Submit your post

Follow Us

क्विज: कौन था वह इकलौता पाकिस्तानी जिसे भारत रत्न मिला?

338
शेयर्स

8 अगस्त 2019. आज राष्ट्रपति भवन में देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘भारत रत्न’ तीन विभूतियों को दिया गया. ये तीन नाम हैं- देश के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, असमिया कलाकार भूपेन हजारिका और बीजेपी के संस्थापक सदस्य नानाजी देशमुख. नानाजी देशमुख और भूपेन हजारिका को यह सम्मान मरणोपरांत दिया गया. प्रणब मुखर्जी को 8 अगस्त को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अपने कर-कमलों से उपाधि सौंपी. इस तरह भारत रत्न पाने वाले लोगों की कुल संख्या 48 हो गई है.

भारत रत्न में क्या-क्या मिलता है?

एक सनद (सर्टिफिकेट) मिलता है. इस पर भारत के राष्ट्रपति के दस्तखत होते हैं.

पीपल की आकृति का मेडल मिलता है. तांबे के मेडल पर प्लैटिनम से बनी सूर्य की आकृति उकेरी होती है.

इस अवॉर्ड में एक भी पैसा नहीं दिया जाता. माने अमूल्य है ये सम्मान.

आप कितना जानते हैं इस सम्मान के बारे में? ये क्विज खेलिए और अपना ज्ञान जांचिए:

1. प्रोटोकॉल में भारत रत्न कितने नंबर पर आता है?
  1. पहले
  2. तीसरे
  3. पांचवे
  4. सातवें
2. पहला भारत रत्न साल 1954 में कितने लोगों को दिया गया था?
  1. एक
  2. तीन
  3. पांच
  4. दो
3. पहली बार मरणोपरांत भारत रत्न किसको दिया गया था?
  1. पं. जवाहरलाल नेहरू
  2. सरदार वल्लभभाई पटेल
  3. मदर टेरेसा
  4. लाल बहादुर शास्त्री
4. सबसे कम उम्र में भारत रत्न किसको मिला है?
  1. राजीव गांधी
  2. सचिन तेंडुलकर
  3. लता मंगेशकर
  4. इंदिरा गांधी
5. भारत रत्न पाने वाला सबसे उम्रदराज शख्स कौन था?
  1. खान अब्दुल गफ्फार खान
  2. धोंडो केशव कर्वे
  3. पं जवाहरलाल नेहरू
  4. नेल्सन मंडेला
6. कौन था वह इकलौता पाकिस्तानी नागरिक जिसे भारत रत्न से सम्मानित किया गया?
  1. जुल्फिकार अली भुट्टो
  2. अयूब खान
  3. खान अब्दुल गफ्फार खान
  4. परवेज मुशर्रफ
7. किस प्रधानमंत्री के कार्यकाल में भारत रत्न देना बंद कर दिया गया था?
  1. इंदिरा गांधी
  2. वी. पी. सिंह
  3. पीवी नरसिम्हा राव
  4. मोरारजी देसाई
8. किस लीडर का नाम भारत रत्न के लिए अनाउंस किया गया लेकिन दिया नहीं गया?
  1. सुभाष चंद्र बोस
  2. महात्मा गांधी
  3. मोतीलाल नेहरू
  4. संजय गांधी
9. वो दो व्यक्ति जो भारत रत्न की शुरुआत से पहले इस दुनिया से रुखसत हो चुके थे.
  1. मदन मोहन मालवीय और सर्वपल्ली राधाकृष्णन
  2. सरदार पटेल और मदन मोहन मालवीय
  3. पं. नेहरू और सी राजगोपालाचारी
  4. सीवी रमन और सरदार पटेल
10. किस बरस ये घोषणा हुई कि भारत रत्न किसी भी क्षेत्र में असाधारण काम करने वालों को दिया जा सकता है?
  1. 2008
  2. 2009
  3. 2010
  4. 2011
लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

न्यू मॉन्क

यज्ञ में नहीं बुलाया गया तो शिव ने भस्म करवा दिया मंडप

शिव से बोलीं पार्वती- 'आप श्रेष्ठ हो, फिर भी होती है अनदेखी'.

नाम रखने की खातिर प्रकट होते ही रोने लगे थे शिव!

शिव के सात नाम हैं. उनका रहस्य जानो, सीधे पुराणों के हवाले से.

ब्रह्मा की हरकतों से इतने परेशान हुए शिव कि उनका सिर धड़ से अलग कर दिया

बड़े काम की जानकारी, सीधे ब्रह्मदारण्यक उपनिषद से.

एक बार सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र ने भी झूठ बोला था

राजा हरिश्चंद्र सत्य का पर्याय हैं. तभी तो कहा जाता है- सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र. पर एक बार हरिश्चंद्र ने भी झूठ कहा था. क्यों कहा था?

जटायु के पापा का सूर्य से क्या रिश्ता था?

अगर पूरी रामायण पढ़े हो तो पता होगा. नहीं पता तो यहां पढ़ो.

ब्रह्मा की पूजा से जुड़ा सबसे बड़ा झूठ, बेटी से नहीं की थी शादी

कहते हैं कि बेटी सरस्वती से विवाह कर लिया था ब्रह्मा ने. इसीलिए उनकी पूजा नहीं होती. न मंदिर बनते हैं. सच ये है.

उपनिषद् का वो ज्ञान, जिसे हासिल करने में राहुल गांधी को भी टाइम लगेगा

जानिए उपनिषद् की पांच मजेदार बातें.

औरतों को कमजोर मानता था महिषासुर, मारा गया

उसने वरदान मांगा कि देव, दानव और मानव में से कोई हमें मार न पाए, पर गलती कर गया.

राम-सीता की शादी के लिए नहीं हुआ था कोई स्वयंवर

न स्वयंवर हुआ था, न उसमें रावण आया था: रामायण का एक कम जाना हुआ सच.

परशुराम ने मां की हत्या क्यों की थी और क्षत्रियों को क्यों मारते थे, यहां जानो

परशुराम से जुड़े वो सारे मिथ, जो लोग आपको बिना किसी प्रूफ के बताते हैं.