Submit your post

Follow Us

नोटबंदी की बरसी पर सबसे दुखी आत्मा का इंटरव्यू

666
शेयर्स

अब आत्मा ही रह गई है भाईसाब. शरीर तो मिट्टी का था, मिट्टी में मिल गया. नोटबंदी पर इतनी बातें सुन चुके हो कि अब कुछ बाकी नहीं रह गया. लेकिन एक रूह की कराहें न सुनी होंगी. वो बहुत बेआबरू होकर इस कूचे से निकल चुकी है. लेकिन उसकी दुख भरी आवाजें अब भी सन्नाटे में सुनाई देती हैं. इसकी अंतिम दिन की तस्वीर भी देख लीजिए.

श्रद्धांजलि
श्रद्धांजलि

तो हमको वैसे भूत प्रेत, रूह चुड़ैल वगैरह में यकीन नहीं है. लेकिन एक रात अचानक घर जाते हुए रास्ते में पड़ने वाले एटीएम के पास मिल गई. हमने कहा भई क्या बात है? कौन हो तुम? तो फिर छोटा मोटा इंटरव्यू हो गया. पेश है.

सवाल- कौन हो तुम? यहां क्या कर रहे हो?
आत्मा- साहब मैं हजार का नोट था. आपको तो याद ही होगा मोदी जी ने बंद कर दिया था. पहले इधर एटीएम में अक्सर पड़ा रहता था. तो मरने के बाद कहां जाता, यहीं सो जाता हूं.

सवाल- अबे बंद तो पनसौव्वा को भी किया था. वो कहां है?
आत्मा- उसका कर्मकांड तो गीता के अनुसार हो गया न.

सवाल- क्या मतलब गीता के अनुसार? गित्ता बबित्ता का असर ऊपर तक है क्या?
आत्मा- अरे महराज मजाक न करो. दरअसल गीता में लिखा है कि आत्मा न पैदा होती है न मरती है. बस वो एक शरीर से दूसरे शरीर में यानी नए वस्त्र में चली जाती है. उसी तरह 500 के नोट ने तो नया शरीर धारण कर लिया. मैं अभी तक वेटिंग लिस्ट में हूं.

सवाल- तो अभी आपको बंद होकर कैसा महसूस हो रहा है?
आत्मा- कपिल देव की स्टाइल में बताऊं तो मुझे बहुत ज्यादा खुशी तो नहीं है लेकिन दुख है. दुख इस बात का है कि अब शादियां देखने को नहीं मिलतीं. पहले बढ़िया दूल्हे के गले पड़ जाता था. हमारी मार्केट में अच्छी खासी इज्जत थी. सब सत्यानाश हो गई.

सवाल- सबसे ज्यादा बुरा किस बात का लगा आपको?
आत्मा- नोटबंदी के दौरान लगातार दो महीने हमको बुरी तरह से ट्रोल और परेशान होना पड़ा. वित्तमंत्री जी बोल देते थे कि अब इत्ता नहीं इत्ता पैसा जमा होगा. फिर आधे घंटे बाद अपने बयान से पलट जाते थे. इन हालात में आदमी मुझे अपनी जेब में डालकर दर दर भटक रहा था. मुझे बैंक तक जाना और वहां से वापस आना बड़ा शर्मनाक फील होता था.

सवाल- इस सब मुसीबत के लिए आप किसे जिम्मेदार मानते हैं?
आत्मा- देखिए मोदी जी का नाम लेंगे तो अभी सोशल मीडिया पर मेरी आत्मा भी ट्रोल हो जाएगी. उर्जित, उर्जित पटेल थे इस सरकस के पीछे.

सवाल- अब आगे की क्या तैयारी है? फिर से आने का इरादा है कि नहीं?
आत्मा- आएंगे और जरूर आएंगे. लेकिन इस सरकार के रहते तो म्यूजियम में ही आ पाएंगे.

सवाल- अंत में हमारे पाठकों को कोई संदेश देना चाहेंगे?

आत्मा- इस देश की अर्थव्यवस्था में सुधार लाने के लिए हमने अपनी जान दे दी, अब संदेश भी चाहिए. जाओ नहीं देते.

इत्ता कहकर आत्मा अपने रस्ते चली गई.

अब एक लल्लनटॉप वीडियो देख लो.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें
Satirical interview of old 1000 note on note ban anniversary

कौन हो तुम

चिन्नास्वामी स्टेडियम में हुई वो घटना जो आज भी इंडिया-पाकिस्तान WC मैच की सबसे करारी याद है

जब आमिर सोहेल की दिखाई उंगली के जवाब में वेंकी ने उन्हें उनकी जगह दिखाई थी.

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

14 मार्च को बड्डे होता है. ये तो सब जानते हैं, और क्या जानते हो आके बताओ. अरे आओ तो.

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

आज आमिर खान का हैप्पी बड्डे है. कित्ता मालूम है उनके बारे में?

चेक करो अनुपम खेर पर अपना ज्ञान और टॉलरेंस लेवल

अनुपम खेर को ट्विटर और व्हाट्सऐप वीडियो के अलावा भी ध्यान से देखा है तो ये क्विज खेलो.

Quiz: आप भोले बाबा के कितने बड़े भक्त हो

भगवान शंकर के बारे में इन सवालों का जवाब दे लिया तो समझो गंगा नहा लिया

आजादी का फायदा उठाओ, रिपब्लिक इंडिया के बारे में बताओ

रिपब्लिक डे से लेकर 15 अगस्त तक. कई सवाल हैं, क्या आपको जवाब मालूम हैं? आइए, दीजिए जरा..

जानते हो ह्रतिक रोशन की पहली कमाई कितनी थी?

सलमान ने ऐसा क्या कह दिया था, जिससे हृतिक हो गए थे नाराज़? क्विज़ खेल लो. जान लो.

राजेश खन्ना ने किस हीरो के खिलाफ चुनाव लड़ा और जीता था?

राजेश खन्ना के कितने बड़े फैन हो, ये क्विज खेलो तो पता चलेगा.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

फवाद पर ये क्विज खेलना राष्ट्रद्रोह नहीं है

फवाद खान के बर्थडे पर सपेसल.