उनकी पत्नी को बहुत डरा दिया था.

2. ‘मंटो’ के लिए नंदिता से कैसे हुई मुलाकात

नवाज इन दिनों ‘मंटो’ की शूटिंग कर रहे हैं. नंदिता दास के डायरेक्शन वाली यह फिल्म मकबूल अफसानानिगार सआदत हसन मंटो पर बन रही है, जो अपनी लिखी कहानियों की वजह से जिंदगी भर समाज के निशाने पर रहे. नंदिता इस फिल्म की स्क्रिप्ट पर तीन साल से ज्यादा वक्त से काम कर रही थीं. उन्होंने OPEN को बताया कि स्क्रिप्ट पर काम शुरू करने के पहले ही उनके दिमाग में नवाज को लेने का ख्याल था. बतौर डायरेक्टर अपनी पहली फिल्म ‘फिराक’ में भी उन्होंने नवाजुद्दीन को कास्ट किया था.

'मंटो' की डायरेक्टर नंदिता दास (बाएं) के नवाज (बीच में) और राशिका दुग्गल (दाएं)
‘मंटो’ की डायरेक्टर नंदिता दास (बाएं) के नवाज (बीच में) और रशिका दुग्गल (दाएं)

‘मंटो’ के लिए नवाज और नंदिता की पहली मुलाकात 2013 में कान फिल्म फेस्टिवल के दौरान हुई थी. सिद्दीकी वहां अपनी फिल्म ‘मॉनसून शूटआउट’ के लिए गए थे और नंदिता शॉर्ट फिल्म की जूरी में शामिल थीं. दोनों की बात हुई और नंदिता ने नवाज को बताया कि वह करीब दो साल में फिल्म की स्क्रिप्ट पूरी कर पाएंगी. फिर भी नवाज बड़े एक्साइटेड थे. उन्होंने नंदिता को भरोसा दिलाया कि चाहे जितना वक्त लगे, वह इस प्रॉजेक्ट के लिए कमिटेड रहेंगे.

3. मंटो के रोल के लिए ऐसे की तैयारी

सआदत हसन मंटो (बाएं) और नवाजुद्दीन सिद्दीकी (दाएं)
सआदत हसन मंटो (बाएं) और नवाजुद्दीन सिद्दीकी (दाएं)

नंदिता ने तीन साल खर्च करके इस फिल्म की स्क्रिप्ट लिखी है, लेकिन नवाज की तैयारी करने के लिए उनके पास मंटो की कोई वीडियो फुटेज नहीं है, जिससे उनके हाव-भाव पता चल सकें. ऐसे में नवाज के लिए मंटो बनना बेहद मुश्किल रहा. वह शूटिंग शुरू होने से महीनों पहले इसमें जुट गए थे. वह कुर्ता और कमर के ऊपर तक चढ़ा पायजामा पहनने लगे, जो उस समय चलता था. इससे उन्हें किरदार के शरीर को महसूस करने में मदद मिली. अपना कमरा उन्होंने किताबों और तस्वीरों से भर लिया, ताकि साहित्यिक जीवन का अहसास हो. साथ ही, उन्होंने वह हर चीज पढ़ ली, जो मंटो के बारे में उन्हें जरा सा भी क्लू दे सकती थी.

मंटो के किरदार में नवाज
मंटो के किरदार में नवाज

नवाज बताते हैं, ‘मैंने बहुत पहले मंटो की कुछ कहानियां पढ़ी हैं, लेकिन इस तरह कभी नहीं. इसे मुझे मंटो का याद करने में मदद मिलती है. मेरे पास उनका कोई वीडियो नहीं है, तो मुझे लगा कि मुझे जितना हो सके, उनकी चीजों के करीब रहना चाहिए. मैं सोचता रहता हूं कि ऐसा होता, तो मंटो क्या करते, वैसा होता, तो मंटो क्या करते.’

4. सलमान-शाहरुख नहीं, अब हर कोई नवाज बनना चाहता है

नवाजुद्दीन इंडस्ट्री के तीनों खान के साथ काम कर चुके हैं. बॉलीवुड और सिनेमा-प्रेमियों के साथ इस बात को कैसे देखा जाता है, सभी जानते हैं, लेकिन इन बड़े सितारों के बीच भी नवाज अपने हिस्से की तालियां और सबसे तेज हूटिंग बटोरते हैं. पेशेवर ढंग से कास्टिंग का काम करने वाले मुकेश छाबड़ा नवाज के साथ लगातार काम करते रहे हैं. वह बताते हैं कि आजकल उनके पास आने वाले लड़के सलमान या शाहरुख नहीं बनना चाहते. ‘वो कहते हैं कि उन्हें नवाज भाई जैसा बनना है.’

'बजरंगी भाईजान' के एक दृश्य में सलमान खान और नवाजुद्दीन सिद्दीकी
‘बजरंगी भाईजान’ के एक दृश्य में सलमान खान और नवाजुद्दीन सिद्दीकी

यूट्यूब चैनल के लिए वीडियो बनाने वाले ढेर सारे ऐसे लड़के हैं, जो परदे पर एक्टिंग का ख्वाब देखते हैं. उनमें से अधिकतर उन किरदारों की चाह रखते हैं, जैसे नवाज के खाते में आते हैं. भले फुटेज और फोकस ज्यादा न हो, लेकिन किरदार ऐसा हो, जिसके बिना फिल्म न बढ़ पाए.

                                                    ये स्टोरी लल्लनटॉप के साथ इंटर्नशिप कर रहे प्रतीक ने की है.


ये भी पढ़ें:

लंचबॉक्स से दस साल पहले साथ में ये फिल्म की थी इरफान और नवाज ने

नवाजुद्दीन ने पाउडर लगा लिया है, अब राज मल्होत्रा बेरोजगार हो जाएगा!

नवाज़ की एक ही जान है, या तो अल्लाह लेगा या मोहल्ला

गैंग्स ऑफ वासेपुर की मेकिंग से जुड़ी ये 24 बातें जानते हैं आप!

आमिर ख़ान फिल्म के हीरो थे, पर ये एक्टर 1 लाइन बोलकर भी ज्यादा याद रहा

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

ये क्विज जीत नहीं पाए तो तुम्हारा बचपन बेकार गया

आज कार्टून नेटवर्क का 25वां बर्थडे है.

RSS पर सब कुछ था बस क्विज नहीं थी, हमने बना दी है...खेल ल्यो

आज विजयदशमी के दिन संघ अपना स्थापना दिवस मनाता है.

करीना कपूर के फैन हो तो इ वाला क्विज खेल के दिखाओ जरा

बेबो वो बेबो. क्विज उसकी खेलो. सवाल हम लिख लाए. गलत जवाब देकर डांट झेलो.

गेम ऑफ थ्रोन्स खेलना है तो आ जाओ मैदान में

गेम ऑफ थ्रोन्स लिखने वाले आर आर मार्टिन का जनम दिन है. मौका है, क्विज खेल लो.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

अगर जवाब है, तो आओ खेलो. आज ध्यानचंद की बरसी है.

KBC क्विज़: इन 15 सवालों का जवाब देकर बना था पहला करोड़पति, तुम भी खेलकर देखो

अगर सारे जवाब सही दिए तो खुद को करोड़पति मान सकते हो बिंदास!

इन 10 सवालों के जवाब दीजिए और KBC 9 में जाने का मौका पाइए!

अगर ये क्विज जीत लिया तो केबीसी 9 में कोई हरा नहीं सकता

राजेश खन्ना ने किस नेता के खिलाफ चुनाव लड़ा और जीता था?

राजेश खन्ना के कितने बड़े फैन हो, ये क्विज खेलो तो पता चलेगा.

कोहिनूर वापस चाहते हो, लेकिन इसके बारे में जानते कितना हो?

पिच्चर आ रही है 'दी ब्लैक प्रिंस', जिसमें कोहिनूर की बात हो रही है. आओ, ज्ञान चेक करने वाला खेल लेते हैं.

न्यू मॉन्क

इंसानों का पहला नायक, जिसके आगे धरती ने किया सरेंडर

और इसी तरह पहली बार हुआ इंसानों के खाने का ठोस इंतजाम. किस्सा है ब्रह्म पुराण का.

इस गांव में द्रौपदी ने की थी छठ पूजा

छठ पर्व आने वाला है. महाभारत का छठ कनेक्शन ये है.

भारत के अलग-अलग राज्यों में कैसे मनाई जाती है नवरात्रि?

गुजरात में पूजे जाते हैं मिट्टी के बर्तन. उत्तर भारत में होती है रामलीला.

औरतों को कमजोर मानता था महिषासुर, मारा गया

उसने वरदान मांगा कि देव, दानव और मानव में से कोई हमें मार न पाए, पर गलती कर गया.

गणेश चतुर्थी: दुनिया के पहले स्टेनोग्राफर के पांच किस्से

गणपति से जुड़ी कुछ रोचक बातें.

इन पांच दोस्तों के सहारे कृष्ण जी ने सिखाया दुनिया को दोस्ती का मतलब

कृष्ण भगवान के खूब सारे दोस्त थे, वो मस्ती भी खूब करते और उनका ख्याल भी खूब रखते थे.

ब्रह्मा की हरकतों से इतने परेशान हुए शिव कि उनका सिर धड़ से अलग कर दिया

बड़े काम की जानकारी, सीधे ब्रह्मदारण्यक उपनिषद से.

इस्लाम में नेलपॉलिश लगाने और टीवी देखने को हराम क्यों बताया गया?

और हराम होने के बावजूद भी खुद मौलाना क्यों टीवी पर दिखाई देते हैं?

सावन से जुड़े झूठ, जिन पर भरोसा किया तो भगवान शिव माफ नहीं करेंगे

भोलेनाथ की नजरों से कुछ भी नहीं छिपता.

हिन्दू धर्म में जन्म को शुभ और मौत को मनहूस क्यों माना जाता है?

दूसरे धर्म जयंती से ज़्यादा बरसी मनाते हैं.