Submit your post

Follow Us

शिक्षक भर्तियां निकलती तो हैं, लेकिन पूरी क्यों नहीं हो पातीं?

5 सितंबर. शिक्षक दिवस. पूरे देश भर में लोग अपने शिक्षकों को याद कर रहे हैं. उनका आभार जता रहे हैं. अपनी यादों को साझा कर रहे हैं. ‘शिक्षक ही असली राष्ट्र निर्माता होता है’ टाइप की लाइनें भी खूब शेयर की जा रहीं हैं. लेकिन ज़रा सोचिए उन स्कूलों के बारे में, उन बच्चों के बारे में, उन क्लासेज के बारे में जहां टीचर ही नहीं हैं. उन राज्यों के बारे में सोचिए, जहां कई-कई साल से इन राष्ट्र निर्माताओं की कमी को भरने के लिए भर्तियां अटकी पड़ीं हैं. आज हम कुछ ऐसी ही भर्तियों के बारे में आपको बताने जा रहे हैं-

69,000 शिक्षक भर्ती- उत्तर प्रदेश

दिसंबर, 2018 में यूपी की योगी सरकार ने सरकारी प्राइमरी स्कूलों में 69,000 सहायक अध्यापकों की भर्ती के लिए वैकेंसी निकाली. 6 जनवरी, 2019 को करीब चार लाख कैंडिडेट्स ने लिखित परीक्षा में हिस्सा लिया. एक दिन बाद सरकार की तरफ से कट ऑफ मार्क्स की घोषणा हुई. कट ऑफ मार्क्स के खिलाफ अभ्यर्थियों का एक धड़ा हाईकोर्ट में चला गया. 6 मई, 2020 को हाईकोर्ट ने सरकार द्वारा तय कट ऑफ पर ही 90 दिन के भीतर भर्ती कराने का आदेश दिया. लेकिन भर्ती अब तक पूरी नहीं हो सकी है.

12,460 शिक्षक भर्ती- उत्तर प्रदेश
दिसंबर, 2016 में उत्तर प्रदेश सरकार ने शिक्षकों के 12,460 पदों पर भर्ती निकाली. इस भर्ती के जरिए जिन पदों को भरा जाना था वो केवल 51 ज़िलों में थे. बाकी 24 ज़िलों में 0 पद थे. सरकार की ओर से इन 24 ज़िलों के अभ्यर्थियों को विकल्प दिया गया था कि वे 51 में से कोई एक ज़िला चुन लें और उसमें आवेदन करें. यूपी में सरकार बदली तो भर्ती पर रोक लगा दी गई. अप्रैल, 2016 में दोबारा शुरू हुई. लगभग 4,000 अभ्यर्थियों को नियुक्ति मिल गई. इसी बीच कम मेरिट वाले कुछ अभ्यर्थियों ने हाईकोर्ट में याचिका डाल दी. इनकी मांग थी कि जिन ज़िलों में वैकेंसी निकली है, वहां के अभ्यर्थियों को प्राथमिकता दी जाए. भले ही दूसरे ज़िले से आए अभ्यर्थी की मेरिट ज्यादा ही क्यों न हो. इसके बाद से ये भर्ती भी अटकी पड़ी है.

30,594 शिक्षक भर्ती- मध्य प्रदेश
सितंबर, 2018. सरकार ने उच्च माध्यमिक और माध्यमिक शिक्षकों के लिए कुल 30,594 पदों पर भर्ती निकाली. करीब 6 महीने बाद फरवरी-मार्च, 2019 में पात्रता परीक्षा हुई. उच्च माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा का रिजल्ट आया अगस्त, 2019 में. माध्यमिक शिक्षक पात्रता परीक्षा का रिजल्ट अक्टूबर, 2019 में आया. रिजल्ट आए साल भर होने को है और भर्ती को निकले दो साल होने को है. मध्य प्रदेश में दो-दो सरकारें बदल गईं लेकिन भर्ती पूरी नहीं हो सकी.

14,580 शिक्षक भर्ती- छत्तीसगढ़
छत्तीसगढ़ सरकार ने मार्च 2019 में 14,580 पदों पर शिक्षकों की सीधी भर्ती के लिए विज्ञापन जारी किया था. अगस्त में परीक्षा हुई, जिसमें लगभग तीन लाख अभ्यर्थी शामिल हुए. नवंबर में रिजल्ट आए. इसके बाद मेरिट लिस्ट वेरिफिकेशन का काम शुरू हुआ. जो कि फरवरी तक चला. इसके बाद चयनित अभ्यर्थियों की लिस्ट आनी थी. अब तक नहीं आई है.

37,440 शिक्षक भर्ती- बिहार

माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्तर के शिक्षकों की भर्ती के लिए 28 जनवरी, 2020 को STET एग्जाम कराया गया. इस परीक्षा में लगभग 2 लाख 47 हजार अभ्यर्थी शामिल हुए. परीक्षा के बाद चार सेंटर्स पर धांधली की ख़बर आई. इन सेंटर्स पर दोबारा 26 फरवरी को एग्जाम कराया गया. 15 मई को एग्जाम का रिजल्ट आना था. लेकिन 16 मई को एक जांच समिति के रिपोर्ट के आधार पर परीक्षा ही रद्द कर दी गई. अब सितंबर, 2020 में फिर से इसे कराने का निर्णय लिया गया है.

18,584 हाईस्कूल शिक्षक भर्ती- झारखंड

2016 में 18,584 शिक्षकों की नियुक्ति के लिए विज्ञापन निकाला गया. इसमें 13 ज़िलों को स्थानीय लोगों के लिए रिजर्व कर दिया गया. बाकी 11 ज़िलों को अन-रिजर्व्ड रखा गया. मामला हाईकोर्ट में चला गया. भर्ती अब तक लटकी है. इसके अलावा झारखंड में 40 हजार शिक्षकों के पद खाली हैं.

ये केवल 6 भर्तियां हैं. 6 उदाहरण हैं. इन 6 भर्तियों में ही 2 लाख 80 हजार से ज़्यादा शिक्षकों की भर्ती अटकी पड़ी है. इसके अलावा राजस्थान में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दिसंबर 2019 में खाली पड़े शिक्षकों के पदों को भरने के लिए 31 हजार वैंकेसी निकालने की बात कही थी. दस महीने से ज्यादा का समय बीत जाने के बाद अब तक इस भर्ती के लिए विज्ञापन तक जारी नहीं हो पाया है.


यूपी: 69000 शिक्षक भर्ती पर हाईकोर्ट के रोक की कहानी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

आज जानते हो किसका हैप्पी बड्डे है? माधुरी दीक्षित का. अपन आपका फैन मीटर जांचेंगे. ये क्विज खेलो.

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

कौन सा था वो पहला मीम जो इत्तेफाक से दुनिया में आया?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

चुनावी माहौल में क्विज़ खेलिए और बताइए कितना स्कोर हुआ.

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

राहुल के साथ यहां भी गड़बड़ हो गई.

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

14 मार्च को बड्डे होता है. ये तो सब जानते हैं, और क्या जानते हो आके बताओ. अरे आओ तो.

आमिर पर अगर ये क्विज़ नहीं खेला तो दोगुना लगान देना पड़ेगा

आमिर पर अगर ये क्विज़ नहीं खेला तो दोगुना लगान देना पड़ेगा

म्हारा आमिर, सारुक-सलमान से कम है के?

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

आज आमिर खान का हैप्पी बड्डे है. कित्ता मालूम है उनके बारे में?

अनुपम खेर को ट्विटर और वॉट्सऐप वीडियो के अलावा भी ध्यान से देखा है तो ये क्विज खेलो

अनुपम खेर को ट्विटर और वॉट्सऐप वीडियो के अलावा भी ध्यान से देखा है तो ये क्विज खेलो

चेक करो अनुपम खेर पर अपना ज्ञान.

कहानी राहुल वैद्य की, जो हमेशा जीत से एक बिलांग पीछे रह जाते हैं

कहानी राहुल वैद्य की, जो हमेशा जीत से एक बिलांग पीछे रह जाते हैं

'इंडियन आइडल' से लेकर 'बिग बॉस' तक सोलह साल हो गए लेकिन किस्मत नहीं बदली.

गायों के बारे में कितना जानते हैं आप? ज़रा देखें तो...

गायों के बारे में कितना जानते हैं आप? ज़रा देखें तो...

कितने नंबर आए बताते जाइएगा.