Thelallantop

RCB ने कुछ इस तरह खुद से लिखी अपनी हार की दास्तां

विकेट लेने के बाद जश्न मनाते लॉकी फर्ग्युसन- PTI

कोलकाता नाइट राइडर्स ने IPL2021 के दूसरे हाफ का शानदार आगाज किया है. अबूधाबी में खेले गए IPL2021 के 31वें मुकाबले में KKR ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को नौ विकेट से हरा दिया. 93 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी KKR ने 10 ओवर में ही मैच अपने नाम कर लिया.

KKR के ओपनर बल्लेबाज शुभमन गिल ने 48 रनों की शानदार पारी खेली. जबकि वेंकटेश अय्यर ने नाबाद 41 रन बनाए. इससे पहले टॉस जीतकर RCB के कप्तान कोहली ने बल्लेबाजी करने का फैसला किया. लेकिन टीम की शुरुआत बेहद खराब रही. खुद कोहली पांच रन बनाकर आउट हुए.

और इसके बाद टीम ताश के पत्तों की तरह बिखर गयी. न मैक्सवेल चले और न ही एबी डी विलियर्स. RCB की तरफ से इस मैच में देवदत्त पडिक्कल ने सबसे ज्यादा 22 रनों का योगदान दिया. वरुण चक्रवर्ती और आंद्रे रसल के आगे RCB के बल्लेबाजों ने घुटने टेक दिए. 92 रनों पर टीम सिमटी और इसके बाद KKR ने लक्ष्य को आसानी से हासिल कर लिया. इस मुकाबले में RCB के लिए कुछ भी पॉजिटिव नहीं रहा. आइये एक नजर डालते हैं RCB vs KKR के इस मुकाबले की पांच अहम बातों पर.

# नहीं चले Virat Kohli

RCB के कप्तान विराट कोहली अपने 200वें IPL मैच को यादगार नहीं बना पाए. मात्र पांच रन बनाकर चलते बने. प्रसिद्ध कृष्णा ने कोहली को एलबीडब्ल्यू आउट किया. RCB के लिए बतौर कप्तान कोहली का ये आखिरी सीजन है. लिहाजा, उनसे उम्मीदें भी सबसे ज्यादा थी. लेकिन KKR के खिलाफ कोहली का बल्ला खामोश रहा. वहीं, प्रसिद्ध कृष्णा ने उनका विकेट चटकाकर अपनी टीम को एक मोमेंटम दिया. इसके बाद तो विकेट्स की झड़ी लग गयी.

# RCB के धुरंधर हुए फ्लॉप

RCB की बल्लेबाजी विराट कोहली, एबी डी विलियर्स और ग्लेन मैक्सवेल के इर्द-गिर्द घूमती है. और KKR के खिलाफ तीनों धुरंधर फ्लॉप हुए. एबी डी विलियर्स गोल्डन डक यानि पहली गेंद पर ही आउट हो गए. आंद्रे रसेल की सटीक यॉर्कर का उनके पास कोई जवाब नहीं था. इसके बाद ग्लेन मैक्सवेल को गेंदबाजों ने ख़ासा परेशान किया. फ्रस्ट्रेट होकर उन्होंने खुद ही अपना विकेट KKR को गिफ्ट कर दिया. बाकी बल्लेबाज भी मौके का फायदा नहीं उठा पाए और सस्ते में निपट गए.

#Varun-Russell की घातक गेंदबाजी

वरुण चक्रवर्ती और आंद्रे रसल ने समां बांध दिया. मिस्ट्री स्पिनर कहे जाने वाले वरुण चक्रवर्ती ने लगातार दो गेंदों पर खतरनाक ग्लेन मैक्सवेल और वानिंदु हसरंगा को आउट किया. इसके बाद KKR के इस स्पिनर ने सचिन बेबी को भी आउट कर अपना तीसरा विकेट हासिल किया. इसके अलावा आंद्रे रसल ने भी तीन विकेट अपने नाम किये. रसल ने पहले श्रीकर भरत और फिर डी विलियर्स को पैवेलियन का रास्ता दिखाया. और फिर अंत में उन्होंने सिराज के रूप में अपना तीसरा विकेट हासिल किया.

#Shubman-Venkatesh की साझेदारी

छोटे लक्ष्य को आसानी से हासिल करने के लिए KKR को अच्छी ओपनिंग साझेदारी की जरूरत थी. शुभमन गिल और वेंकटेश अय्यर ने टीम को शानदार शुरुआत दिलाई. शुभमन गिल और वेंकटेश ने पहले विकेट के लिए 82 रन जोड़ दिए. शुभमन ने 34 गेंदों का सामना करते हुए 48 रनों की पारी खेली. इस दौरान उन्होंने छह चौके और एक छक्का लगाया. जबकि वेंकटेश अय्यर ने 27 गेंदों में नाबाद 41 रनों की पारी खेली.

# Venkatesh Iyer से उम्मीद

पिछले दो-तीन IPL सीजन से KKR की टीम ओपनिंग जोड़ी की गुत्थी नहीं सुलझा पा रही थी. क्रिस लिन के जाने के बाद टीम को एक बढ़िया ओपनर की जरूरत थी. लिहाजा, कई खिलाड़ियों को आजमाया गया. कभी सुनील नरेन के साथ शुभमन गिल. तो कभी शुभमन के साथ राहुल त्रिपाठी. नितीश राणा भी ओपनिंग कर चुके हैं. लेकिन KKR को स्थायी ओपनर की तलाश थी.

RCB के खिलाफ मैच के बाद KKR मैनेजमेंट की चिंता कहीं न कहीं खत्म हो गयी है. वेंकटेश अय्यर ने अपने डेब्यू मैच में ही कमाल की बल्लेबाजी की. बढ़िया शॉट्स लगाए और अच्छी बात ये रही कि मैच जिताकर पवेलियन लौटे. लगा ही नहीं कि पहला मैच खेल रहे हैं. बल्लेबाजी में आत्मविश्वास झलक रहा था. शुभमन और वेंकटेश दोनों ही युवा बल्लेबाज हैं. और अगर KKR इन दोनों खिलाड़ियों पर इन्वेस्ट करता है तो उनकी ओपनिंग की परेशानी खत्म हो सकती है.

IPL 2021: विराट कोहली ने RCB की कप्तानी छोड़ी पर एक बड़ी बात कह दी

Read more!

Recommended