Submit your post

Follow Us

डु प्लेसी की टॉस हटाने वाली बात मान लेने के बाद ऐसे हुआ करेंगे क्रिकेट मैच

साउथ अफ्रीका के कप्तान हैं फाफ डु प्लेसी. हाल ही में भारत के खिलाफ हुई टेस्ट सीरीज को 3-0 से हारने वाले कप्तान. भारत में भारत के हाथों बुरी तरह पिटने के बाद घर पहुंचे डु प्लेसी ने इस हार का अजीबोगरीब कारण दिया है. लगातार सात बार टॉस हार चुके डु प्लेसी ने कहा कि टेस्ट मैचों में टॉस नहीं कराना चाहिए.

रांची टेस्ट से पहले डु प्लेसी लगातार छह बार टॉस हार चुके थे. इसके बाद वह इस टेस्ट में टॉस के लिए प्रॉक्सी कैप्टन टेंबा बवुमा को लेकर आए थे. हालांकि प्रॉक्सी कैप्टन भी डु प्लेसी को टॉस नहीं जिता पाया. टॉस के बाद डु प्लेसी ने मैच और सीरीज भी गंवा दी.

यहां से वापस अपने देश पहुंचे डु प्लेसी ने एक बार फिर टेस्ट क्रिकेट से टॉस को हटाने की मांग कर दी. पिछले साल श्रीलंका के खिलाफ मिली रिकॉर्ड हार के बाद टेस्ट क्रिकेट से टॉस को हटाने की अपील करने वाले डु प्लेसी ने फिर से कहा कि टेस्ट मैचों में टॉस नहीं होना चाहिए. डु प्लेसी ने कहा, ‘हर मैच में वे पहले बैटिंग करते थे, 500 रन बनाते थे. अंधेरा होने पर पारी घोषित कर देते थे, अंधेरे में तीन विकेट झटक लेते थे और जब तीसरे दिन का खेल शुरू होता था तब आप प्रेशर में होते हैं. यह हर टेस्ट में कॉपी-पेस्ट जैसा था. अगर टॉस हटा लिया जाए तब अवे टीमों के पास बेहतर मौका होगा. साउथ अफ्रीका में मुझे कोई परेशानी नहीं है, हम वैसे भी ग्रीन टॉप (हरे विकेट) पर बैटिंग करते हैं.’

डु प्लेसी के इस बयान पर काफी हंगामा मचा था. खासतौर से भारतीय फैंस ने जमकर उनका मजाक बनाया था. लेकिन आंकड़े देखें तो डु प्लेसी गलत नहीं कह रहे. भारत में खेले गए पिछले 10 टेस्ट मैचों में सिर्फ तीन बार टॉस हारने वाली टीम को जीत मिली है. दो बार ऐसा करने वाली टीम भारत थी जबकि एक बार अफगानिस्तान ने आयरलैंड को हराया था. किसी भी फॉरमेट की क्रिकेट में पहले बैटिंग करने वाली टीम अक्सर फायदे में रहती है. भारतीय उपमहाद्वीप की पाटा पिचों पर चौथी पारी खेलना हमेशा से मुश्किल रहा है. जबकि साउथ अफ्रीका, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया, यानि कि SENA कंट्रीज में भी है. वहां के ग्रीन टॉप पर एशियन टीमें पहले बैटिंग से बचना चाहती हैं.

ऐसे में अगर डु प्लेसी की बात मान लें तो टेस्ट क्रिकेट काफी बदल सकता है. SENA में एशियन देश पहले बैटिंग करने से बचेंगे और SENA कंट्रीज एशिया में पहले बैटिंग पर जोर देंगी. ऐसे में हो सकता है कि रिजल्ट में कुछ बदलाव दिखे. टेस्ट क्रिकेट में घरेलू टीमों का दबदबा कम हो. क्योंकि आमतौर पर पिच घरेलू टीमों के हिसाब से बनाई जाती है. ऐसे में अगर टॉस का फायदा ना मिले तो इस प्रैक्टिस में भी बदलाव देखने को मिल सकता है और क्या पता इससे टेस्ट क्रिकेट और इंट्रेस्टिंग हो जाए.

#चल रहा प्रयोग है

वैश्विक तौर पर टॉस को क्रिकेट से हटाने के प्रयोग पहले से चल रहे हैं. इंग्लैंड की काउंटी सर्किट में विजिटिंग टीम को पहले बैटिंग या बॉलिंग का चुनाव करने की छूट है. इस साल की शुरुआत में पाकिस्तान ने कायद-ए-आज़म ट्रॉफी में भी इसे ट्राई किया था.

लेकिन इंटरनेशनल लेवल पर इसे लागू कर पाना अभी दूर की कौड़ी है. वर्ल्ड क्रिकेट की गवर्निंग बॉडी ICC ने इस विकल्प पर विचार किया था. पिछले साल 28 और 29 मई को मुंबई में हुई ICC क्रिकेट कमिटी की मीटिंग में इस पर चर्चा हुई थी. चेयरमैन अनिल कुंबले की मौजूदगी में हुई इस मीटिंग में तय किया गया था कि टेस्ट क्रिकेट में टॉस की व्यवस्था बरकरार रहेगी.

ICC ने एक बयान में कहा था, ‘इस बात पर चर्चा हुई कि क्या टॉस ऑटोमेटिक तरीके से विजिटिंग टीम को दे दिया जाए? लेकिन ऐसा महसूस हुआ कि यह टेस्ट क्रिकेट का एक अभिन्न अंग है जो इस खेल की कथा के एक भाग का निर्माण करता है.’


सात्विकसाइराज रैंकिरेड्डी और चिराग शेट्टी : 1983 के बाद फ्रेंच ओपन में पहुंचने वाली पहली भारतीय जोड़ी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'मनी हाइस्ट' की खतरनाक इंस्पेक्टर अलिशिया, जिन्होंने असल में भी मीडिया के सामने उत्पात किया था

'मनी हाइस्ट' की खतरनाक इंस्पेक्टर अलिशिया, जिन्होंने असल में भी मीडिया के सामने उत्पात किया था

सब सही होता तो, टोक्यो या मोनिका में से एक रोल करती नजवा उर्फ़ अलिशिया.

कहानी 'मनी हाइस्ट' वाली नैरोबी की, जिन्होंने कभी इंडियन लड़की का किरदार करके धूम मचा दी थी

कहानी 'मनी हाइस्ट' वाली नैरोबी की, जिन्होंने कभी इंडियन लड़की का किरदार करके धूम मचा दी थी

जानिए क्या है नैरोबी उर्फ़ अल्बा फ्लोरेस का इंडियन कनेक्शन और कौन है उनका फेवरेट को-स्टार?

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

जगह थी मुंबई एयरपोर्ट. अब दस साल बाद फिर से दोनों का नाम एक साथ सुर्ख़ियों में है.

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.