Submit your post

Follow Us

जिसके लिए प्रियंका ने सलमान की 'भारत' छोड़ी थी, उस फिल्म का ट्रेलर देखकर आप भी कहेंगे- सही किया

प्रियंका चोपड़ा तीन साल बाद किसी हिंदी फिल्म में नज़र आने वाली हैं. फिल्म का नाम है ‘द स्काई इज़ पिंक’. ये वही फिल्म है, जिसके लिए प्रियंका ने सलमान खान की फिल्म ‘भारत’ छोड़ी थी. उसका ट्रेलर आ गया है. असल घटना से प्रेरित ये फिल्म तो दिलचस्प लग रही है लेकिन इसके बनने के पीछे की कहानी बड़ी हृदय विदारक है. फिल्म की कहानी, इसके पीछे का आइडिया, फिल्म को बनाने वाले जीवन से जुड़ी एक दर्दनाक घटना और इसमें काम करने वाले लोगों के बारे में हम नीचे बात करेंगे.

शुरू करते हैं कहानी से

फिल्म ‘द स्काई इज़ पिंक’ आयशा चौधरी नाम की एक लड़की की कहानी से इंस्पायर्ड है. दिल्ली की रहने वाली आयशा की बीमारियों से लड़ने की क्षमता (Immune deficiency) पैदा होने के समय से ही नहीं थी. जब 6 महीने की हुईं तब बोन मैरो ट्रांसप्लांटेशन करवाना पड़ा. इस ऑपरेशन का आयशा पर साइड इफेक्ट हो गया. उन्होंने पल्मनरी फाइब्रोसिस हो गया. ये लंग्स की बीमारी है, जिसमें सांस लेने में तकलीफ होने लगती है. और ये दिक्कत बढ़ती ही जाती है. इसी वजह से 2015 में 18 साल की उम्र में आयशा की मौत हो चुकी है. ये तो आयशा की पर्सनल स्टोरी है. जिस वजह से उन पर ये फिल्म बन रही है, वो है उनकी अचीवमेंट्स. वो 15 साल की उम्र में मोटिवेशनल स्पीकर बन गई थीं. आयशा ने ‘माय लिटल एपिफनीज़’ (My Little Epiphanies) नाम की एक किताब भी लिखी थी, जो उनकी मौत के ठीक एक दिन पहले रिलीज़ हुई थी. अब इसी कहानी पर फिल्म बन रही है.

अपने एक स्पीकिंग सेशन के दौरान आयशा चौधरी और दूसरी तस्वीर में अपने घर में आयशा.
अपने एक स्पीकिंग सेशन के दौरान आयशा चौधरी और दूसरी तस्वीर में अपने घर में आयशा.

ट्रेलर में क्या दिख रहा है?

फिल्म का ट्रेलर खुलता है एक लव स्टोरी से. फिर धीरे-धीरे ये ट्रैजेडी की ओर बढ़ती है, जिसकी वजह उस कपल की बेटी है. बात ये है कि आयशा चौधरी की कहानी बहुत डिटेल में किसी को नहीं पता. इसलिए फिल्म और ओरिजिनल घटना में अंतर बताना मुश्किल है. हालांकि ट्रेलर में बीमारी का नाम (बुलसफन लंग डैमेज) अलग सा लग रहा है, लेकिन वो भी लंग्स से ही जुड़ा है. फिल्म का फोकस आयशा की बीमारी से लड़ाई और इस दौरान उनके माता-पिता के संघर्ष पर रखा गया है. हालांकि ये फिल्म काफी रियलिस्टिक होने जा रही है, ट्रेलर ये इंप्रेशन देकर जाता है. क्योंकि बड़े दिनों बाद किसी फिल्म में पैसे की कोई बात हुई है. फिल्म का ह्यूमर भी काफी स्वीट लग रहा है. पूरी कहानी तो फिल्म की रिलीज़ के बाद पता लगेगी लेकिन ट्रेलर ने प्लॉट की एक झलकी तो दिखा ही दी है. और ये चीज़ फिल्म के फेवर में काम कर रही है. कुल मिलाकर ये इंट्रेस्टिंग मामला लग रहा है.

फिल्म के एक सीन में प्रियंका चोपड़ा. ये फिल्म एक कपल के जीवन के 25 साल के पीरियड की बात करेगी.
फिल्म के एक सीन में प्रियंका चोपड़ा. ये फिल्म एक कपल के जीवन के 25 साल लंबे पीरियड की बात करेगी.

कौन बना रहा है?

इस फिल्म को डायरेक्ट किया है शोनाली बोस ने. शोनाली ने अपने डायरेक्शन करियर की शुरुआत 2005 में आई क्रिटिकली अक्लेम्ड फिल्म ‘अमु’ से किया था. 2012 में आई मनोज बाजपेयी की फिल्म ‘चिटगांव’ (Chittagong) की कहानी भी उन्होंने ही लिखी थी. अगली बार डायरेक्शन में लौटीं 2015 में आई फिल्म ‘मार्गरिटा विद अ स्ट्रॉ’ के साथ. ये फिल्म शोनाली की कज़िन मालिनी चिब की कहानी से प्रेरित थी. मालिनी को सेलेब्रल पॉल्सी नाम की बीमारी थी (वही बीमारी जो अनुष्का को ‘ज़ीरो’ में थी). अब जो उनकी ‘द स्काई इज़ पिंक’ आ रही है और वो भी एक असल घटना से ही प्रेरित है. लेकिन इस कहानी को बनाने के पीछे शोनाली की एक पर्सनल वजह भी थी.

फिल्म की शूटिंग के दौरान डायरेक्टर शोनाली बोस के साथ प्रियंका और ज़ायरा.
फिल्म की शूटिंग के दौरान डायरेक्टर शोनाली बोस के साथ प्रियंका और ज़ायरा.

बेटे की मौत

शोनाली का 16 साल का बेटा ईशान लॉस एंजेलिस में पढ़ाई कर रहा था. एक दिन शेविंग करने के दौरान ईशान के इलेक्ट्रिक रेज़र से स्पार्क निकलने लगा. इस वजह से कमरे में आग लग गई. और ईशान की इस आग में बुरी तरह जलने से मौत हो गई. शोनाली ने उस रेज़र कंपनी के खिलाफ केस किया. कंपनी ने कहा कि उनके प्रोडक्ट में खराबी नहीं थी. उनका बच्चा ड्रग्स करता था. इसी नशे में उसने खुद को आग लगा लिया. साथ ही ये भी कहा गया कि उनके बेटे की मौत के बाद उनकी लाइफ अच्छी हो जाएगी क्योंकि उन्हें अमेरिका में पढ़ने वाले बेटे की स्कूल फीस नहीं देनी पड़ेगी. फाइनली हुआ ये कि रेज़र कंपनी केस जीत गई. आयशा की उम्र भी उनके बेटे की ही उम्र के आसपास थी. इसलिए उन्होंने इस कहानी को कहने के लिए चुना.

ट्रेलर के एक सीन में फरहान, ज़ायरा, रोहित और प्रियंका.
ट्रेलर के एक सीन में फरहान, ज़ायरा, रोहित और प्रियंका.

कौन-कौन काम कर रहा है?

2016 में आई प्रकाश झा की ‘जय गंगाजल’ के बाद प्रियंका चोपड़ा इस हिंदी फिल्म में दिखाई देने वाली हैं. पिछले कुछ समय में वो हॉलीवुड प्रोजेक्ट्स में व्यस्त थीं. ‘दिल धड़कने दो’ के बाद एक बार फिर प्रियंका और फरहान अख्तर की जोड़ी इस फिल्म में नज़र आएगी. फरहान और प्रियंका आयशा के माता-पिता अदिति और नीरेन के रोल में दिखने वाले हैं. आयशा चौधरी का रोल कर रही हैं बॉलीवुड को टाटा बोल चुकीं ज़ायरा वसीम. और आयशा के भाई ईशान का रोल कर रहे हैं रोहित सराफ. रोहित इससे पहले ‘डियर ज़िंदगी’, ‘हिचकी’ और ‘व्हाट विल पिपल से’ जैसी फिल्मों में काम कर चुके हैं. 13 सितंबर को इस फिल्म का टोरंटो फिल्म फेस्टिवल में वर्ल्ड प्रीमियर किया जाना है. इसे मुंबई, दिल्ली, अंडमान निकोबार और लंदन जैसी जगहों पर शूट किया गया है. रिलीज़ की तारीख है 11 अक्टूबर.

फिल्म का ट्रेलर आप यहां देख सकते हैं:


वीडियो देखें: सनी देओल के बेटे की पहली फ़िल्म के ट्रेलर में सिर्फ एक ही चीज़ देखने लायक है

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.

अमिताभ बच्चन तो ठीक हैं, दादा साहेब फाल्के के बारे में कितना जानते हो?

खुद पर है विश्वास तो आ जाओ मैदान में.

‘ताई तो कहती है, ऐसी लंबी-लंबी अंगुलियां चुडै़ल की होती हैं’

एक कहानी रोज़ में आज पढ़िए शिवानी की चन्नी.

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो कितना जानते हो उनको

मितरों! अच्छे नंबर चइये कि नइ चइये?