Submit your post

Follow Us

जब नेहरू ने आज़ादी से एक साल पहले ही सरकार बना ली थी

भारतीय इतिहास में दर्ज पंडित जवाहर लाल नेहरू और बच्चों के चाचा नेहरू भारत में बनी अंतरिम सरकार में वाइस प्रेसिडेंट भी थे. ये पद उनके पास तब था, जब देश आज़ाद नहीं हुआ था. भारत की कमान अंग्रेज़ों के पास थी और पाकिस्तान भी इसका हिस्सा था.

2 सितंबर को बनी थी ये वाली सरकार

intrim Cabinet
2 सितंबर 1946 को गठित अंतरिम सरकार के सदस्य.

द्वितीय विश्वयुद्ध के बाद भारत की आज़ादी लगभग निश्चित हो गई थी. अंग्रेज भी भारत को आज़ाद करने के लिए राजी हो गए थे. भारत को आज़ादी कैसे दी जाएगी, इसे तय करने के लिए 1946 में ब्रिटेन की ओर से भारत में कैबिनेट मिशन भेजा गया था. कैबिनेट मिशन ब्रिटेन ने भारत में अंतरिम चुनाव करवाए. इस चुनाव में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के साथ ही मुस्लिम लीग ने भी हिस्सा लिया था. चुनाव में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस को सबसे अधिक 69 फीसदी सीटें हासिल हुईं. कांग्रेस ने 11 प्रोविंस में से 8 प्रोविंस में जीत हासिल की. इसके बाद पंडित जवाहर लाल नेहरू को वाइस प्रेसिडेंट बनाया गया. उस वक्त नेहरू के पास प्रधानमंत्री जैसी शक्तियां थीं. सरकार में दूसरा सर्वोच्च पद सरदार वल्लभ भाई पटेल को दिया गया था.

अंग्रेज भी थे कुनबे में

उस वक्त भारत में शासन करने के लिए जो एग्जीक्यूटिव काउंसिल थी, उसे भी सरकार में शामिल किया गया था. सरकार की पूरी शक्ति वायसराय के ही हाथ में थी. इस अंतरिम सरकार में वायसराय के अलावा ब्रिटेन के कमांडर-इन-चीफ को भी शामिल किया गया था.

ऐसे बंटी थी मिनिस्ट्री

Comander in chief
ब्रिटेन के कमांडर इन चीफ सर क्लॉड ऑचिनलेक (दाहिने) और बीच में वायसराय विस्कोंट वेबेल.

इस सरकार में कुल 15 सदस्य थे, जिनमें दो सदस्य ब्रिटेन के थे. पहले ब्रिटिश सदस्य थे वायसराय विस्कोंट वेबेल और दूसरे थे ब्रिटेन के कमांडर इन चीफ सर क्लॉड ऑचिनलेक. 26 अक्टूबर 1946 को मुस्लिम लीग भी सरकार में शामिल हो गई थी. यह सरकार 15 अगस्त 1947 तक अस्तित्व में रही.

ऐसा था पूरा कुनबा

intrim Cabinet member
आज़ादी से पहले भारत की अंतरिम सरकार में ये सभी चेहरे शामिल थे.

1. वायसराय और भारत के गवर्नर : जनरल विस्कोंट वेबेल (ब्रिटेन)
2.कमांडर इन चीफ : सर क्लॉड ऑचिनलेक (ब्रिटेन)
3. वाइस प्रेसिडेंट (एग्जीक्यूटिव काउंसिल) : जवाहर लाल नेहरू
4. गृह, सूचना एवं प्रसारण : वल्लभ भाई पटेल
5. कृषि एवं खाद्य : राजेंद्र प्रसाद
6. वाणिज्य : इब्राहिम इस्माइल चुंद्रीगर (मुस्लिम लीग)
7. शिक्षा एवं कला : सी राजगोपालाचारी
8. रक्षा : बलदेव सिंह
9. वित्त : लियाकत अली खान (मुस्लिम लीग)
10.उद्योग : सी राजगोपालाचारी
11. श्रम : जगजीवन राम
12. कानून : जोगेंद्र नाथ मंडल
13. डाक एवं तार : अब्दुल राब निश्तर ( मुस्लिम लीग)
14. रेलवे एवं जनसंचार : आसफ अली
15. खनन एवं उर्जा : सी.एच. भाभा

वीडियो भी देखें:


ये भी पढ़े:

मिलिट्री यूनिफॉर्म पहने बोस ने गांधी के बारे में वो कहा, जो सबको जानना चाहिए

पटना में 7 लड़कों को गोलियां मारी गईं, तब तक एक छोटा सा लड़का तिरंगा फहरा चुका था

75 साल पहले बंबई के मैदान में गांधी ने वो नारा बुलंद किया था जो आज भी रोएं खड़े कर देता है

फ्रांस के खुफिया दस्तावेजों में दफ़न था नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मौत का सच!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

विधायक विजय मिश्रा, जिन्हें यूपी पुलिस लाने लगी तो बेटियां बोलीं- गाड़ी नहीं पलटनी चाहिए

चलिए, विधायक जी की कन्नी-काटी जानते हैं.

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

कभी सोचा नहीं होगा कि लल्लन साड़ियों पर भी क्विज बना सकता है. खेलो औऱ स्कोर करो.

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़. अपना ज्ञान यहां चेक कल्लो!

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.