Submit your post

Follow Us

पीएम मोदी के हैंडशेक का मजाक उड़ाने वाले ये पढ़ें

645
शेयर्स

vineet singh विनीत दी लल्लनटॉप के रीडर और पक्के वाले दोस्त हैं. बलिया से हैं. जहां से चंद्रशेखर प्रधानमंत्री बने थे. उन्हीं ने देवस्थली विद्यापीठ स्कूल खोला था जिस स्कूल में पढ़े हैं विनीत. आजकल मुंबई में रहते हैं और वहीं से दुनिया देख रहे हैं. अपने देखे सुने का तमाम एक्सपीरिएंस लल्लन के साथ भी बांटते हैं. अपने दोस्त मकालू से परेशान रहते हैं, उसके किस्से भेजते हैं. आप भी पढ़िए.


makalu 1

आज मकालू मिला. मेरा दोस्त. हालांकि इससे मैं बहुत परेशान रहता हूं और चाहता हूं कि हमारी मुलाकात न हो. लेकिन जब ज्यादा दिन तक मुलाकात नहीं होती तो मुझे बेचैनी सी होने लगती है. आप कहेंगे कि भला ये कैसी दोस्ती हुई? दरअसल आप मकालू से वाकिफ नहीं हैं. अलग ही कैरेक्टर है. कभी इतनी ऊल जुलूल और बेहूदा बातें कर देता है कि मेरा माथा सनक जाता है और कभी किसी सिद्ध अघोरी की तरह एक ही लाइन में बिना भूमिका बनाये ऐसा ज्ञान दे देता है कि माथे पर पालथी मार कर बैठी उलझन झट से सुलझ कर अपना रास्ता ले लेती है. वैसे मेरे पास ऐसी दोस्ती के लिए एक मुकम्मल थीयरी भी है. मैंने खुद ही इसे पकाया है. मैं मानता हूं कि कुछ दोस्त अलार्म घडी की तरह होते हैं. जिनके लिए सुबह बस एक ही ख्याल आता है कि अभी मनहूस अलार्म न बज पड़े. लेकिन अगर अलार्म ना बजा तो ऑफिस, बस और फ्लाइट छूट जाती है. लेकिन जैसे ही अलार्म बजता है, हम स्नूज बटन दबा कर दो मिनट वाली आखिरी नींद लेने सो जाते हैं. और रात को फिर अलार्म चेक करते हैं कि कहीं बंद तो नहीं है.

खैर, आज मकालू मिला तो कुछ औपचारिक बातों के बाद मैंने पूछा- दोस्त, सुना है कि प्रधानमंत्री जी अमेरिका के दौरे पर गए थे. और ये भी सुना कि बहुत जोरदार दोस्ती गांठी हैं ट्रम्प से. यार पहली ही मुलाक़ात में ऐसा माहौल बनाते हैं कि सामने वाला बिल्कुल फ्लैट हो जाता हैं. कमाल की काबिलियत है न?

donald-trump-narendra-modi

मकालू ने कोई जवाब नहीं दिया. उसने मुझे गले लगा लिया. थोड़ी देर के लिए तो मुझे अच्छा लगा. मैंने उसकी पीठ थपथपाई. लेकिन ये मनहूस तो जैसे छोड़ने के मूड में ही नहीं था. अब मैं असहज सा होने लगा. मैंने प्यार से उसे ठेलते हुए अलग करने की कोशिश की. डर ये भी था कि कहीं उसे बुरा न लग जाए. थोड़ी देर बाद अलग हुआ तो फिर मकालू हाथ पकड़ के खड़ा हो गया जैसे हाथ मिला रहा हो. फिर लगा जोर जोर से हिलाने. मैंने भी हैंड शेक करने भर का तो हिलाया लेकिन कुछ सेकेंड के बाद मन हुआ कि हाथ झटक के छुड़ा लूं, लेकिन फिर लगा बुरा न मान जाये. मैं बड़ी विचित्र दुविधा में फंस गया था. मकालू ने आज गजब ही कर दिया था. हाथ छोड़ कर कुछ देर अमेरिका की फॉरेन पालिसी की बात करता और फिर दोबारा दोनों हाथों से हाथ पकड़ के हिलाने लगता और बीच बीच में गले भी लगने लगता.

मुझसे रहा न गया. मैंने कहा- अबे दूर रह के बात कर ले. अब मुझे हाथ लगाया तो गधे वाली दुलत्ती सलमान खान स्टाइल में मारूंगा.

मकालू अब शांति से खड़ा हो गया और बड़ी कुटिल मुस्कराहट के साथ बोला- गुरु मैं तो तुमको कब से जानता हूं. हमारी पुरानी जान पहचान है लेकिन अभी थोड़ी जोरदार वाली दोस्ती गांठने की कोशिश क्या की, तुम तो बिल्कुल नाराज हो गए!

हद करते हो मकालू! अरे ऐसे भी क्या जबरी का दांत निपोरते हुए बार बार चिपकना और बार बार हाथ को पकड़ कर झकझोरते रहना जैसे हाथ निकाल कर घर ले जाओगे. दुआ सलाम होने के बाद दूर रहकर मर्यादा पूर्वक बात करो- मैं गुस्से में था.

मकालू बोला- गुरु जीवन में कभी कभी कुछ अजीब लोगों से पाला पड़ जाता है. वो ज़बरदस्ती दोस्ती गांठने में उस्ताद होते हैं और उनकी रफ्तार का आपकी सहमति से कोई लेना देना नहीं होता. वो आपसे पूछ कर गले नहीं मिलते. बस पड़ जाते हैं. पहली मुलाकात में वो सलीके से ‘आप’ कह के संबोधित करते हैं, थोड़ा समय बीता नहीं और आप ‘तुम’ बन चुके होते हैं. फिर उनका हाथ ‘तेरे’ कंधे पर होता है. और अब ‘तू’ असहज होने लगता है?… कंट्रोल उदय कंट्रोल…… अभी खत्म नहीं हुआ है, बल्कि अब मामला ‘साले’ पर आ चुका होता है या इससे आगे भी.

उसी तरह हमारे यहां भी ओवर फ्रेंडली लोग मिलते हैं. मिस्टर प्रेसिडेंट को कब ‘बराक’ बना देते हैं, पता ही नहीं चलता. उनका लाव लश्कर, और तमाम ताम झाम गया तेल लेने. हां अगर गुस्सा आ रहा है तो मन ही मन गाली देते रहिए लेकिन आपके पास दांत चियारने के अलावा कोई और विकल्प नहीं होता.

मैं समझ गया था कि इस कमीने मकालू का इशारा प्रधानमंत्री की तरफ था. और साहब मेरा हाल ये है कि मेरे सामने किसी ने अगर मेरे नेता के नाम के बाद ‘जी’ नहीं लगाया तो मेरी और उसकी लड़ाई तय हैं. फेसबुक और ट्विटर पर ऐसा ट्रोल करता हूं कि अंत में लोगो को मुझे ब्लॉक करना पड़ता हैं.

फिर क्या हुआ? और क्या होता, वही हुआ जो होना चाहिए था, खूब जम के मारा-मारी हुई. अभी गांव के अस्पताल में ही बैठा हूं. बंगाली डॉक्टर से पट्टी बंधवा रहा हूं. ज्यादा नुकसान नहीं हैं. बस मेरी आंख के नीचे थोड़ा काला हो गया है.

लेकिन इंतकाम ले लिया गया है.


ये भी पढ़ें:

 गाय दूध देना बंद कर दे तो उसका क्या होता है?

घर और काम की टेंसन से मुक्ति चाहिए तो बाबा के पास नहीं, मेरे साथ ‘बी बा’ चलो: मकालू

क्या पीएम मोदी सच में कभी छुट्टी नहीं लेते?

भौकाली अप्रेजल लपकना है तो ‘मकालू कोचिंग’ जॉइन करो

सोशल मीडिया पर गालियों से बचना है तो ‘बच्चन अन्ताब’ बन जाओ

सूट बूट पहना के बिठा देने से कोई पत्रकार नहीं हो जाता: मकालू

अगर आप भी सिगरेट और चाय उधार की पीते हैं तो ये पढ़िए!

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.

अमिताभ बच्चन तो ठीक हैं, दादा साहेब फाल्के के बारे में कितना जानते हो?

खुद पर है विश्वास तो आ जाओ मैदान में.

‘ताई तो कहती है, ऐसी लंबी-लंबी अंगुलियां चुडै़ल की होती हैं’

एक कहानी रोज़ में आज पढ़िए शिवानी की चन्नी.

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो कितना जानते हो उनको

मितरों! अच्छे नंबर चइये कि नइ चइये?

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

इस क्विज़ में परफेक्ट हो गए, तो कभी चालान नहीं कटेगा

बस 15 सवाल हैं मित्रों!

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

इंग्लैंड के सबसे बड़े पादरी ने कहा वो शर्मिंदा हैं. जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

KBC क्विज़: इन 15 सवालों का जवाब देकर बना था पहला करोड़पति, तुम भी खेलकर देखो

आज से KBC ग्यारहवां सीज़न शुरू हो रहा है. अगर इन सारे सवालों के जवाब सही दिए तो खुद को करोड़पति मान सकते हो बिंदास!

क्विज: अरविंद केजरीवाल के बारे में कितना जानते हैं आप?

अरविंद केजरीवाल के बारे में जानते हो, तो ये क्विज खेलो.