Submit your post

Follow Us

अगली बार सेल्फी लेने से पहले ये जरूर जान लें

स्मार्टफोन्स के इस समय में दुनिया सेल्फी के लिए पगलाई जा रही है. सोशल मीडिया में ऊल-जुलूल सेल्फी खूब तैरती दिखती हैं. पहले फोटो खींचने का काम हुनरमंद लोगों के जिम्मे होता था. लेकिन आजकल तो हर दूसरा इंसान आपको अजीब सी जगह पर अजीब सी शक्ल बनाकर खुद की फोटो लेता दिख जाएगा. भारत में कई चीज़ें पॉप-कल्चर का हिस्सा हैं, लेकिन सेल्फी लेने को इसमें पहला स्थान दे दिया जाए तो कोई गलती नहीं होगी. इन दिनों ये बीमारी इतनी बढ़ गई है कि कई बार तो लोग सेल्फी के चक्कर में अपनी जान की भी फ़िक्र नहीं करते. 2015 की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सेल्फी लेते हुए एक्सीडेंट का शिकार होने वाले लोगों की लिस्ट में इंडिया ने दुनिया के सभी देशों को पछाड़ कर पहला पायदान हासिल किया है. ऐसा करने वालों में से सबसे ज़्यादा 24 साल या उससे कम के युवा हैं. हम आपको कुछ ऐसे ही चुनिंदा कांडों के बारे में बता रहे हैं, जब लोग सोशल मीडिया पर हाइलाईट होेने के चक्कर में रियल लाइफ से गायब हो गए.

#1. अगस्त 2 0 1 6  में  केरल के शोरानुर रेलवे स्टेशन पर 14 साल का एक लड़का ट्रेन की छत पर चढ़कर सेल्फी लेने की कोशिश कर रहा था. इस दौरान उसे ट्रेन के ऊपर लगे इलेक्ट्रिक वायर्स की भनक तब तक नहीं लगी, जब तक उन तारों ने उसे जलाकर ट्रेन से नीचे नहीं फ़ेंक दिया.

maxresdefault

#2. कुछ दिन पहले ही टीवी पर एक ख़बर फ़्लैश हो रही थी कि नागपुर से 25 किलोमीटर दूर वेना डैम में 8 लड़कों से भरी नाव डूब गई. और ये सब हुआ फेसबुक लाइव करने के बाद. ये एक्सीडेंट होने से ऐन पहले उन्होंने एक फेसबुक लाइव किया था और दूसरे की तैयारी में थे, जिसके लिए वो नाव पर खड़े होकर पोज़ देने की कोशिश कर रहे थे. तभी नाव पलट गई और वो डूब गए.

#3. सितम्बर 2016 की बात है, तमिलनाडु के नमक्कल में इंजीनियरिंग का एक छात्र चट्टान पर चढ़कर सेल्फी ले रहा था. लड़के के खड़े होने के कारण चट्टान हिल गई और लड़का फिसलकर 60 फीट गहरी खाई में जा गिरा. उसकी मौत हो गई.

selfie-deaths
सांकेतिक तस्वीर

#4. 2016  के मई महीने में पंजाब के लुधियाना शहर में अपने पिता की पिस्तौल के साथ सेल्फी लेने की कोशिश में एक बच्चे की जान चली गई. दरअसल वो बच्चा पिस्तौल के साथ पोज़ मार रहा था, लेकिन गलती से बंदूक का ट्रिगर दब गया और उसे गोली लग गई जिससे उसकी मौत हो गई.

22.-flickr-Sam-Sherratt-610x919
सांकेतिक तस्वीर

#5. सितम्बर  2016 में ही जापान से भारत आई एक टूरिस्ट ताजमहल की सीढ़ियों पर सेल्फी लेने के चक्कर में फिसल गई, जिसके चलते उसकी मौत हो गई और वो इंडिया में हुई सेल्फी डेथ की लिस्ट में शामिल हो गई.

Una-taking-a-selfie-in-front-of-Taj-Mahal
सांकेतिक तस्वीर

अभी मैंने एक फ़ोन का ऐड देखा, जिसकी टैग लाइन है ‘welcome to selfistaan’. यहां लोग सेल्फी लेकर मरे जा रहे हैं और फ़ोन कंपनी वाले इस देश को हिन्दुस्तान से सेल्फिस्तान बनाने पर तुले हुए हैं. भइया आपके सेल्फिस्तान के चक्कर में हमारा हिन्दुस्तान कब्रिस्तान बनता जा रहा है. भाई साब… लोग रहेंगे, तभी तो फ़ोन खरीदेंगे न!

बात गंभीर तब लगती है, जब एक रिसर्च से ये पता चलता है कि जितने लोग दुनिया भर में हर साल शार्क अटैक से मरते हैं, उससे ज्यादा लोग सेल्फी लेने के चक्कर में मर जाते हैं. अरे यार मतलब ऐसा भी क्या पागलपन. हमारा देश शायद पहला ऐसा देश होगा, जहां सरकार को आदेश देना पड़ता है कि अपनी जान की परवाह खुद करें और खतरनाक जगहों पर सेल्फी न लें. केंद्रीय सड़क-परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने भी एक वीडियो बनाकर जनहित में जारी करवा दिया है, जो यूट्यूब देखते वक़्त अपनी मनमर्ज़ी से चलने लगता है और आपका वीडियो देखने का सारा मजा ख़राब करके चला जाता है.

 

 

2015 में इलाहाबाद में कुंभ के दौरान भी सरकार को नो सेल्फी ज़ोन  बनाना पड़ा था ताकि उस भीड़-भाड़ में भी लोग सेल्फी लेने के चक्कर में परेशानी न खड़ी कर दें. यही नहीं मुंबई में सेल्फी के कारण बढ़ते हादसों के चलते एक दर्जन से भी ज्यादा जगहों पर सेल्फी बैन कर दिया गया है, जिसमें रेलवे ट्रैक से लेकर सड़क और मेट्रो तक शामिल हैं. सेल्फी का खौफ तो अब सरकारी महकमों तक भी पहुंच गया है जिसके चलते भारतीय पुरातत्‍व सर्वेक्षण विभाग (Archaeology Survey of India) ने भी 46  म्यूजियमों में सेल्फी स्टिक ले जाने पर बैन लगा दिया है. हालांकि आपको अपना फ़ोन साथ ले जाने की इजाज़त होगी. मतलब ये कि अब से चुनिंदा जगहों पर सेल्फी लेना भी दंडनीय अपराध की श्रेणी में आएगा. पर्यटन मंत्रालय ने लोगों की सुरक्षा के लिए ‘नो सेल्फी जोन’ बनाने के निर्देश तो दे दिए हैं लेकिन देखना है कि वो अमल में कब तक आता है.

जब से सेल्फी की वजह से होने वाले हादसों में बढ़ोतरी होनी शुरू हुई है, तब से इस चीज़ के ऊपर कई तरह की रिसर्च की गई हैं. कुछ खास रिसर्च रिजल्ट्स का ज़िक्र हम यहां कर रहे हैं:

#. नवम्बर 2016 में एक ब्रिटिश अखबार द्वारा किए गए रिसर्च से ये पता चला है कि मार्च 2014 से लेकर सितम्बर 2016 तक (29 महीने) कुल 127 हादसे सेल्फी लेने के कारण हुए हैं. इनमे से अधिकतर हादसे ख़तरनाक और अजीब जगहों पर सेल्फी लेने के चक्कर में हुए हैं.

#. कैलिफ़ोर्निया के कार्नेगी मेलन यूनिवर्सिटी और भारत की इंद्रप्रस्थ इंस्टीट्यूट ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी ने मिलकर “Me, Myself and My Killfie: Characterizing and Preventing Selfie Deaths” नाम से एक स्टडी की है, जिससे पता चलता है कि लोग सेल्फी खींचने को अभिव्यक्ति का एक जरिया मानते हैं और खुद को एडवेंचरस दिखाने के लिए अजीबोगरीब सेल्फियां सोशल मीडिया पर अपलोड करते हैं. ये सब करने के दौरान 2014 के बाद से दुनियाभर में तक़रीबन 127 मौतें हुई हैं जिनमें सबसे ज्यादा 76 मौतें भारत में हुई हैं.

#. International Journal of Emergency Mental Health and Human Resilience ने एक रिसर्च किया जिसमें उन्होंने ये पता लगाने की कोशिश की कि क्या युवाओं में सेल्फी एक लत की तरह है? उनका जवाब है ‘शायद’ हां या ‘शायद नहीं’. मतलब उनके रिसर्च से भी ये बात साफ़ नहीं हो पाई. ये जवाब एक तरह की दुविधा को जन्म देता है, लेकिन इस बात को पुख्ता बिल्कुल नहीं करता कि युवाओं में सेल्फी की लत है या उन्हें इसकी तलब महसूस होती है.

अब आप इससे अंदाज़ा लगा सकते हैं कि सेल्फी लेने की बीमारी किस कदर भारत में ‘महामारी’ का रूप ले चुकी है. सरकार चाहे कितने भी कदम उठा ले तब-तक कोई फायदा नहीं होगा, जब-तक हम खुद ही इन हादसों से सबक लेकर सचेत न हो जाएं. तो भइया हमारी भी आप सब से यही गुज़ारिश है कि सेल्फी लें लेकिन ऐसे न लें कि अगली बार सेल्फी लेने लायक ही न बचे. तो अपना भी ख्याल रखें और अपने आस-पड़ोस वालों को भी समझाएं.


ये भी पढें:

वो पुरुष सुपरस्टार, जिसके महिला बनकर नाचने पर माधुरी दीक्षित हैरान हो गई थीं

पीएम मोदी ने अगर इस कांग्रेसी सांसद की बात नहीं मानी, तो असम में डूब सकती है बीजेपी

वो डायरेक्टर, जिसने सेल्समैन की नौकरी के दूसरे महीने सैलरी से 200 गुना ज्यादा पैसे कमाए

कौन है ये निश्चय लूथरा, जिसके लिए इंडियन क्रिकेटर्स अपना नाम तक बदले ले रहे हैं

माइकल मधुसूदन दत्त: वो कवि जिसने शादी से बचने के लिए धर्म बदल लिया

बच्चों को सेक्स, पीरियड्स के बारे में नहीं बताएंगे, तो वो लड़कियों को चरित्रहीन ही समझेंगे

घर वालों की बंदिशों से परेशान युवा का अपने मम्मी-पापा को खुला खत

हाथ पर लकीरें ही न हों तो कैसे बनेगा आधार कार्ड?

उस एक्ट्रेस की 6 बातें , जिसने आमिर खान की फिल्म में ऐश्वर्या को रिप्लेस किया था

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

जब ट्रेलर आया था, तबसे लगातार विरोध जारी है.