Submit your post

Follow Us

मुंबई क्रूज़ ड्रग्स केस कैसे बना नवाब मलिक बनाम देवेंद्र फडणवीस?

मुंबई क्रूज़ ड्रग्स केस बहुत बड़ा ड्रामा बन चूका है. मामला नवाब मलिक बनाम समीर वानखेड़े की जगह अब नवाब मलिक बनाम देवेंद्र फडणवीस हो गया है. दोनों तरफ से अब आरोपों की झड़ी लगाई जा रही है. एक नेता और एक अफसर के बीच खींचतान का ये मामला दो नेताओं के बीच खुली बयानबाज़ी में कैसे बदला, उसके लिए हमें चलना होगा नवंबर महीने की शुरुआत में.

इस ट्वीट को नवाब मलिक और देवेंद्र फडणवीस के बीच झगड़े का प्रस्थान बिंदू माना जा सकता है. 1 नवंबर को सुबह आठ बजे नवाब मलिक ने ट्विटर पर एक तस्वीर शेयर करके लिखा – चलो आज बीजेपी और ड्रग पेडलर के रिश्तों पर चर्चा करते हैं. तस्वीर में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और महाराष्ट्र विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस कथित ड्रग पेडलर जयदीप राणा के साथ नज़र आ रही हैं. नवाब मलिक ने ऐसी ही एक तस्वीर देवेंद्र फडणवीस की भी ट्वीट की. एक प्रेस कॉन्फ्रेस करके नवाब मलिक ने कहा कि जयदीप राणा ने अमृता फडणवीस के रिवर एंथम प्रोजेक्ट का फाइनैंशियल हेड था, जो फिलहाल ड्रग ट्रैफिकिंग के एक मामले में जेल में है. उसके संबंध देवेंद्र फडणवीस से हैं. महाराष्ट्र में ड्रग्स का कारोबार फडणवीस के कार्यकाल में फला-फूला.”नवाब ने आगे कहा कि समीर वानखेड़े को फडणवीस ने ही नियुक्त किया था. और वानखेड़े अब मुंबई में ड्रग्स रैकेट के सरगना हैं.

नवाब मलिक ये कई बार कह चुके हैं कि क्रूज़ पर पड़ी रेड एक साज़िश के तहत हुई थी और ये भाजपा की उस चाल का हिस्सा है जिसमें पार्टी बॉलीवुड को मुंबई से बाहर ले जाना चाहती है.

तो नवाब मलिक इस ट्वीट और अपने आरोपों के साथ लड़ाई एनसीबी के साथ साथ भाजपा के दरवाज़े पर ले गए. और जब ऐसा हुआ, तो प्रतिक्रिया लाज़मी थी. और वो हुई भी. नवाब मलिक की प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद देवेंद्र फडणवीस ने भी एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की और कहा कि जो तस्वीरें नवाब मलिक ट्वीट कर रहे हैं, वो रिवर मार्च नाम के एक गैर सरकारी संगठन से जुड़ा व्यक्ति है. इसी संगठन ने मुंबई रिवर एंथम बनवाया. इस शख्स ने कार्यक्रम में सभी के साथ तस्वीरें लीं. और इसी क्रम में अमृता और उनके साथ भी तस्वीरें क्लिक की गईं.

यहां जिस संगठन और कार्यक्रम का ज़िक्र हो रहा है, उसका संबंध मुंबई रिवर एंथम से है. देवेंद्र फडणवीस महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री रहते हुए एक वीडियो में नज़र आए थे. इसमें उनके साथ अमृता भी थीं. इस गाने का मकसद था, मुंबई की चार नदियों को पुनर्जीवित करने के लिए समर्थन जुटाना. ये चार नदियां हैं पोइसर, दहिसर, ओशिवारा और मीठी. इस वीडियो में महाराष्ट्र कैबिनेट के मंत्री, मुंबई के प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी भी नज़र आ रहे थे. तब महाराष्ट्र के विपक्ष – जिसमें एनसीपी और कांग्रेस दोनों थे – ने सवाल किया था कि टी-सीरीज़ के इस वीडियो में सूबे के मुख्यमंत्री, मंत्री, अधिकारी और पुलिस अधिकारी कैसे नज़र आ रहे हैं. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के आधिकारिक आवास – वर्षा में शूटिंग की अनुमति एक निजी कंपनी को कैसे मिल गई. इसके जवाब में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय ने कहा था कि ये सब एक निजी उपक्रम के तहत समाजसेवा के मकसद से हुआ था और इसमें शासन के खज़ाने से एक भी पैसा खर्च नहीं किया गया है.

वापस लौटते हैं नवाब मलिक के ट्वीट पर. ट्वीट सामने आने के बाद अमृता ने भी अपना पक्ष रखा था. उन्होंने कहा कि सचिन गुप्ता और जयदीप राणा रिवर एंथम के डायरेक्टर और असिस्टेंट थे. इन्होंने मुंबई की नदियों पर एक गाना बनाया ईशा फाउंडेशन के लिए. इसमें पूरे बॉलीवुड ने अपनी आवाज़ दी. द रिवर मार्च को ये आइडिया पसंद आया था और सचिन गुप्ता सहित किसी ने भी इस काम में एक पैसा नहीं लिया.

देवेंद्र फडणवीस ने कई आरोप ट्वीट्स के एक सिलसिले में भी लगाए हैं. उनके सभी आरोपों को हम कुछ बिंदुओं में समेटने की कोशिश करेंगे

1. फडणवीस का सबसे बड़ा आरोप ये है कि मलिक ने 1993 के मुंबई सीरियल ब्लास्ट में दोषी शाहवली खान और मोहम्मद सलीम इशाख पटेल से एक ज़मीन खरीदी. पटेल मुंबई सीरीयल ब्लास्ट के मास्टरमाइंड और कुख्यात गैंगस्टर दाउद इब्राहिम की बहन हसीना पारकर के लिए काम करता था. ये ज़मीन सोलिडस इंवेस्टमेंट नाम की कंपनी ने खरीदी 20 लाख में, जबकि कीमत थी तकरीबन 3 करोड़. इस कंपनी में मलिक की पत्नी महजबीन मलिक और बेटा आमिर मलिक डायरेक्टर हैं. पहले नवाब के पास भी एक पद था, लेकिन कैबिनेट में मंत्रिपद लेते हुए उन्होंने इस पद से इस्तीफा दे दिया था. फडणवीस ने इस कथित डील से संबंधित कागज़ात भी जारी किए.

फडणवीस ने ये भी कहा कि शाहवली खान ने सीरियल ब्लास्ट के मास्टरमाइंड माने जाने वाले टाइगर मेमन से ट्रेनिंग प्राप्त की थी और धमाकों से पहले बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज की रेकी भी की थी. फडणवीस का सवाल है कि नवाब मलिक ने इन लोगों से ज़मीन खरीदी क्यों? उनका मकसद क्या था? फडणवीस ने कहा कि ऐसी कम से कम चार और लैंड डील्स हैं जो मलिक का संबंध अंडरवर्ल्ड से बताती हैं, लेकिन उनके सबूत जांच एजेंसियों को दिए जाएंगे. फडणवीस ने साफ किया कि उनकी मलिक या एनसीपी से कोई दुश्मनी नहीं है. वो सिर्फ सच लोगों के सामने रख रहे हैं.

इसके जवाब में मलिक ने कहा कि उन्होंने किसी अपराधी के साथ सौदा नहीं किया. ज़मीन असली मालिकों से खरीदी गई और कानूनी प्रक्रिया का पालन भी किया गया –

मलिक के बेटे फराज़ ने इंडिया टुडे से कहा है कि ज़मीन उसके असली मालिक सलीम पटेल से खरीदी गई है और अब उसपर तकरीबन 400 किराएदार हैं. 2005 तक सलीम पटेल खुद यहां किराया लेने आते थे. अगर वो अंडरवर्ल्ड से संबंधित होते, तो पुलिस उन्हें यहां आने कैसे देती.
नवाब मलिक ने भी देवेंद्र फडणवीस की ही तरह एक वादा किया है. कि वो 10 नवंबर को फडणवीस पर एक हाइड्रोजन बॉम्ब गिराएंगे और अंडरवर्ल्ड से फडणवीस के संबंधों को उजागर करेंगे.
तो अब हम हाइड्रोजन बम का इंतज़ार करेंगे. जब गिरेगा, तब गिराने वाले और झुलसने वालों की जानकारी देंगे. लेकिन एक बात हम अभी से बता सकते हैं. वो ये कि महाराष्ट्र जैसे साधन संपन्न राज्य में सत्ता की लड़ाई आने वाले कुछ दिनों में और निचले स्तर पर जाएगी. एक पार्टी है, जो हार का ग़म भुला नहीं पा रही है. दूसरी तरफ वो पार्टी है, जो सत्ता में रहकर भी विपक्ष वाले बर्ताव पर ही आमादा है. इस लड़ाई से कॉन्टेंट तो भरपूर निकल रहा है. मनोरंजन भी हो रहा है. लेकिन क्या अपने जनप्रतिनिधियों को हम एक दूसरे पर कीचड़ उछालने के लिए चुनते हैं? या उनके पास कोई काम भी होना चाहिए? सोचिएगा इस सवाल पर.


महाराष्ट्र के पूर्व CM देवेंद्र फडणवीस ने नवाब मलिक पर बड़ा आरोप लगा दिया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'द्रविड़ ने बहुत नाजुक शब्दों से मुझे धराशायी कर दिया था'

'द्रविड़ ने बहुत नाजुक शब्दों से मुझे धराशायी कर दिया था'

रामचंद्र गुहा की किताब 'क्रिकेट का कॉमनवेल्थ' के कुछ अंश.

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

पहले स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर की कहानी, जिनका सबसे हिट रोल उनके लिए शाप बन गया

शुद्ध और असली स्पाइडरमैन टोबी मैग्वायर करियर ग्राफ़ बाद में गिरता ही चला गया.

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

10 साल पहले भी शाहरुख़ का समीर वानखेड़े से सामना हुआ था, समीर ने ठोका था तगड़ा जुर्माना

जगह थी मुंबई एयरपोर्ट. अब दस साल बाद फिर से दोनों का नाम एक साथ सुर्ख़ियों में है.

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

'स्क्विड गेम' के प्लेयर नंबर 199 'अली' की कहानी, जिनके इंडियन होने ने सीरीज़ में एक्स्ट्रा मज़ा दिया

अली का रोल करने वाले इंडियन एक्टर अनुपम त्रिपाठी का सलमान-शाहरुख़ कनेक्शन क्या है?

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.