Submit your post

Follow Us

गाजियाबाद रेप केस सामने आते ही घटिया हरकतें शुरू हो गई हैं

चार रोज़ हुए जब राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने एक खास अध्यादेश को मंजूरी दी. इस अध्यादेश के मुताबिक 12 साल से कम उम्र के मासूमों से रेप करने वालों को फांसी होगी. 16 साल से कम किशोरी का रेप करने पर न्यूनतम सज़ा 10 साल से बढ़ाकर 20 साल की गई. 16 से ऊपर की लड़की से बलात्कार करने पर होने वाली कम से कम 7 साल की सज़ा को बढ़ाकर 10 साल किया गया. साथ ही बलात्कार से जुड़े मामलों की सुनवाई दो महीने में पूरी हो. अपील पर सुनवाई 6 महीने में पूरी हो. 16 से कम उम्र की लड़की से बलात्कार पर आरोपी को अग्रिम जमानत न मिले. ये सब उस अध्यादेश में है. लेकिन अफसोस की बात ये है कि इस अध्यादेश पर राष्ट्रपति की मुहर लगने के बाद पूरे देश में लगभग 30 मामले रेप के दर्ज किए गए हैं.

राष्ट्रपति कोविंद, तस्वीर: ट्विटर
राष्ट्रपति कोविंद, तस्वीर: ट्विटर

इनमें से एक मामला गाजियाबाद रेप का है. कम शब्दों में केस जानें तो दिल्ली के गाजीपुर में रहने वाली 11 साल की एक बच्ची 21 अप्रैल की शाम घर से लापता हो गई. घर वालों ने खोजा. नहीं मिली. गाजीपुर पुलिस को सूचित किया. पुलिस ने खोज शुरू की तो पता चला कि बच्ची गाजियाबाद के एक मदरसे में है. गाजियाबाद और दिल्ली पुलिस ने मदरसे पर रेड की और लड़की को छुड़ाया. मदरसे के मौलवी और 17 साल के एक लड़के को अरेस्ट किया. सीसीटीवी फुटेज में लड़की इस लड़के के साथ जाते दिखी थी. लड़के को बाल सुधार गृह भेज दिया गया है और मौलवी से पूछताछ चल रही है.

कैंडल मार्च निकालते महेश गिरी
कैंडल मार्च निकालते महेश गिरी

पुलिस अपना काम कर रही है लेकिन इस मामले में ट्विस्ट आया जब बीजेपी के नेताओं ने केंद्रीय सचिवालय से इंडिया गेट तक कैंडल मार्च निकाला. एक्शन लेने की मांग की. इन नेताओं में बीजेपी सांसद महेश गिरी भी शामिल थे. सवाल ये है कि केंद्र में बीजेपी की सरकार है. उत्तर प्रदेश में बीजेपी की सरकार है. दिल्ली पुलिस भी केंद्र के अंडर में है. तो क्या बीजेपी खुद बीजेपी से एक्शन लेने की डिमांड कर रही है. ये ऐसा ही है जैसे मेरे हाथ ने कुछ गंदा छुआ है तो मैं अपने हाथ से कह रहा हूं कि मेरा हाथ काट दो.

कठुआ केस में पीड़ित की तरफ से वकील दीपिका राजावत, इन्होंने बताया था कि इन्हें डराने की कोशिश की जा रही है. धमकियां मिल रही हैं.
कठुआ केस में पीड़ित की तरफ से वकील दीपिका राजावत, इन्होंने बताया था कि इन्हें डराने की कोशिश की जा रही है. धमकियां मिल रही हैं.

कुछ दिन पहले पीएम मोदी लंदन में थे. वहां उन्होंने कहा था कि रेप पर राजनीति नहीं होनी चाहिए. हालांकि उनके पुराने बयानों के वीडियो तुरंत घूमने लगे. लेकिन फिर भी उनकी पार्टी के नेता और समर्थक ही उनकी बात सुनने को तैयार नहीं हैं. रेप विक्टिम की बजाय बच्चियों की पहचान हिंदू लड़की-मुस्लिम लड़की से हो रही है. कुछ अति उत्साही तत्वों ने तो कठुआ मामले में अपने तरीके से कैम्पेन करने वाली एक्ट्रेस की फिल्म को फ्लॉप करने का बीड़ा उठा लिया है. इन्हें जलन है कि ये खुद जो काम नहीं कर सके, वक्त पर किसी के लिए आवाज न उठा सके तो और लोग कैसे आवाज उठा सकते हैं.

आवाज उठाने का बदला ऐसे लेते हैं
आवाज उठाने का बदला ऐसे लेते हैं

जिसने अपने कायदे लेकिन इनके फायदे के हिसाब से फायदे की बात की वो true lady हो गए.

जिसने इनके फायदे की बात की वो ट्रू लेडी हो गई
जिसने इनके फायदे की बात की वो ट्रू लेडी हो गई

कहां से आते हो भई तुम लोग? अगर कोई किसी की हेल्प कर रहा है या किसी के लिए आवाज उठा रहा है तो तुम्हें कुढ़न क्यों हो रही है? तुम खुद क्यों नहीं आवाज उठाते? अगर कोई आवाज उठाता है तो तुम सिर्फ इसलिए उंगली उठाओगे कि उसने एक मामले पर आवाज उठाई, हजारों मामलों पर नहीं? उसने एक मामले पर ही उठाई मगर तुमने क्या किया? उन आवाज उठाने वालों ने निर्भया पर भी उठाया, उन्नाव केस पर भी उठाया और कठुआ केस पर भी. लेकिन तुमको पॉलिटिक्स पॉलिटिक्स खेलने का मौका सिर्फ कठुआ वाले केस पर मिला. तुम उन पर सवाल उठाओ इससे पहले सवाल उठाने का हक उनका है कि क्यों एक बच्ची के लिए तुमने उस वक्त आवाज नहीं उठाई? मजे की बात ये है कि तुमने तो बलात्कार के आरोपियों को छुड़ाने के लिए भारत माता की जय वाला जुलूस निकालने वालों के खिलाफ भी नहीं बोला.

आग लगाने वालों के बीच बर्फ का काम करती तस्वीर
आग लगाने वालों के बीच बर्फ का काम करती तस्वीर

अगर तुम कुछ कर सकते हो तो उनके लिए आवाज उठाओ जिनके लिए सेलिब्रिटीज नहीं उठा सके. तुम उनके लिए फंड इकट्ठा करो. उनके इकट्ठा किए हुए को लूटने का प्रयास मत करो. अगर कुछ नहीं कर सकते तो अपनी चोंच बंद कर लो लेकिन किसी की आवाज मत दबाओ. बच्चियों को हिंदू मुस्लिम में बांटकर दंगे के रूप में एक और विलेन तैयार करने की कोशिश मत करो.


ये भी पढ़ें:

दिल्ली से अगवा नाबालिग लड़की का यूपी के मदरसे में रेप

मंदिर में बच्ची से गैंगरेप की पूरी कहानी, जहां पुलिसवाले ने कत्ल से पहले कहा – रुको मैं भी रेप कर लूं 

कठुआ गैंगरेप केस में बच्ची के पिता ने जो कहा, वो सुनकर कोई भी रो देगा

कठुआ मामले में सुप्रीम कोर्ट ने वकीलों का दिमाग ठिकाने लगा दिया है

कठुआ: आरोपियों के वकील ने एक ऐसी बात खोजी है, जिसके बाद किसी को समझ नहीं आ रहा कि क्या कहें

क्या है सासाराम रेप केस, जिसे लोग कठुआ रेप केस के जवाब में पेश कर रहे हैं?

कठुआ और उन्नाव के बीच PM मोदी ने क्या कहा

कठुआ रेप का वो आरोपी जिस पर किसी की नज़र नहीं गई!

कठुआ में रेप के बाद उस बच्ची के साथ अब भी घिनौनी हरकत करने वाले कम नहीं हैं

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

मधुबाला को खटका लगा हुआ था इस हीरोइन को दिलीप कुमार के साथ देखकर

एक्ट्रेस निम्मी के गुज़र जाने पर उनको याद करते हुए उनकी ज़िंदगी के कुछ किस्से

90000 डॉलर का कर्ज़ा उतारकर प्राइवेट जेट खरीद लिया था इस 'गैंबलर' ने

उस अमेरिकी सिंगर की अजीब दास्तां, जो बात करने के बजाए गाने में ज़्यादा कंफर्टेबल महसूस करता था

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.