Submit your post

Follow Us

फेंसेज़: इस फिल्म के लिए वायोला डेविस को बेस्ट एक्ट्रेस का ऑस्कर मिला है

89वें एकेडमी पुरस्कार के विनर्स की घोषणा हो गई है. 'द लल्लनटॉप' ने दो महीने पहले प्रडिक्ट किया था और वे फिल्में टॉप विनर्स रहीं.

# Fences

” ट्रॉय 53 साल का ब्लैक अमेरिकन है जो रोज़ म्यूनिसिपैलिटी की गाड़ी में कचरा उठाने का काम करता है. ये पचास के दशक का अमेरिका है जहां ब्लैक कम्युनिटी का जीवन स्तर बहुत नीचा और निराशाएं बहुत ऊंची हैं. ट्रॉय बेसबॉल खेलता था. नीग्रो लीग में. सफल प्लेयर बनना चाहता था लेकिन बढ़ती उम्र और रंग के कारण उसे जीवन में दिक्कतें उठानी पड़ी. वो हमेशा अपने बेटे कॉरी पर खीझ निकालता रहता है या उसके प्रति कठोर रहता है. हालांकि उसका इरादा अपने बेटे को बाहरी कठोर दुनिया के प्रति तैयार करना होता है लेकिन इससे घरेलू जीवन में घुटन जैसा माहौल होता है. उसकी पत्नी भी एक निम्नवर्गीय अश्वेत गृहिणी होने के कष्टों का सामना बहुत बरस से चुपचाप कर रही है. ऊपर से निराश पति को भी बर्दाश्त करना है. कई और किरदार हैं जो इस कहानी के अन्य अध्याय खोलते हैं. कहानी की एक फिलॉसफी फिल्म में कही एक लाइन में छुपी है कि कुछ लोग अपने चारों तरफ बाड़ बना लेते हैं ताकि कोई अंदर न आ सके और कुछ लोग बाड़ बना लेते हैं कि वे खुद बाहर न जा सकें. “

‘फेंसेज़’ के डायरेक्टर डेंजल वॉशिंगटन हैं. इससे पहले वे दो फिल्में डायरेक्ट कर चुके हैं – ‘एनटुवान फिशर’ (2002) और ‘द ग्रेट डिबेटर्स’ (2007). तीनों ही फिल्मों में मुख्य पात्र अफ्रीकी अमेरिकी लोग रहे हैं. और तीनों बार डायरेक्शन के अलावा लीड रोल भी डेंजल ने ही किया है. हमने कहा था डेंजल को बेस्ट एक्टर का नॉमिनेशन इस फिल्म के लिए मिल गया है. हालांकि उनके जीतने की संभावना मामूली बताई थी और वे नहीं जीते. केसी एेफ्लेक जीते ‘मैनचेस्टर बाय द सी’ के लिए.

वहीं ‘फेंसेज़’ में पत्नी का रोल करने वाली वायोला डेविस द लल्लनटॉप के प्रडिक्शन मुताबिक बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के रोल में नामांकित हुईं. जीतने की संभावना भी थी और वे जीत गई हैं. फिल्म को एक ही ऑस्कर मिला है.

बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस – वायोला डेविस

viola

वायोला को 2012 में ‘द हेल्प’ के लिए बेस्ट एक्ट्रेस का ऑस्कर नॉमिनेशन मिला था.

ये फिल्म अफ्रीकी अमेरिकी नाटककार ऑगस्ट विल्सन के 1983 में आए नाटक ‘फेंसेज़’ पर आधारित है. इस प्ले को ड्रामा श्रेणी में पुलित्ज़र प्राइज़ दिया गया था. ऑगस्ट ने अमेरिका में ब्लैक लाइफ का चित्रण अपने 10 नाटकों में किया था जो पिट्सबर्ग में रहने वाले अश्वेत समुदाय के जीवन का चित्रण करते थे. हर नाटक बीसवीं सदी के हरेक दशक को कवर करता है. हमारे अनुमान मुताबिक बेस्ट एडेप्टेड स्क्रीनप्ले के लिए ऑगस्ट को नामांकन मिला. वे 2005 में गुजर गए थे. चौथा नामांकन बेस्ट पिक्चर का मिला जो टॉप कैटेगरी थी.

‘फेंसेज़’ की कई ताकतें हैं. जैसे इसकी कहानी, जो बेहद भावनात्मक और तोड़ देने वाली है. ऐसे सच्चे पात्रों की कहानी जिन्हें सिनेमा में ज्यादा जगह नहीं मिलती और पहले दर्शक भी ज्यादा रुचि नहीं दिखाते थे. दूसरा, इसकी थियेटर की पृष्ठभूमि. ‘फेंसेज’ ऐसा प्ले है जिसका मंचन 29 साल से हो रहा है. पहली टीम के साथ इसका मंचन 525 बार हुआ था. दूसरी बार इसे 2010 में रिवाइव किया गया और तब इसमें डेंजल-वायोला और अन्य लोगों को कास्ट किया गया. इसका भी बहुत बार मंचन हुआ. फिल्म में ज्यादातर वे ही लोग हैं जो प्ले में भी थे. इस वजह से सबके किरदार, संवाद, स्वरूप मंझे हुए हैं. फिल्म में इसका ठोस असर नजर आता है.

89वें एकेडमी अवॉर्ड की अन्य फिल्मों के बारे में पढ़ेंः

लहू जमा देने वाली कठोर ‘मूनलाइट’ इसलिए बनी ऑस्कर-2017 की बेस्ट फिल्म!
ऑस्कर-2017 में सबसे ज्यादा अवॉर्ड जीती है फिल्म ‘ला ला लैंड’
मैनचेस्टर बाय द सी: इस बार बेस्ट एक्टर इस फिल्म में से चुना गया
‘हैकसॉ रिज़ः कहानी उस जिद्दी की जो सेना में रहा पर कभी गन नहीं उठाई
‘अराइवल’ ने भी जीता ऑस्करः ऐसी एलियन मूवी अभी तक नहीं बनी है
फेंसेज़: इस फिल्म के लिए वायोला डेविस को बेस्ट एक्ट्रेस का ऑस्कर मिला है
हैल ऑर हाई वॉटरः दो निराश लुटेरों की ये कहानी 2016 की मस्ट वॉच इंडी मूवी है!
लविंगः दो प्रेमियों की कहानी जिनकी वजह से कानून को बदलना पड़ा!
ऑस्कर-2017 की फिल्मेंः ‘नॉक्टर्नल एनिमल्स’ – हम ज़हरीले जानवर हैं
फ्लोरेंस फॉस्टर जेनकिन्स: अवॉर्ड न मिला पर ऑस्कर इवेंट के केंद्र में ये एक्ट्रेस थी
लॉयनः 6 ऑस्कर से नामांकित रही इस फिल्म में देव पटेल भी हैं, नवाजुद्दीन भी!

(* ये खबर जनवरी के शुरू में प्रकाशित हुई थी. पहले ऑस्कर नॉमिनेशंस और फिर 27 फरवरी को ऑस्कर के विनर्स घोषित होने के बाद इसे संपादित किया गया है. )

..
Also Read:
ऑस्कर-2017 को होस्ट करेगा ये सेलेब्रिटी, स्वागत नहीं करेंगे इनका!
ऑस्कर जाने वाली फिल्मों को सरकार 1 करोड़ का खर्चा देगी लेकिन ये चंदा कम पड़ेगा

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.