Submit your post

Follow Us

नरेश को पहली ही फिल्म में गाने पर मिला था फिल्मफेयर अवार्ड

2006 में फिल्म आई थी रंग दे बसंती. फिल्म तो हिट थी ही. उसके गाने भी जबरदस्त चले थे. एक गाना था रूबरू. इसको नरेश अय्यर ने गाया था. मजे की बात कि हिंदी फिल्म में गाने का उनका ये पहला एक्सपीरिएंस था. एक साल में दोे अवार्ड मिले थे इस गाने के लिए. आज नरेश अय्यर का बर्थडे है. उनके बारे में जानते हैं कुछ बातें-

 

1- गायक नरेश अय्यर का जन्म 3 जनवरी 1981 को मुंबई में हुआ था.

image001

 

2- नरेश को ए.आर. रहमान ने Channel V’s Super Singer से खोजा था. हालांकि नरेश वो शो नहीं जीत पाए थे. फिर भी रहमान ने उन्हें तमिल फिल्मअंबे आरुयिरेमें गाने का मौक़ा दिया.

image002

 

3- नरेश रंग दे बसंतीके रूबरूगाने से फेमस हुए. उन्हें इस गाने के लिए नेशनल फिल्म अवार्ड और फिल्मफेयर मिला. वो उन चुनिंदा गायकों में हैं जिन्हें डेब्यू वाले साल ही दोनों पुरूस्कार एक साथ मिले.

 

4- नरेश अय्यर ने तमाम भाषाओं में गाने गाए हैं. गुजराती,तमिल,तेलगु,कन्नड़ में और तो और भोजपुरी में भी. एक बार उन्होंने बताया कि उनने उन भाषाओं में भी गाने गाए हैं जो उन्हें समझ तक नही आतीं

 

5- फिल्मों के अलावा नरेश मुंबई बेस्ड एक फ्यूजन बैंड ध्वनिके लिए भी गाते हैं. उनकी बहन निशा अय्यर भी गायिका हैं.

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.

अमिताभ बच्चन तो ठीक हैं, दादा साहेब फाल्के के बारे में कितना जानते हो?

खुद पर है विश्वास तो आ जाओ मैदान में.

‘ताई तो कहती है, ऐसी लंबी-लंबी अंगुलियां चुडै़ल की होती हैं’

एक कहानी रोज़ में आज पढ़िए शिवानी की चन्नी.

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो कितना जानते हो उनको

मितरों! अच्छे नंबर चइये कि नइ चइये?