Submit your post

Follow Us

एक साल में सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच कहां से चल के कहां तक पहुंची?

सुशांत सिंह राजपूत. बॉलीवुड का चमकता सितारा. आज से ठीक एक साल पहले यानी 14 जून 2020 के दिन दुनिया को अलविदा कह गया. सुशांत अपने बेडरूम में मृत पाए गए. पिछले एक साल में उनकी मौत पर तमाम तरह की बातें हुईं. लेकिन आज एक साल बाद भी जांच एजेंसियां पुख्ता तौर पर यह नहीं बता पाई हैं कि आखिर उनकी मौत कैसे हुई. आइए आपको लेकर चलते हैं इस मामले के उन महत्वपूर्ण पड़ावों पर जहां से होकर केस अब तक गुजरा है.

14 जून, 2020

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत मुंबई में अपने बांद्रा के अपार्टमेंट में मृत पाए गए. घर में काम करने वाले एक सहयोगी ने इसकी जानकारी पुलिस को दी और मौके पर पहुंच कर पुलिस ने जांच शुरू कर दी. मुंबई पुलिस की तरफ से प्रवक्ता DCP प्रणय अशोक ने आधिकारिक बयान जारी करते हुए कहा

“सुशांत सिंह राजपूत ने सुसाइड कर लिया है. मुंबई पुलिस मामले की जांच कर रही है. पुलिस को कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है.”

सुशांत सिंह राजपूत की टीम की तरफ से भी स्टेटमेंट जारी किया गया जिसमें कहा गया

“ये बताते हुए हमें बहुत पीड़ा हो रही है कि सुशांत सिंह राजपूत अब हमारे बीच नहीं है. हम उनके फैंस से आग्रह करते हैं कि वह उन्हें अपने विचारों में रखते हुए पहले की तरह ही उनकी जिंदगी और उनके काम का जश्न मनाएं. हम मीडिया से गुजारिश करते हैं कि दुख की इस घड़ी में प्राइवेसी बनाए रखने में हमारी मदद करें.”

15 जून, 2020

पुलिस ने बयान दिया कि जांच से पता चला है कि सुशांत सिंह राजपूत डिप्रेशन का शिकार थे. (स्टोरी यहां क्लिक करके देखें)

# सुशांत सिंह राजपूत के जीजा और आईपीएस अधिकारी ओपी सिंह ने मौत के संदिग्ध होने की आशंका जताई. उन्होंने इस एंगल से भी जांच की बात कही.

# कंगना रनौत ने इसके लिए फिल्म इंडस्ट्री के एक हिस्से को इसका जिम्मेदार बताया. उन्होंने कहा कि सुशांत को इन लोगों ने जानबूझ कर इग्नोर किया. उन्होंने सुसाइड की बात को भी गलत बताया और साफ कहा कि सुशांत काफी मेधावी थे और वह ‘कमजोर दिमाग’ के कैसे हो सकते हैं.

16 जून 2020

महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि मुंबई पुलिस अपनी जांच के दौरान मीडिया में चल रही उन रिपोर्ट को भी ध्यान में रखेगा जिसमें सुशांत के डिप्रेशन से जूझने और पेशेवर प्रतिद्वंद्विता की बात कही गई है.

पोस्टमार्टम रिपोर्ट कह रही है कि एक्टर सुशांत सिंह ने फांसी लगाकर आत्महत्या की है. कुछ मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक वह पेशेवर पेशेवर प्रतिद्वंद्विता के चलते क्लीनिकल डिप्रेशन के शिकार थे. मुंबई पुलिस इस एंगल की जांच भी करेगी.

 18 जून 2020

मुंबई पुलिस ने रिया चक्रवर्ती को सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में अपना स्टेटमेंट दर्ज कराने के लिए बांद्रा पुलिस स्टेशन बुलाया. जांच अधिकारियों ने उनके अलावा सुशांत के परिवार को 10 लोगों के स्टेटमेंट रिकॉर्ड किए.

24 जून 2020

मुंबई पुलिस को सुशांत के पोस्टमार्टम की फाइनल रिपोर्ट मिली. इस 5 डॉक्टरों की टीम ने तैयार किया गया था. इसके अनुसार

सुशांत के शरीर पर न तो किसी तरह से संघर्ष के और न ही किसी बाहरी चोट के निशान थे. उनके नाखून पूरी तरह से साफ थे. उनकी मृत्यु का कारण फांसी की वजह से सांस का रुक जाना बताया गया. पोस्टमार्टम में ऐसा कुछ भी नहीं मिला जिससे सुशांत सिंह राजपूत की मौत को संदिग्ध कहा जा सके.

 27 जून 2020

मुंबई पुलिस ने कास्टिंग डायरेक्टर शानू शर्मा से पूछताछ की. पुलिस अधिकारियों ने सुशांत सिंह के यशराज फिल्मस प्रोडक्शन हाउस के साथ कॉन्ट्रैक्ट पर जानकारी ली. यह पूछताछ बांद्रा पुलिस स्टेशन में हुई.

4 जुलाई 2020

सुशांत की मौत का जांच के सिलसिले में मुंबई पुलिस ने उस कपड़े को ‘टेनसाइल स्ट्रेंथ’ की जांच के लिए फॉरेंसिक लैब भेजा जिससे सुसाइड किया गया था. इस टेस्ट के जरिए कपड़े की मजबूती को लैब में जांचने के लिए भेजा गया कि यह कितना वजन उठा लेगा. पुलिस अधिकारी ने कहा

“इस टेस्ट से यह साफ हो जाएगा कि किसी भी तरह की गड़बड़ी नहीं हुई है. पुलिस ने एक्टर की विसरा के अलावा उनका गाउन भी फॉरेंसिक जांच के लिए लैब में भेजा है. इस जांच में कम से कम 3 महीने का वक्त लगेगा. तब फाइनल रिपोर्ट पेश की जाएगी. मौत की सही वजह जानने के लिए फॉरेंसिक एक्सपर्ट्स सुशांत सिंह के गले पर बने निशानों की भी जांच करेगी. इसके अलावा गाउन की मजबूती की जांच भी टेनसाइल स्ट्रेंथ एनालिसिस के जरिए की जाएगी.”

28 जुलाई 2020

सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने पटना के पुलिस स्टेशन में रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के खिलाफ अपने बेटे को सुसाइड के लिए उकसाने को लेकर FIR दर्ज कराई. इस एफआईआर में केके सिंह ने आरोप लगाए कि रिया चक्रवर्ती, उनके बेटे सुशांत सिंह राजपूत को प्यार के बहाने पैसों की उगाही करती थीं. केस IPC की धारा 341 (जबरदस्ती रोकना), 342 (जबरदस्ती बंद करना), 380 (खाली घर में चोरी ), 406 (आपराधिक धोखाधड़ी), 420 (धोखाधड़ी और बेईमानी से संपत्ति के वितरण के लिए प्रेरित करना) और 306 (आत्महत्या के लिए उकसाना) के तहत दर्ज किया गया.

लेकिन सुशांत की फैमिली के साथ रिया के रिश्ते कैसे थे. इस बारे में रिया ने ‘इंडिया टुडे’ के सीनियर जर्नलिस्ट और एडिटर राजदीप सरदेसाई को दिए इंटरव्यू में बताया.
सुशांत सिंह के पिता केके सिंह (बीच में) ने रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के खिलाफ गंभीर आरोप लगाते हुए पटना में एफआईआर दर्ज कराई.

29 जुलाई 2020

रिया चक्रवर्ती ने सुप्रीम कोर्ट में गुहार लगाई कि पटना में दर्ज की गई FIR को मुंबई ट्रांसफर कर दिया जाए. अपनी याचिका में रिया चक्रवर्ती ने लिखा कि बिहार पुलिस की जांच को तब तक रोक दिया जाए जब तक सुप्रीम कोर्ट इस मामले की सुनवाई पूरी न कर ले.

30 जुलाई 2020

ED ने रिया चक्रवर्ती पर मनी लॉन्ड्रिंग केस में मामला दर्ज किया. यह मामला सुशांत सिंह राजपूत के पिता द्वारा पटना में दर्ज कराई गई FIR के आधार पर दर्ज किया गया था. ED ने बताया कि मामले में पैसों के हेरफेर की बात आई थी ऐसे में ED ने प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट में मामला दर्ज किया गया.

31 जुलाई 2020

रिया चक्रवर्ती ने एक वीडियो जारी करके सारे आरोपों पर चुप्पी तोड़ी. उन्होंने कहा कि

“मुझे भगवान और न्यायपालिका में पूरा भरोसा है. मुझे भरोसा है कि मुझे न्याय मिलेगा. मेरे बारे में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में बहुत कुछ उल्टा सीधा कहा गया लेकिन मैं उस बारे में कुछ नहीं कहूंगी. क्योंकि मामला कोर्ट में है और मेरे वकीलों ने ऐसा करने से मना किया है.”

# सुप्रीम कोर्ट ने उस जनहित याचिका को खारिज कर दिया जिसमें सुशांत की मौत के केस को मुंबई पुलिस से CBI को ट्रांसफर करने की गुहार लगाई गई थी. चीफ जस्टिस बोबडे़, जस्टिस बोपन्ना और जस्टिस रामसुब्रमनियन की बेंच ने कहा कि मुंबई पुलिस को अपना काम करने दिया जाए. अगर कोई बात होती है तो मुंबई हाईकोर्ट में याचिका डाली जाए.

2 अगस्त 2020

बिहार पुलिस एसपी विनय तिवारी जांच के लिए मुंबई पहुंचते हैं. उन्हें कोविड प्रोटोकॉल के तहत पुलिस बृहन्नमुंबई म्यूनिपल कॉर्पोरेशन जबरदस्ती 14 दिन के क्वारंटीन में भेज देती है. विनय तिवारी ने आरोप लगाया कि ऐसा सुशांत सिंह की मौत के मामले की जांच में रोड़ा अटकाने के लिए किया गया. 5 दिन क्वारंटीन में रखने के बाद उन्हें वापस जाने के लिए छोड़ा गया.

Cbi For Sushant Singh Rajput
विनय तिवारी के हाथ पर दाहिने लगा ठप्पा, और मुंबई एयरपोर्ट पर लैंड करने के बाद प्रेस से मुख़ातिब विनय तिवारी.

4 अगस्त 2020

बिहार पुलिस ने अपने अधिकारी विनय तिवारी को जबरदस्ती होम क्वारंटीन करने पर विरोध जताया. इससे पहले बिहार में सरकार की सहयोगी पार्टी LJP के नेता चिराग पासवान ने CM नीतीश कुमार से केस को CBI को ट्रांसफर करने की मांग की. महाराष्ट्र के मंत्री और शिवसेना नेता अनिल परब ने कहा कि बिहार सरकार की सुशांत मामले में CBI की जांच की मांग करना राजनीति से प्रेरित है. महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने भी CBI जांच का विरोध किया.

11 अगस्त 2020

रिया चक्रवर्ती ने सुप्रीम कोर्ट से गुहार लगाई कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत का केस बढ़ाचढ़ा कर दिखाया जा रहा है. उन्होंने कहा कि इसके पीछे बिहार इलेक्शन है. उन्होंने मीडिया द्वारा उनके खिलाफ की जा रही कवरेज को बहुत ‘दर्दनाक’ और ‘दुख पहुंचाने वाला’ बताया. उन्होंने कोर्ट में एक एफिडेविट पेश करके कहा कि उन्हें ‘बलि का बकरा’ बनाने की कोशिश हो रही है. उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि पटना में उनके खिलाफ जो FIR हुई है, वह भी राजनीति से प्रेरित है.

19 अगस्त 2020

सुप्रीम कोर्ट ने सुशांत सिंह राजपूत मामले में CBI जांच के आदेश दिए. कोर्ट ने कहा कि

पटना में जो FIR दर्ज हुई वह वैध है. महाराष्ट्र सरकार ने इसे चैलेंज नहीं किया है. मुंबई पुलिस सभी साक्ष्य CBI को सौंप दे. CBI न सिर्फ पटना में दायर की गई FIR बल्कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में से जुड़े किसी भी मामले की जांच करने में पूरी तरह सक्षम है. मुंबई पुलिस जिस CRPC की धारा 174 के तहत जांच कर रही है उसका ज्यूरिसडिक्शन बहुत सीमित है. चूंकि मुंबई पुलिस ने सुशांत के मामले में सिर्फ दुर्घटना से मौत (accidental death) का मामला दर्ज किया है ऐसे में उसके पास जांच के बहुत सीमित अधिकार हैं.

22 अगस्त 2020

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत से जुड़ी पोस्टमार्टम फाइलों की जांच के लिए एम्स ने 5 सदस्यों के फरेंसिक विशेषज्ञों का एक मेडिकल बोर्ड गठित किया गया. इस मामले में CBI ने अस्पताल से सहयोग मांगा था. टीम का नेतृत्व करने वाले एम्स के फरेंसिक विभाग के प्रमुख डॉ. सुधीर गुप्ता ने कहा,

‘हम हत्या की संभावनाओं की जांच करेंगे. इसके साथ ही सभी संभावित पहलुओं पर सघन जांच की जाएगी.’

27 अगस्त 2020

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) रिया चक्रवर्ती के खिलाफ बैन ड्रग्स के मामले में एक क्रिमिनल केस दर्ज करता है. अधिकारियों के मुताबिक

ED को मनी लॉन्ड्रिंग केस के दौरान रिया की फोन की जांच के दौरान कुछ डिलीट किए हुए वॉट्सऐप मेसेज मिले हैं. इन मेसेज में ड्रग्स को लेकर बातचीत की गई है. ड्रग्स खरीदने और उसे लेने को लेकर बातचीत हुई है. इसमें कई बैन ड्रग्स और गांजा शामिल है.

NCB डायरेक्टर राकेश अस्थाना अपने अधिकारियों को केस फाइल करने के आदेश दिए.

5 सितंबर 2020

NCB रिया चक्रवर्ती के भाई शौविक और दूसरे शख्स मिरांडा को ड्रग मामले में अरेस्ट करके कोर्ट के सामने पेश करते हैं. कोर्ट उन्हें 9 सितंबर के लिए NCB की रिमांड पर भेज देती है.

6 सितंबर 2020

रिया चक्रवर्ती और शौविक चक्रवर्ती के पिता रिटायर्ड लेफ्टिनेंट कर्नल इंद्रजीत चक्रवर्ती एक स्टेटमेंट जारी करके अपने बेटे की गिरफ्तारी का विरोध करते हैं. उन्होंने लिखा

” मुबारक हो भारत, आपने हमारे बेटे को गिरफ्तार कर लिया. मैं निश्चित हूं कि इस लिस्ट में अगला नाम मेरी बेटी का होगा और उसके बाद पता नहीं किस किस का. आपने जानबूझ कर एक मिडिल क्लास परिवार को बर्बाद कर दिया. लेकिन हां ये न्याय के लिए हुआ है. सब कुछ न्याय ही है. जय हिन्द.”

# NCB ने इस दिन ही रिया को जांच में शामिल होने के लिए समन भेजा. एजेंसी ने कहा कि वह शौविक, मिरांडा और रिया का आमना-सामना कराना चाहते हैं. वह इस पूरे ड्रग ट्रैफिक का खुलासा और वॉट्सऐप मेसेज की गुत्थी को सुलझाना चाहते हैं.

8 सितंबर 2020

3 दिन लगातार पूछताछ करने के बाद NCB ने रिया चक्रवर्ती को अरेस्ट कर लिया.

23 सितंबर 2020

NCB ने फिल्म इंडस्ट्री के बड़े चेहरों को समन भेजा. इनमें शामिल थे दीपिका पादुकोण, सारा अली खान, श्रद्धा कपूर, रकुल प्रीत सिंह. इस सभी से ड्रग्स खरीदने और लेने को लेकर पूछताछ की गई.

दीपिका पादुकोण समेत कई एक्ट्रेस को NCB की तरफ से समन जारी किया गया है. फोटो: India Today/The Lallantop
दीपिका पादुकोण समेत कई एक्ट्रेस को NCB की तरफ से समन जारी किया गया. फोटो: India Today/The Lallantop

5 अक्टूबर 2020

एम्स की फॉरेंसिक मेडिकल बोर्ड ने अपनी रिपोर्ट में मौत का कारण आत्महत्या बताया. यह रिपोर्ट CBI को सौंप दी गई. एम्स के मेडिकल बोर्ड ने गला दबाकर हत्या की आशंका को खारिज कर दिया है. मेडिकल रिपोर्ट में मुंबई के अस्पताल की पोस्टमार्टम रिपोर्ट को सही ठहराया गया है. रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि सुशांत के शरीर पर किसी तरह के जख्म के निशान नहीं मिले. उनके गले पर जो निशान थे वह फांसी लगाने के कारण बना थे. मेडिकल बोर्ड के अध्यक्ष डॉक्टर सुधीर गुप्ता ने कहा कि

“मृतक के शरीर या कपड़ों पर किसी भी तरह के संघर्ष के निशान नहीं थे. शरीर में किसी भी तरह के सेडेटिव मैटीरियल या नशा देने वाला पदार्थ न तो फॉरेंसिक साइंस लैब मुंबई और न ही एम्स टॉक्सिकोलॉजी लैब में पाया गया. गले के ऊपर पाए गए निशानों की भी गहन जांच की गई. ये फांसी लगाने की वजह से ही बने हैं.”

8 अक्टूबर 2020

रिया चक्रवर्ती को मुंबई हाईकोर्ट से 4 हफ्ते की बेल मिल गई. वह बाइकुला जेल से बाहर आ गईं. हाईकोर्ट ने बेल देते वक्त रिया चक्रवर्ती से अपना पासपोर्ट NCB के पास जमा करने के आदेश दिए. यह भी कहा कि NDPS कोर्ट के आदेश के बिना देश न छोड़ें. इसके अलावा उन्हें 1 लाख रुपए का निची मुचलका भरने को भी कहा गया.

6 मार्च, 2021

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने NDPS कोर्ट के सामने तकरीबन 12 पेज की चार्जशीट दाखिल की. इसमें रिया चक्रवर्ती को अभियुक्त बनाया गया. रिया चक्रवर्ती के अलावा उनका भाई शौविक सहित 33 लोगों के नाम चार्जशीट में हैं. NCB का दावा है कि नवंबर 2019 में रिया चक्रवर्ती की मर्जी से उनके घर पर ड्रग्स की डिलीवरी हुई थी. हिंदुस्तान टाइम्स अखबार को NCB के अधिकारी ने बताया-

इस तरह से रिया चक्रवर्ती ने सुशांत राजपूत को अपने घर पर ड्रग्स करने के लिए जगह उपलब्ध कराई. यह NDPS एक्ट का उल्लंघन है.

28 मई, 2021

सुशांत सिंह राजपूत के फ्लैटमेट सिद्धार्थ पिठानिया को NCB ने सुशांत सिंह ड्रग्स मामले में गिरफ्तार कर लिया. कोर्ट ने उसे 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया.

CBI ने अब भी सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में चार्जशीट नहीं दाखिल की है.


वीडियो – मैटिनी शो: वो एक्टर, जिसने सुशांत सिंह राजपूत की पहली और आखिरी फिल्म में काम किया था

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

जब ट्रेलर आया था, तबसे लगातार विरोध जारी है.

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

आज जानते हो किसका हैप्पी बड्डे है? माधुरी दीक्षित का. अपन आपका फैन मीटर जांचेंगे. ये क्विज खेलो.

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

कौन सा था वो पहला मीम जो इत्तेफाक से दुनिया में आया?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

चुनावी माहौल में क्विज़ खेलिए और बताइए कितना स्कोर हुआ.

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

राहुल के साथ यहां भी गड़बड़ हो गई.