Submit your post

Follow Us

पुलवामा हमले के वक्त PM मोदी क्या कर रहे थे?

14 फरवरी का दिन. पुलवामा हमले का दिन. कई किलो RDX से लदी हुई एक गाड़ी सेना के जवानों के काफिले में मौजूद एक ट्रक से जाकर भिड़ गई. ट्रक के परखचे उड़ गए. CRPF के 40 जवानों की मौत.

लेकिन इस दिन की घटना पर कुछ और बातें हैं. बड़ी बातें. और एक सवाल है. सवाल ये कि जिस दिन पुलवामा हमला हुआ, उस दिन भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहां थे? बड़ा और सपाट जवाब तो ये कि नरेंद्र मोदी इस दिन जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क में थे. लेकिन कई जगहें खबरें छपीं. सूत्रों के हवाले से. मोदी का मिनट दर मिनट का ब्योरा सामने आया.

एनडीटीवी में छपी खबर की मानें, तो नरेंद्र मोदी 14 फरवरी को सुबह करीब 7 बजे दिल्ली से हवाई मार्ग के ज़रिये देहरादून पहुंचे. देहरादून में मौसम खराब था. वे 4 घंटे तक वहीं रुके रहे. इसके बाद 11 बजे वे जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क पहुंचे. खबरें चलीं कि नरेंद्र मोदी यहां कई विकास योजनाओं का उद्घाटन करने पहुंचे हुए थे. ‘इंडिया टुडे’ की खबर के हवाले से भी कहें, तो नरेंद्र मोदी ने यहां टाइगर सफारी, इको टूरिज्म जोन और रेस्क्यू सेंटर का उद्घाटन किया.

12 अगस्त को आए 'मैन वर्सेज़ वाइल्ड' के एपिसोड में बेअर ग्रिल्स के साथ प्रधानमंत्री मोदी भी नज़र आए. इसकी शूटिंग उत्तराखंड के जिम कॉर्बेट नैशनल पार्क में हुई (फोटो: डिस्कवरी चैनल)
12 अगस्त को आए ‘मैन वर्सेज़ वाइल्ड’ के एपिसोड में बेयर ग्रिल्स के साथ प्रधानमंत्री मोदी भी नज़र आए. इसकी शूटिंग उत्तराखंड के जिम कॉर्बेट नैशनल पार्क में हुई (फोटो: डिस्कवरी चैनल)

इधर बजे घड़ी में दोपहर के 3:10 मिनट. पुलवामा में जवानों के काफिले पर हमला हो गया. नरेंद्र मोदी के बारे में इस समय खबर चली कि वे ढिकाला जाने के लिए कालागढ़ से मोटरबोट की यात्रा कर रहे थे. इसके बाद ढिकाला में उन्होंने जंगल की सैर की. इसके बाद नरेंद्र मोदी को रुद्रपुर में जनसभा को संबोधित करना था. मौसम खराब था. और नरेंद्र मोदी को 25 मिनट बाद सूचना मिली थी कि पुलवामा में हमला हो गया है. उन्होंने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल से नाराजगी जताई. कहा कि उन्हें देर से सूचना क्यों दी गयी? रुद्रपुर की जनसभा कैंसिल कर दी गयी. लेकिन नरेंद्र मोदी ने रैली को फोन से संबोधित किया. नरेंद्र मोदी खराब मौसम के कारण बहुत देर तक फंसे रहे. बाद में वे बरेली पहुंचे. बरेली में मौजूद हवाई पट्टी से उन्होंने दिल्ली के लिए उड़ान भरी. इस दौरान में लगातार सुरक्षा व्यवस्था का जायजा ले रहे थे. हर संभावित आदेश दे रहे थे.

क्यों उठने लगे सवाल?

घटना के एक हफ्ते बाद कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने पत्रकार वार्ता की. कहा कि पुलवामा में जिस समय जवानों पर हमला हुआ, उस समय नरेंद्र मोदी जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क में शूटिंग कर रहे थे. वे जिम कॉर्बेट पार्क से शाम 7 बजे बाहर निकले. विपक्षियों ने कहा कि नरेंद्र मोदी दिन भर डिस्कवरी चैनल के लिए किसी डाक्यूमेंट्री की शूटिंग कर रहे थे. इस समय तक शो का नाम नहीं सामने आया था.

राहुल गांधी ने 22 फरवरी को ट्वीट किया. तस्वीरों के साथ. नरेंद्र मोदी जिम कॉर्बेट पार्क में थे. कैमरा-माइक और तमाम तामझाम दिख रहे थे. कहा, “देश के दिल व शहीदों के घरों में दर्द का दरिया उमड़ा था और वे हंसते हुए दरिया में फोटोशूट पर थे.”

कुछ खबरें और वीडियो भी सामने आ रहे थे. कह रहे थे कि नरेंद्र मोदी के उस दिन के शेड्यूल के बारे में अलग-अलग बातें चल रही थीं, प्रधानमंत्री कार्यालय के दावों को झुठला रहे थे. टीवी9 भारतवर्ष ने प्रधानमंत्री के काफिले का एक वीडियो फेसबुक पर लगाया. इसमें कहा गया, “14 फरवरी को पुलवामा आतंकी हमले के बाद शाम 7.30 बजे पीएम नरेंद्र मोदी का काफिला जिम कॉर्बेट से बाहर निकला.”

शाम 7:30 बजे. यही नहीं. अमर उजाला के नैनीताल संस्करण ने बताया कि शाम पौने सात बजे नरेंद्र मोदी धनगढ़ी गेट से बाहर निकले.

इस समय ये बात भी सामने आई कि जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क में उस वक़्त नेटवर्क नहीं था. इस वजह से नरेंद्र मोदी को सही समय पर सूचना नहीं दी जा सकी. लेकिन मोटा-मोटी प्रधानमंत्री का प्रोटोकॉल ये कहता है कि देश का प्रधानमंत्री किसी भी वक़्त पर नेटवर्क के ज़ोन से बाहर नहीं जा सकता है.

देहरादून में मौसम खराब होने के कारण 4 घंटे की देर हुई. कार्यक्रम पीछे खिसकता गया. मीडिया में छपी खबरों की मानें, तो डिस्कवरी चैनल को सुबह नौ बजे से दोपहर दो बजे तक का समय दिया गया था. चूंकि ख़राब मौसम के कारण कार्यक्रम ही 11 बजे के बाद ही शुरू हो सका, और देर शाम तक चलता रहा. ऐसे भी कयास लगाए जा रहे हैं.

इसके बाद नरेंद्र मोदी की रुद्रपुर रैली की बात. कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने 20 फरवरी को आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में रुद्रपुर रैली का एक वीडियो प्ले किया. दूरदर्शन का. वीडियो में मोदी रुद्रपुर रैली को फोन से संबोधित कर रहे थे. मनीष तिवारी ने कहा कि सूचना मिलने के बावजूद नरेंद्र मोदी ने एक दफा भी रैली में पुलवामा हमले का ज़िक्र नहीं किया, न ही लोगों से मौन धारण करने की अपील की.

लेकिन इसी बीच देश के बड़े मीडिया चैनलों ने खबर चलाई. कहा कि नरेंद्र मोदी को पुलवामा हमले की सूचना चार घंटे की देर से दी गयी. ये खबर सूत्रों के हवाले से चलाई गयी थी. कहा गया कि नरेंद्र मोदी ने इस पर अजित डोभाल से नाराजगी भी जताई थी. लेकिन कुछ ही देर में ये खबर सभी चैनलों से अचानक से गायब हो गयी.

दी हिन्दू की पत्रकार निस्तुला हेब्बार ने ट्वीट भी किया था.

इसके बाद सवाल उठने लगे कि समाचार एजेंसियों ने किसी दबाव में खबर हटा दी.

BJP की सफाई

The Wire और कई मीडिया संस्थानों ने प्रधानमंत्री कार्यालय को सवाल भेजे. 14 फरवरी, 2019 को नरेंद्र मोदी के पूरी दिनचर्या के बारे में और इस बारे में भी कि उन्हें पुलवामा हमले की सूचना कब दी गयी. कोई जवाब नहीं आया. लेकिन केन्द्रीय क़ानून मंत्री रविशंकर प्रसाद और उस समय बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने जवाब दिया. राजनीतिक जवाब कहा गया. कहा कि नरेंद्र मोदी की दिनचर्या पर सवाल उठाने वाले लोग पाकिस्तान को खुश करने की भाषा बोल रहे हैं. बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस और पाकिस्तान के काम एक जैसे लग रहे हैं. कांग्रेस राजनीति कर रही है. लेकिन प्रधानमंत्री के उस दिन की दिनचर्या के बारे में जवाब नहीं दिया.

फिर आया ट्रेलर

ये हल्ला थोड़ा ही शांत हुआ था. 29 जुलाई की तारीख. डिस्कवरी पर ‘मैन वर्सेज़ वाइल्ड’ शो होस्ट करने वाले बियर ग्रिल्स ने ट्वीट किया. बताया कि 12 अगस्त को नरेंद्र मोदी के साथ शूट हुआ ‘मैन वर्सेज़ वाइल्ड’ का एपिसोड एयर किया जाएगा.

इसके बाद से फिर से पूरी बहस शुरू हुई. आरोप फिर से तेज़ हो गए. कहा जाने लगा कि इसी शो की शूटिंग के लिए नरेंद्र मोदी दिनभर पुलवामा की खबरों से दूर थे. जिम कॉर्बेट में थे, शूटिंग कर रहे थे. लेकिन बीजेपी के पास जवाब नहीं, अपील थी. कि संकट के समय देश को साथ खड़ा होना पड़ेगा.

मीडिया संस्थानों ने इस बारे में कॉर्बेट नेशनल पार्क से भी संपर्क करने की कोशिश की. कोई जवाब नहीं मिला. लेकिन Money Control में छपी खबर बताती है कि ‘मैन वर्सेज़ वाइल्ड’ शो की शूटिंग से नेशनल पार्क को 1.26 लाख रुपए की कमाई हुई.


लल्लनटॉप वीडियो : नरेंद्र मोदी ने लातूर की रैली में पुलवामा और एयर स्ट्राइक को ऐसे भुनाया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

मधुबाला को खटका लगा हुआ था इस हीरोइन को दिलीप कुमार के साथ देखकर

एक्ट्रेस निम्मी के गुज़र जाने पर उनको याद करते हुए उनकी ज़िंदगी के कुछ किस्से

90000 डॉलर का कर्ज़ा उतारकर प्राइवेट जेट खरीद लिया था इस 'गैंबलर' ने

उस अमेरिकी सिंगर की अजीब दास्तां, जो बात करने के बजाए गाने में ज़्यादा कंफर्टेबल महसूस करता था

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.