Submit your post

Follow Us

नए CBI चीफ सुबोध जायसवाल, जिन्होंने ऐसे घोटाले की जांच की जिस पर अब वेब सीरीज बनेगी

देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी का नया मुखिया चुन लिया गया है. IPS अधिकारी सुबोध जायसवाल CBI यानी कि सेंट्रल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन के नए डायरेक्टर होंगे. CBI चीफ के पद से ऋषि कुमार शुक्ल फरवरी 2021 में रिटायर हुए थे. इसी के बाद से नए डायरेक्टर की तलाश जारी थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता वाली चयन समिति की 24 मई की शाम को बैठक हुई. इसमें सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस एनवी रमन्ना और लोकसभा में विपक्ष के नेता अधीर रंजन चौधरी भी शामिल थे. इस मीटिंग के बाद तीन नाम शॉर्टलिस्ट किए गए थे. सुबोध जायसवाल, केआर चंद्रा और वीएसके कौमुदी. 25 मई की शाम सुबोध जायसवाल के नाम पर मुहर लगी. उनका कार्यकाल 2 साल का होगा.

DGP से लेकर CISF चीफ तक रहे

58 साल के सुबोध महाराष्ट्र कैडर के 1985 बैच के IPS अधिकारी हैं. वे अब तक CISF चीफ के तौर पर काम संभाल रहे थे. इससे पहले सुबोध मुंबई के पुलिस कमिश्नर और महाराष्ट्र के DGP भी रह चुके हैं. वे एक दशक से अधिक तक इंटेलिजेंस ब्यूरो, स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) और रॉ (R&AW) के साथ काम कर चुके हैं. CBI डायरेक्टर के लिए शॉर्टलिस्ट हुए अधिकारियों में भी सुबोध सबसे वरिष्ठ अधिकारी थे.

एक दिलचस्प संयोग है. पिछले साल मुंबई पुलिस में रहते हुए सुबोध जायसवाल की महाराष्ट्र के तत्कालीन गृह मंत्री अनिल देशमुख से मतभेद रहे थे. पुलिस अधिकारियों के तबादले को लेकर. जायसवाल ने इसे लेकर गृह मंत्रालय की नीतियों पर सवाल उठाए थे. कथित तौर पर उन्होंने तब कुछ तबादलों पर दस्तख़त करने से भी मना कर दिया था. बाद में बातें तब सार्वजनिक हुईं जब परमबीर सिंह को मुंबई पुलिस के कमिश्नर के पद से हटाया गया और उन्होंने खुलकर अनिल देशमुख पर गंभीर आरोप लगाते हुए चिट्ठी लगी. अब बतौर CBI चीफ सुबोध उस एजेंसी को लीड करेंगे, जो अनिल देशमुख के ख़िलाफ लगे तमाम आरोपों  की जांच कर रही है.

तेलगी स्टांप घोटाले से बना नाम

2001 में एक घोटाला सामने आया था. स्टांप पेपर घोटाला. इसके केंद्र में था अब्दुल करीम तेलगी. तेलगी कर्नाटक का रहने वाला था. वहीं से कॉमर्स की पढ़ाई की. कुछ समय मुंबई, फिर सऊदी अरब में रहकर नौकरी की. इसके बाद मुंबई लौटा और 1990 के करीब से जाली स्टांप बेचने का काम करने लगा. इस काम का उसने पूरा सिंडिकेट खड़ा कर दिया. इंडिया टुडे की स्टोरी के मुताबिक तेलगी जाली स्टांप पेपर और फर्ज़ी डॉक्यूमेंट्स के दम पर लोगों को सऊदी अरब भी भेजने लगा. 1993 में तेलगी को जेल हो गई. लेकिन जेल में जाकर उसने और बड़ा स्कैम प्लान कर दिया.

Subodh
मुंबई पुलिस में रहते हुए सुबोध जायसवाल ने तेलगी स्कैम की जांच का जिम्मा संभाला था. (फाइल फोटो)

जेल से बाहर आकर उसने सरकारी स्टांप वेंडर राम रतन सोनी के साथ मिलकर गैर-न्यायिक स्टांप का काम शुरू किया. देखते-देखते जाली स्टांप और कागजातों का ये बिज़नेस बड़ा होता गया. तेलगी और उसके साथ करोड़पति बन गए. तेलगी के ख़िलाफ जांच के लिए एक टीम बनी, जिसको लीड किया उस वक्त मुंबई पुलिस के अधिकारी सुबोध जायसवाल ने. वही सुबोध जायसवाल, जो अब CBI चीफ बने हैं. ये भी संयोग है कि तेलगी स्कैम की जांच भी बाद में सुबोध जायसवाल की टीम के पास से CBI को दी गई थी.

2001 में तेलगी गिरफ्तार हुआ. केस चला. उसे 20 साल कैद की सज़ा और 202 करोड़ रुपये का ज़ुर्माना लगा. तेलगी की सजा के दौरान ही 2017 में मौत हो गई. इस केस की जांच और तेलगी को सजा दिलाने तक के काम के चलते सुबोध जायसवाल का काफी नाम हुआ. अलीगढ़, ओमर्टा जैसी फिल्में और स्कैम-1992 जैसी वेब सीरीज़ बना चुके डायरेक्टर हंसल मेहता ने कुछ दिन पहले ही ऐलान किया था कि वे अगली सीरीज़ तेलगी स्कैम पर ही बनाने जा रहे हैं.

मालेगांव की जांच में भी शामिल

इसके अलावा सुबोध जायसवाल साल 2006 में हुए मालेगांव विस्फोट की जांच में भी शामिल रहे. महाराष्ट्र के मालेगांव में 2008 में हुए 4 बम धमाकों में 7 लोगों की मौत हो गई थी. आरोपियों में साध्वी प्रज्ञा समेत तमाम लोगों के नाम आए थे. इसके अलावा सुबोध जायसवाल प्रधानमंत्री, पूर्व PM और उनके परिवारों की सुरक्षा करने वाले स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (SPG) के इंटेलिजेंस ब्यूरो में भी काम कर चुके हैं.

तेलगी स्कैम के बाद सुबोध जायसवाल महाराष्ट्र में ही स्टेट रिज़र्व पुलिस फोर्स में रहे. फिर महाराष्ट्र एंटी-टेररिज़्म स्क्वैड में रहे. ATS का हिस्सा रहते हुए ही उन्होंने मालेगांव ब्लास्ट की जांच की थी. उन्हीं के सुपरविज़न में एलगार परिषद और भीमा-कोरेगांव हिंसा के मामलों की भी जांच शुरू की गई थी. बाद में ये मामले CBI के हवाले कर दिए गए थे. उन्हें 2009 में प्रेज़िडेंट पुलिस मेडल भी मिल चुका है.


CBI डायरेक्टर की नियुक्ति में PM, CJI और विपक्षी पार्टी के नेताओं की क्या भूमिका है?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

जब ट्रेलर आया था, तबसे लगातार विरोध जारी है.

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

आज जानते हो किसका हैप्पी बड्डे है? माधुरी दीक्षित का. अपन आपका फैन मीटर जांचेंगे. ये क्विज खेलो.

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

जिन मीम्स को सोशल मीडिया पर शेयर कर चौड़े होते हैं, उनका इतिहास तो जान लीजिए

कौन सा था वो पहला मीम जो इत्तेफाक से दुनिया में आया?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

पार्टियों को चुनाव निशान के आधार पर पहचानते हैं आप?

चुनावी माहौल में क्विज़ खेलिए और बताइए कितना स्कोर हुआ.

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

लगातार दो फिफ्टी मारने वाले कोहली ने अब कहां झंडे गाड़ दिए?

राहुल के साथ यहां भी गड़बड़ हो गई.

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

रोहित शेट्टी के ऊपर ऐसी कड़क Quiz और कहां पाओगे?

14 मार्च को बड्डे होता है. ये तो सब जानते हैं, और क्या जानते हो आके बताओ. अरे आओ तो.

आमिर पर अगर ये क्विज़ नहीं खेला तो दोगुना लगान देना पड़ेगा

आमिर पर अगर ये क्विज़ नहीं खेला तो दोगुना लगान देना पड़ेगा

म्हारा आमिर, सारुक-सलमान से कम है के?

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

परफेक्शनिस्ट आमिर पर क्विज़ खेलो और साबित करो कितने जाबड़ फैन हो

आज आमिर खान का हैप्पी बड्डे है. कित्ता मालूम है उनके बारे में?