Submit your post

Follow Us

डेविड धवन, जिसने जुम्मे को रात एक बजे तक जगाया

माफ करना थोड़ा नॉस्टैलजिक करने जा रहा हूं. अगर 80s में पैदा हुए हो तो तुम उस वक्त छोटे रहे होगे. लेकिन छुटपने में फिल्म देखने का जो क्रेज उस वक्त था, वो अब चलता बना है. इसलिए तब और उसके पहले वालों से इसकी बात करना बहुत सही होगा.

तो याद करो 90 का दशक. इसमें सबसे ज्यादा ‘नंबर वन’ फिल्में आईं. इसी दशक में सबसे ज्यादा कॉमेडी फिल्में आईं. जो अगले दशक तक जारी रहीं. लगभग सबमें गोविंदा, कादर खान, जॉनी लीवर, फरीदा जलाल, अनुपम खेर के अलावा जो कॉमन रहा, वो एक शख्स. डेविड धवन.

अभी अपने बीच में फिल्मी दुनिया के जादू की थोड़ी थोड़ी पोल टाइप की खुल रही है. सोशल मीडिया पर हमारे और उनके एक साथ आ जाने की वजह से. अगली पीढ़ी भी सयानी होती जा रही है. उसको फिल्म देखने सिर्फ इस वजह से नहीं जाना है कि उसमें ऋतिक रोशन है. बल्कि उसे पहले से पता होता है कि फिल्म बनाई है आशुतोष गोवारिकर ने. जिन्होंने लगान बनाई थी. और जब फिल्म पिट जाती है तो गालियां पड़ती हैं गोवारिकर को.

लेकिन डेविड धवन जब धड़ाधड़ एक के बाद एक फिल्में बनाते जा रहे थे, उस वक्त लोग हीरो हिरोइन देखने आते थे. गोविंदा को सबसे ज्यादा रिपीट किया. इतना ज्यादा कि पट्ठा गोविंदा का नाम सुनते ही जान लेता था कि हंसी हंसोड़ होगा फिल्म में. और कादर खान उनके बाप या ससुर बने होंगे. चलो मेरे साथ उन तमाम फिल्मों को याद कर लो. आंखें, राजा बाबू, स्वर्ग, कुली नंबर वन, साजन चले ससुराल, बनारसी बाबू, हीरो नंबर वन, बड़े मियां छोटे मियां, हसीना मान जाएगी, कुंवारा, जोड़ी नंबर वन, एक और एक ग्यारह. माने नंबर वन फिल्मों का कॉपीराइट तो डेविड धवन के नाम सुरक्षित है.

collie no 1

तो परदे पर देखकर लोग दीवाने हो जाते थे जिन एक्टर्स के, उनको पीछे से इशारे कौन करता था, एक्शन और कट कौन बोलता था. ये जब पता चला तो समझ में आया कि गोविंदा को हंसोड़ के सांचे में ढाल देने वाला तो कोई और है. ऊपर वाला नहीं, रोलिंग एक्शन वाला.

सन 92 में एक एक्ट्रेस के करियर में फ्यूल भरने का काम किया था डेविड धवन ने. याद करो दिव्या भारती को. उनकी आत्मा को शांति मिले. फैन्स अब भी पर्स में उनकी तस्वीर रखते हैं. गोविंदा और दिव्या की फिल्म ‘शोला और शबनम’ दिव्या के करियर का माइल स्टोन थी.

shola_aur_shabnam

तो एक पूरी फिल्मी पीढ़ी को हंसाया डेविड धवन ने. लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि सीरियस फिल्में न कीं. ‘बोल राधा बोल’ लव स्टोरी थी. तो ‘स्वर्ग’ एक अनाथ की इमोशनल कहानी, जिसे एक अमीर आदमी यानी राजेश खन्ना घर उठा लाए थे. और अपने बेटों के कारण खुद भिखारी बनने के बाद उनको सहारा देता है वही अनाथ. अब तुम वो गाना गाने बैठ जाओगे “ऐ मेरे दोस्त लौट के आजा, बिन तेरे जिंदगी अधूरी है.”

Swarg

तो इतना कुछ दिया है डेविड धवन ने हिंदी फिल्म इंडस्ट्री को. अपने दो बेटे भी दे डाले हैं. रोहित धवन, वो भी डायरेक्टर हैं. और वरुण धवन. इनके बारे में तो बताने की जरूरत है नहीं.


वीडियो देखें:

ड्रीम गर्ल का ट्रेलर देखकर लगता है कि आयुष्मान खुराना इस फिल्म में नई छाप छोड़ने वाले हैं-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

मधुबाला को खटका लगा हुआ था इस हीरोइन को दिलीप कुमार के साथ देखकर

एक्ट्रेस निम्मी के गुज़र जाने पर उनको याद करते हुए उनकी ज़िंदगी के कुछ किस्से

90000 डॉलर का कर्ज़ा उतारकर प्राइवेट जेट खरीद लिया था इस 'गैंबलर' ने

उस अमेरिकी सिंगर की अजीब दास्तां, जो बात करने के बजाए गाने में ज़्यादा कंफर्टेबल महसूस करता था

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.