Submit your post

Follow Us

रोनाल्डो ने जीता 'बैलों दो' पर आपके वोट से तय होगा साल का सबसे अच्छा खिलाड़ी

रियल माद्रिद के खिलाड़ी क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने लियोनेल मेस्सी को पीछे छोड़कर इस साल का ‘बैलों दो’ (Ballon d’or) खिताब जीत लिया है. रोनाल्डो का ये 4था ‘बैलों दो’ है, इससे पहले 2008, 2013 और 2014 में रोनाल्डो को साल का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किया गया था. रोनाल्डो से ज्यादा सिर्फ मेस्सी ने 5 बार ये अवार्ड जीता है. 2007 के बाद इन दोनों खिलाड़ियों के अलावा कोई भी खिलाड़ी ‘बैलों दो’ नहीं जीत पाया है. रोनाल्डो ने इस साल अपने क्लब रियल माद्रिद और अपने देश पुर्तगाल के लिए 51 मैचों में 54 गोल किए हैं. इनमें 13 गोल पुर्तगाल के लिए किए हैं जिनके दम पर पुर्तगाल इस साल फ्रांस को हराकर यूरो कप का खिताब जीत पाया. फ्रांस के अंतोन ग्रीजमैन तीसरे स्थान पर रहे.

‘बैलों दो’ क्या बला है भला 

फ्रेंच में Ballon का मतलब होता है गेंद और Or का मतलब होता है सोना. Ballon d’or (Ballon de + or ) यानी सोने की गेंद का खिताब फ्रांस फुटबॉल पत्रिका देती है. 1956 में शुरू हुआ ‘बैलों दो’ का खिताब 2009 तक सिर्फ यूरोपियन क्लबों में खेलने वाले सबसे अच्छे खिलाड़ी को दिया जाता था. 2009 में फुटबॉल की विश्व संस्था फिफा और फ्रांस फुटबॉल पत्रिका में एक साझेदारी हुई थी जिसके बाद ‘बैलों दो’ खिताब हर साल दुनिया के सबसे अच्छे खिलाड़ी को दिया जाने लगा. लेकिन इस साल फ्रांस फुटबॉल पत्रिका ने अपने नियमों में कुछ बदलाव किए थे जिसके बाद फिफा ने अलग से अपना सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुनने की घोषणा कर दी. ‘बैलों दो’ पुरस्कार में 173 देशों के एक-एक खेल पत्रकार अपना वोट देते हैं और आखिर में शॉर्टलिस्ट किए गए 30 खिलाड़ियों में सबसे ज्यादा वोट लेने वाला खिलाड़ी विजेता घोषित किया जाता है. इस साल 11 खिलाड़ियों को तो 0 वोट मिले थे.

तो फिफा अपना बेस्ट प्लेयर कब चुनेगी

इस साल फिफा पुरस्कार समारोह अलग से होगा. 9 जनवरी को स्विस शहर ज्यूरिख में भारतीय समय के मुताबिक शाम साढे 5 बजे फिफा बेस्ट प्लेयर ऑफ द इयर मैन, वीमन और साल के सबसे खूबसूरत गोल के लिए फिफा पुस्काश पुरस्कार देगी. फिफा की वोटिंग व्यवस्था ‘बैलों दो’ से अलग है. कप्तानों और सभी देशों के प्रमुख कोचों के वोट लिए जाएंगे. इन वोटों से 50% फैसला तय होगा. बाकी का 50% फिफा के ऑनलाइन पोल (जिसमें आप भी वोट दे सकते हैं) और 200 पत्रकारों के वोटों से तय होगा. इस तरह सारे वोटों को मिलाकर सबसे अच्छा खिलाड़ी चुना जाएगा.

Barcelona's Lionel Messi celebrates a goal next to Real Madrid's Cristiano Ronaldo during La Liga's second 'Clasico' soccer match of the season in Madrid

तो अगर आप मेस्सी के फैन हैं तो निराश न हों अभी साल का आधिकारिक खिलाड़ी चुना जाना बाकी है. इस साल से ‘बैलों दो’ एक बार फिर आधिकारिक नहीं रहा है. फ्रांस फुटबॉल पत्रिका का ये पुरस्कार प्रतिष्ठित माना जाता है और लंबे समय से दिया जा रहा है. इसलिए इसका इतना महत्व और ज़िक्र है.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

धान खरीद के मुद्दे पर बीजेपी की नाक में दम करने वाले KCR की कहानी

धान खरीद के मुद्दे पर बीजेपी की नाक में दम करने वाले KCR की कहानी

KCR की बीजेपी से खुन्नस की वजह क्या है?

कौन हैं सीवान के खान ब्रदर्स, जिनसे शहाबुद्दीन की पत्नी को डर लगता है?

कौन हैं सीवान के खान ब्रदर्स, जिनसे शहाबुद्दीन की पत्नी को डर लगता है?

सीवान के खान बंधुओं की कहानी, जिन्हें शहाबुद्दीन जैसा दबदबा चाहिए था.

'द्रविड़ ने बहुत नाजुक शब्दों से मुझे धराशायी कर दिया था'

'द्रविड़ ने बहुत नाजुक शब्दों से मुझे धराशायी कर दिया था'

रामचंद्र गुहा की किताब 'क्रिकेट का कॉमनवेल्थ' के कुछ अंश.

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

शुद्ध और असली स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर करियर ग्राफ़ बाद में गिरता ही चला गया.

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

जगह थी मुंबई एयरपोर्ट. अब दस साल बाद फिर से दोनों का नाम एक साथ सुर्ख़ियों में है.

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.