Submit your post

Follow Us

अश्वत्थामा मारा गया, किंतु : वो बातें, जो पीएम मोदी अपने भाषण में छुपा गए

20 अक्टूबर, 2020 को पीएम नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर राष्ट्र को संबोधित किया. कोरोना काल में कुल सातवीं बार. इस बार उन्होंने कोरोना को लेकर देश के हालात के बारे में जानकारी दी. साथ ही, इस महामारी से लड़ने का मंत्र देते हुए लापरवाह रवैया न अपनाने की अपील की. इस दौरान उन्होंने अपने संबोधन में ये भी बताया कि भारत में प्रति 10 लाख लोगों में पांच हजार लोगों को कोरोना हुआ है, जबकि अमेरिका और ब्राजील जैसे देशों में ये संख्या 25 हजार है.

# अब इस तुलना में PM मोदी एक ग़लती कर गए

देखिए, अगर मैं आपसे कहूं कि एक देश की जनसंख्या 100 है और दूसरे देश की 1000, तो आपको लगेगा कि दूसरे देश की जनसंख्या ज़्यादा है, जो कि है भी. लेकिन इकलौता जनसंख्या का डेटा सही होते हुए भी आपके सामने क्लियर पिक्चर नहीं पेश कर पाएगा. अब आगे ये कहा जाए कि दूसरा देश, आकार में पहले देश से लाखों गुना बड़ा है तो? तो आप समझ जाएंगे कि तुलनात्मक रूप से पहले देश का जनसंख्या घनत्व ज़्यादा है. आबादी और आकार, दोनों की पूरी जानकारी मिलने के बाद अब आपको लगेगा कि दोनों देशों की तुलना सही तरीके से हो रही है.

कभी भी तुलना के लिए एक फ़्रेम ऑफ़ रेफ़रेंस की ज़रूरत पड़ेगी. और इसके बिना तुलनाएं ‘सेब और संतरे के बीच’ की तुलना सरीखी हो जाएगी.

अब आप कहेंगे कि मोदी जी ने भी तो प्रति 10 लाख (मिलियन) के हिसाब से ही तुलना की. और मोदी जी सही भी हैं कि जहां अमेरिका प्रति मिलियन कोरोना केसेज़ के मामले में 12वें और ब्राज़ील 14वें नम्बर पर है, वहीं भारत बहुत नीचे यानी 85वें स्थान पर आता है. और जो देश जितना नीचे, उसकी स्थिति उतनी अच्छी मानी जाएगी.

देखी है सारी दुनिया, ब्राज़ील से लेकर अमेरिका. (सांकेतिक तस्वीर: PTI)
देखी है सारी दुनिया, ब्राज़ील से लेकर अमेरिका. (सांकेतिक तस्वीर: PTI)

लेकिन जो चीज़ मोदी जी अपने भाषण में मेंशन करना भूल गए, वो थी प्रति मिलियन कोविड टेस्ट. जहां इस मामले में यूएस 19वें नम्बर पर और ब्राज़ील 96वें नम्बर पर आता है, वहीं भारत 105वें नम्बर पर है. और जो देश जितना नीचे, उसकी स्थिति उतनी बुरी मानी जाएगी. इस फ़ैक्ट के बिना पीएम की बात ‘अश्वत्थामा हतो..’ वाली कैटेगरी में आ जाती है.

कैसे? देखिए, ये बात तो आप भी मानेंगे कि जितने ज़्यादा कोविड टेस्ट होंगे, उतने ज़्यादा कोरोना केस आएंगे. तो जहां मोदी जी द्वारा बताए गए अधूरे डेटा के हिसाब से ऐसा लग रहा है कि प्रति मिलियन जनसंख्या के हिसाब से भारत की स्थिति ब्राज़ील, अमेरिका से कहीं बेहतर है. स्पेसिफ़िकली पांच गुना बेहतर, वहीं अगर प्रति मिलियन टेस्ट के हिसाब से तुलना की जाए, तो अब तक-

# हर 10 लाख टेस्ट में भारत में कोरोना के 78,797 केस निकले हैं.

# हर 10 लाख टेस्ट में यूएस में कोरोना के 66,662 केस निकले हैं.

# हर 10 लाख टेस्ट में ब्राज़ील में कोरोना के 2,94,682 केस निकले हैं.

 त्यौहार और ठंड. विशेषज्ञ कह रहे हैं कि इंडिया में अभी कोरोना का एक्स्ट्रीम बाक़ी है. (सांकेतिक तस्वीर: PTI)
त्योहार और ठंड. विशेषज्ञ कह रहे हैं कि इंडिया में अभी कोरोना का एक्स्ट्रीम बाक़ी है. (सांकेतिक तस्वीर: PTI)

यानी भारत में कितने टेस्ट हुए हैं, इस हिसाब से कोरोना मरीज़ों की संख्या को देखा जाए, तो-

ब्राज़ील की तो ख़ैर स्थिति भारत से गई बीती है, लेकिन 5 गुना बुरी नहीं, सिर्फ़ पौने चार गुना के लगभग.

वहीं अमेरिका की स्थिति भारत से कहीं अच्छी है. प्रति एक मिलियन टेस्ट में भारत में अमेरिका से 12 हज़ार केसेज़ ज़्यादा आ रहे हैं.

इसलिए अगर मोदी जी का स्टेटमेंट ‘अश्वत्थामा हतो..’ वाला था, तो उस स्टेटमेंट का ‘हाथी’ था, कोविड टेस्ट. इसे बताए बिना बात अधूरी थी, मिसलीडिंग थी.

और फिर दुखद रूप से, विशेषज्ञों की मानें, तो भारत में कोरोना की ‘पिक्चर अभी बाकी है’. जहां से कोरोना शुरू हुआ था, यानी चाइना, वहां पर कोरोना के आज तक जितने केस आए हैं, भारत और अमेरिका में एक दिन में उतने केस आते जा रहे हैं. एक स्थिति ऐसी थी, जब चाइना में हज़ारों केस हो गए थे और शेष विश्व में ये फ़िगर लगभग शून्य या सिफ़र था. कहने का मतलब ये कि जीतकर ही जश्न मनाया जाए, तो बेहतर. वो भी अगर ये जीत-हार या तुलना वाली बात हो तो.


वीडियो देखें: सोने के गहने पर बैंक से लोन कैसे ले सकते हैं?-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

चुनावी माहौल में क्विज़ खेलिए और बताइए कितना स्कोर हुआ.

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

राहुल के साथ यहां भी गड़बड़ हो गई.

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

14 मार्च को बड्डे होता है. ये तो सब जानते हैं, और क्या जानते हो आके बताओ. अरे आओ तो.

आमिर पर अगर ये क्विज़ नहीं खेला तो दोगुना लगान देना पड़ेगा

आमिर पर अगर ये क्विज़ नहीं खेला तो दोगुना लगान देना पड़ेगा

म्हारा आमिर, सारुक-सलमान से कम है के?

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

आज आमिर खान का हैप्पी बड्डे है. कित्ता मालूम है उनके बारे में?

अनुपम खेर को ट्विटर और वॉट्सऐप वीडियो के अलावा भी ध्यान से देखा है तो ये क्विज खेलो

अनुपम खेर को ट्विटर और वॉट्सऐप वीडियो के अलावा भी ध्यान से देखा है तो ये क्विज खेलो

चेक करो अनुपम खेर पर अपना ज्ञान.

कहानी राहुल वैद्य की, जो हमेशा जीत से एक बिलांग पीछे रह जाते हैं

कहानी राहुल वैद्य की, जो हमेशा जीत से एक बिलांग पीछे रह जाते हैं

'इंडियन आइडल' से लेकर 'बिग बॉस' तक सोलह साल हो गए लेकिन किस्मत नहीं बदली.

गायों के बारे में कितना जानते हैं आप? ज़रा देखें तो...

गायों के बारे में कितना जानते हैं आप? ज़रा देखें तो...

कितने नंबर आए बताते जाइएगा.

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

आप अपने देश की सेना को कितना जानते हैं?

आप अपने देश की सेना को कितना जानते हैं?

कितना स्कोर रहा ये बता दीजिएगा.