Submit your post

रोजाना लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

Follow Us

भारत में टेरर फंडिंग के सबसे बड़े केस में गवाही देने क्यों आए हैरी पॉटर?

138
शेयर्स

जहूर वटाली. ये नाम उस शख्स का है, जिसे भारत की खुफिया एजेंसियां कश्मीर में आतंकवादियों को फंडिंग करने वाला सबसे बड़ा सरगना मानती हैं. 17 अगस्त 2017 को खुफिया एजेंसियों ने जहूर वटाली को कश्मीर से गिरफ्तार किया था. इसके एक हफ्ते बाद 24 अगस्त को सात और अलगाववादियों आफताब हिलाली शाह उर्फ शाहिद उल-इस्लाम, अयाज अकबर खांडे, फारूक अहमद डार उर्फ बिट्टा कराटे, नईम खान, अल्ताफ अहमद शाह, राजा मेहराजुद्दीन कलवल और बशीर अहमद भट्ट उर्फ पीर सैफुल्लाह को सुरक्षा एजेंसियों ने गिरफ्तार किया था. गिरफ्तारी के बाद सुरक्षा एजेंसियों ने कहा था कि जहूर वटाली को आतंकी संगठन हुर्रियत का मनी बैग कहा जा सकता है. एजेंसियों ने बताया था कि जहूर वटाली श्रीनगर में बागात बरजाला का रहने वाला है. वो कश्मीर का एक बड़ा कारोबारी है, जो पार्टी लाइन से हटकर कश्मीर के सभी नेताओं से सियासी संबंध रखता है. इन्हीं संबंधों की बदौलत जहूर वटाली ने कश्मीर से लेकर यूएई और यूरोप तक कारोबार फैला रखा है.

एनआईए ने लगाए थे कई आरोप

जहूर वटाली को एनआईए ने 17 अगस्त 2017 को गिरफ्तार किया था.
जहूर वटाली को एनआईए ने 17 अगस्त 2017 को गिरफ्तार किया था.

इसके बाद जहूर वटाली के खिलाफ सुरक्षा एसेंजियों ने कई सबूत इकट्ठे किए. कहा गया कि वटाली ने 2004-05 में दिल्ली में गलत तरीके से एनआरआई खाता मेंटेन किया था. इस खाते में हर महीने दुबई से 2 से 2.60 लाख रुपये आते थे. इसके अलावा वटाली का यूएई के RAK बैंक में भी खाता था, जहां से उसने मार्च 2011 से दिसंबर 2011 के बीच 53.60 लाख रुपये ट्रांसफर किए थे. सुरक्षा एजेंसियों ने वटाली के खिलाफ कोर्ट में जो चार्जशीट दाखिल की, उसमें आरोप लगाया गया था कि वटाली पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई के जरिए आतंकी हाफिज मोहम्मद सईद से पैसे लेता है. इसके अलावा वो पाकिस्तान हाई कमीशन और दुबई के अपने एक सोर्स से पैसे लेता है. वटाली पर ऐसे आरोप लगते रहे, सुरक्षा एजेंसियां जांच करती रहीं और उसके कश्मीर से लेकर दिल्ली तक के ठिकानों पर छापेमारी की गई. लेकिन अब आरोपों की पुष्टि के लिए जांच एजेंसियों को गवाहों की ज़रूरत थी. और फिर सुरक्षा एजेंसियों ने जिन गवाहों को पेश किया, उनके नाम बेहद चौंकाने वाले थे. इन नामों ने हैरी और पॉटर नाम के भी दो गवाह थे, जिन्हें दुनिया जेसिका रॉलिंग की किताब के किरदार के रूप में जानती है.

पटियाला कोर्ट ने खारिज कर दी जमानत याचिका

पटियाला कोर्ट ने जहूर वटाली की जमानत खारिज़ कर दी थी.

वटाली के खिलाफ जांच कर रही सुरक्षा एजेंसी एनआईए ने 18 जनवरी को चार्जशीट पेश की थी. दिल्ली की पटियाला कोर्ट ने वटाली की जमानत याचिका खारिज कर दी थी. वटाली ने दिल्ली हाई कोर्ट में निचली अदालत के फैसले को चुनौती दी थी. एनआईए ने दिल्ली हाई कोर्ट में वटाली के खिलाफ 8 गवाह पेश किए थे. जज के सामने सीआरपीसी की धारा 164 के तहत इन गवाहों के बयान होने थे. इन गवाहों के नाम थे चार्ली, रोमियो, अल्फा, गामा, पई, पॉटर, हैरी और कॉक्स. ये सभी छद्म नाम थे. ऐसा इसलिए किया गया था कि केस बड़ा था और गवाहों के नाम सामने आने पर उन्हें खतरा हो सकता था. इसलिए सुरक्षा एजेंसियों ने बेहद चालाकी से अपने गवाहों के नाम छुपा लिए और उन्हें एक कोड नाम दे दिया. हालांकि वटाली के खिलाफ गवाही देने वालों में एक नाम गुलाम मोहम्मद भट्ट का भी था, जो वटाली का एकाउंटेंट था. उसे सबलोग जानते थे, इसलिए सुरक्षा एजेंसियों ने उसका नाम नहीं छुपाया. एआईए ने कोर्ट में कुछ दस्तावेज पेश किए थे. इन दस्तावेज में दस्तावेज 132 में एनआईए ने कहा था कि कुछ अलगाववादी नेता जैसे मसर्रत आलम, यासीन मलिक, शब्बीर शाह और सैयद अली शाह गिलानी को भी वटाली ने पैसे दिए थे. हालांकि कोर्ट में जांच एजेंसी ये नहीं बता पाई कि वटाली ने किस तारीख को किसे और कितने पैसे दिए थे.

नवाज शरीफ ने भी लिखा था वटाली को पत्र

जांच एजेंसी के मुताबिक पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने भी जहूर वटाली को पत्र लिखकर शुक्रिया कहा था.
जांच एजेंसी के मुताबिक पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने भी जहूर वटाली को पत्र लिखकर शुक्रिया कहा था.

पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने भी वटाली को एक पत्र लिखा था. इस पत्र में नवाज शरीफ ने बुके और शुभकामनाओं के लिए शुक्रिया कहा था. इसके अलावा और भी 70-80 कागजात थे, लेकिन कोर्ट ने इन्हें सबूत मानने से इन्कार कर दिया, क्योंकि कोर्ट ने कहा कि इन कागजों को सील नहीं किया गया था.

वटाली ने लिए थे पाकिस्तान से पैसे!

हाफिज सईद मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड है. पाकिस्तान में आतंकवादियों के इतने मजे हैं कि हाफिज सईद ने भी पार्टी बना ली है.
हाफिज सईद मुंबई हमलों का मास्टरमाइंड है. एनआईए के मुताबिक जहूर वटाली ने हाफिज से भी पैसे लिए थे.

जांच एजेंसी ने कोर्ट में वटाली के खिलाफ आरोप लगाए थे कि वटाली ने पाकिस्तान से पैसे लिए थे और उसे पाकिस्तान हाई कमीशन से निर्देश मिलते थे. लेकिन वटाली के वकील ने कहा कि ऑल पार्टी हुर्रियत कॉन्फ्रेंस एक प्रतिबंधित संगठन नहीं है, लिहाजा उससे ताल्लुकात रखना गुनाह नहीं है. इसके अलावा इस बात के कोई सबूत नहीं हैं कि वटाली ने पाकिस्तान हाई कमीशन या हाफिज सईद से पैसे लिए हैं. इन सारे गवाहों को सुनने, सबूतों को देखने और वटाली के वकील की जिरह के बाद दिल्ली हाई कोर्ट में जस्टिस एस मुरलीधर और जस्टिस विनोद गोयल की कोर्ट ने 13 सितंबर को जहूर वटाली को 2 लाख रुपये के बॉन्ड पर जमानत दे दी. इस दौरान वटाली के वकील ने कोर्ट से कहा कि एनआईए ने उसे गवाहों के बयान की कॉपी भी नहीं दी है. अब एनआईए ने वटाली की जमानत को खारिज करने के लिए सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है.


2007 के हैदराबाद बम धमाकों में इंडियन मुजाहिद्दीन के दो आतंकियों को उम्रकैद

लल्लनटॉप न्यूज चिट्ठी पाने के लिए अपना ईमेल आईडी बताएं !

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Terror funding case : NIA produced Harry Potter as witness in the court against Zahoor Watali who was arrested in August 2017 for terror funding in India

कौन हो तुम

कंट्रोवर्शियल पेंटर एम एफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एम.एफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद तो गूगल कर आपने खूब समझ लिया. अब जरा यहां कलाकारी दिखाइए

KBC क्विज़: इन 15 सवालों का जवाब देकर बना था पहला करोड़पति, तुम भी खेलकर देखो

अगर सारे जवाब सही दिए तो खुद को करोड़पति मान सकते हो बिंदास!

राजेश खन्ना ने किस हीरो के खिलाफ चुनाव लड़ा और जीता था?

राजेश खन्ना के कितने बड़े फैन हो, ये क्विज खेलो तो पता चलेगा.

QUIZ: आएगा मजा अब सवालात का, प्रियंका चोपड़ा से मुलाकात का

प्रियंका की पहली हिंदी फिल्म कौन सी थी?

कौन है जो राहुल गांधी से जुड़े हर सवाल का जवाब जानता है?

क्विज है राहुल गांधी पर. आगे कुछ न बताएंगे. खेलो तो बताएं.

Quiz: संजय दत्त के कान उमेठने वाले सुनील दत्त के बारे में कितना जानते हो?

जिन्होंने अपनी फ़िल्मी मां से रियल लाइफ में शादी कर ली.

क्विज़: योगी आदित्यनाथ के पास कितने लाइसेंसी असलहे हैं?

योगी आदित्यनाथ के बारे में जानते हो, तो आओ ये क्विज़ खेलो.

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

आज जानते हो किसका हैप्पी बड्डे है? माधुरी दीक्षित का. अपन आपका फैन मीटर जांचेंगे. ये क्विज खेलो.

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 31 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.