Submit your post

Follow Us

60 की एज में पॉलिटिक्स से रिटायर होने वाले नेता के किस्से

यूपी के प्रतापगढ़ का लड़का एमपी का खांटी नेता बना. मुख्यमंत्री भी रहा. ये बात और है कि उस पद की फिसलन इत्ती कि टिक नहीं पाया. मगर मंत्री पद तो फिर भी बना रहा. और विधायकी. वो तो जैसे पट्टे पर लिखवा ली हो. 10 बार चुनाव जीता. भोपाल की गोविंदपुरा सीट से. मगर आज उसका जिक्र क्यों. क्योंकि कल लाल बत्ती शायद हमेशा के लिए विदाई ले गई उनसे.

ये बाबू लाल गौर की बात है. मध्य प्रदेश के बीजेपी नेता. उमा भारती के बाद कुछ समय के लिए सीएम भी रहे. गुरुवार को शिवराज सिंह चौहान ने अपनी कैबिनेट से उन्हें मुक्त कर दिया. बीजेपी ने गौर और सरताज सिंह को साफ कर दिया. जाना होगा. वजह. ज्यादा उम्र. सरताज 76 के थे और बाबू लाल तो 86 की तरफ बढ़ रहे थे. मगर उन्हें गम खाना चाहिए. और अपनी ही पार्टी के कभी पितृ पुरुष रहे नाना जी देशमुख को याद करना चाहिए.

नाना जी देशमुख दक्षिणपंथी राजनीति का इकलौता ऐसा नाम. जिसने 60 बरस की उम्र में संन्यास ले लिया. चुनाव, दलगत राजनीति से दूर हुए तो समाज सेवा के दूसरे कामों में लग गए. उस समय वह सांसद थे. जनसंघ के शीर्ष पुरुषों में एक थे. और केंद्र में मंत्री का पद ठुकरा चुके थे.

नाना जी देशमुख के कई हिस्से हैं. यूपी एक सीएम को तीन तीन बार सियासी मात देना हो या फिर एक बाबा का बावर्ची बनना. जेपी के लिए हाथ तुड़वाना हो या फिर लोहिया को दीनदयाल संग लाना. सब काम उन्होंने चतुराई से अंजाम दिए. और फिर जब सियासत छोड़ी तो जंगल में मंगल कर दिखाया.

और आखिर में एक किस्सा एक्टर से नेता बने एक शख्स का. नानाजी 60 में राजनीति छोड़ गए तो एक्टर लीडर ने एंट्री ही इसी एज में की. और फिर रथ पर सवार हो कांग्रेस को ध्वस्त कर दिया.
ये सब किस्से इस वीडियो में.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.