Submit your post

Follow Us

आजकल कहां हैं U-20 वर्ल्ड चैंपियनशिप में मेडल जीतने वाले भारतीय एथलीट्स?

साल 1986. इस साल के स्पोर्टिंग इवेंट्स की बात करेंगे तो याद आएगा मैक्सिको में हुआ फीफा वर्ल्ड कप. डिएगो माराडोना की अमरता का साल. लेकिन ये साल सिर्फ माराडोना के लिए नहीं याद किया जा सकता. क्योंकि इसी साल जूनियर एथलीट्स का सबसे बड़ा इवेंट भी शुरू हुआ था. जूनियर एथलेटिक्स वर्ल्ड चैंपियनशिप्स. ऑफिशली जिसे IAAF वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप्स कहा गया. और आगे चलकर यही इवेंट बना वर्ल्ड अंडर-20 चैंपियनशिप्स.

ये जूनियर लेवल के एथलीट्स के लिए सबसे बड़ा इवेंट है. और हाल ही में खत्म हुआ यह इवेंट भारत के नज़रिए से ऐतिहासिक रहा. भारत ने पहली बार यहां एक से ज्यादा मेडल्स जीते. 4*400 मीटर मिक्स्ड रिले टीम, अमित कुमार खत्री और शैली सिंह ने वर्ल्ड अंडर-20 चैंपियनशिप्स में भारत को मेडल्स दिलाए. मिक्स्ड रिले टीम ने ब्रॉन्ज़ जबकि अमित और शैली ने सिल्वर मेडल्स जीते.

और इसके साथ ही इस इवेंट में भारत के कुल मेडल्स की संख्या सात हो गई है. तो चलिए आपको बताते हैं कि अब तक किन एथलीट्स ने इस इवेंट में मेडल जीते हैं और वो आजकल क्या कर रहे हैं.

# Seema Punia Antil

ये इवेंट शुरू भले ही 1986 में हुआ हो, लेकिन भारत का पहला मेडल साल 2000 में आया. बाधा दौड़ और लॉन्ग जंपर के रूप में अपना करियर शुरू करने वाली सीमा पूनिया ने चिले में साल 2000 में हुए इन गेम्स में डिस्कस थ्रो का गोल्ड मेडल जीता. हालांकि बाद में वह डोप टेस्ट में फेल हो गईं. और इसके चलते उनका गोल्ड मेडल छिन गया.

जिसके बाद उन्होंने साल 2002 में किंग्सटन, जमैका में हुए जूनियर एथलेटिक्स वर्ल्ड चैंपियनशिप्स में ब्रॉन्ज़ मेडल जीता. इस जीत के बाद सीमा ने कॉमनवेल्थ गेम्स में तीन सिल्वर और एक ब्रॉन्ज़ मेडल अपने नाम किए. साथ ही उन्होंने एशियन गेम्स में एक गोल्ड और एक ब्रॉन्ज़ मेडल भी जीता. सीमा चार बार ओलंपिक्स में भी खेल चुकी हैं. हालांकि यहां वह एक बार भी फाइनल के लिए क्वॉलिफाई नहीं कर पाईं.

# Navjeet Kaur Dhillon

इस इवेंट में साल 2002 के बाद भारत का अगला मेडल आया साल 2014 में. यह मेडल भी डिस्कस थ्रो में ही आया. नवजीत कौर ढिल्लों ने यूजेने अमेरिका में हुए इन गेम्स में ब्रॉन्ज़ मेडल जीता. इससे पहले वह 2011 के कॉमनवेल्थ यूथ गेम्स में ब्रॉन्ज़ जबकि अगले साल हुई एशियन जूनियर चैंपियनशिप में सिल्वर मेडल जीत चुकी थीं.

नवजीत ने साल 2014 में एशियन जूनियर चैंपियनशिप में शॉटपुट का ब्रॉन्ज़ जबकि डिस्कस थ्रो का सिल्वर मेडल भी जीता. नवजीत के नाम साल 2018 के कॉमनवेल्थ गेम्स में डिस्कस थ्रो का ब्रॉन्ज़ मेडल भी है.

# Neeraj Chopra

नीरज चोपड़ा. द गोल्डेन बॉय. ओलंपिक्स में गोल्ड मेडल जीतने वाले इकलौते भारतीय ट्रैक एंड फील्ड एथलीट. नीरज ने टोक्यो 2020 ओलंपिक्स में गोल्ड मेडल जीत इतिहास रच दिया. लेकिन यह पहली बार नहीं था जब नीरज ने किसी बड़े इवेंट का गोल्ड मेडल जीता हो. नीरज ने साल 2016 में पोलैंड में हुई अंडर-20 वर्ल्ड चैंपियनशिप्स में जैवलिन थ्रो का गोल्ड मेडल जीता. यहीं पर उन्होंने 86.48 मीटर तक जैवलिन फेंककर वर्ल्ड रिकॉर्ड भी बनाया. यह रिकॉर्ड आज भी कायम है.

इससे पहले नीरज इसी साल वियतनाम में हुई एशियन जूनियर चैंपियनशिप्स में सिल्वर मेडल जीत चुके थे. नीरज ने साल 2016 में ही साउथ एशियन गेम्स का गोल्ड मेडल भी जीता था. अंडर-20 वर्ल्ड चैंपियन बनने वाले पहले भारतीय एथलीट बनने के बाद नीरज ने 2017 की एशियन चैंपियनशिप्स, 2018 के कॉमनवेल्थ गेम्स और एशियन गेम्स में भी गोल्ड मेडल जीते. और फिर टोक्यो में गोल्ड जीतकर उन्होंने कमाल ही कर दिया.

# Hima Das

धींग एक्सप्रेस के नाम से पुकारी जाने वाली हिमा ने साल 2018 में फिनलैंड में हुई अंडर-20 वर्ल्ड चैंपियनशिप्स में 400 मीटर का गोल्ड मेडल जीता. 51.46 सेकंड्स का वक्त निकालकर गोल्ड जीतते ही हिमा ट्रैक इवेंट्स में वर्ल्ड चैंपियन बनने वाली पहली भारतीय भी बन गईं. हिमा ने इसी साल हुए एशियन गेम्स में 400 मीटर का सिल्वर मेडल भी जीता.

इतना ही नहीं हिमा ने इन गेम्स में दो गोल्ड मेडल भी अपने नाम किए. उन्होंने विमिंस 4*400 मीटर रिले और 4*400 मीटर मिक्स्ड रिले इवेंट्स के गोल्ड मेडल्स जीते. मिक्स्ड रिले टीम ने पहले सिल्वर मेडल जीता था. लेकिन गोल्ड मेडलिस्ट बहरीन की एक एथलीट के डोप टेस्ट में फेल होने के बाद गोल्ड मेडल भारत को दे दिया गया. हिमा को हाल ही में असम पुलिस में डिप्टी एसपी बनाया गया है.


WFI प्रेसिडेंट बृजभूषण शरण सिंह ने अब विनेश फोगाट वाले मामले में क्या कहा?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

जगह थी मुंबई एयरपोर्ट. अब दस साल बाद फिर से दोनों का नाम एक साथ सुर्ख़ियों में है.

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.