Submit your post

Follow Us

शैंपेन, सिगार और महंगी गाड़ी, बेसिन रिजर्व में टेस्ट जीतने पर ऐसे क्यों सेलिब्रेट करता है न्यूज़ीलैंड?

टीम इंडिया ने न्यूज़ीलैंड टूर के पहले टेस्ट मैच में सरेंडर कर दिया. टीम दोनों पारियों में एक बार भी 200 से ज्यादा का स्कोर नहीं कर पाई. मेज़बानों ने इस मैच को 10 विकेट से जीता. ये सब आपको पता है. इसलिए इससे आगे बढ़ते हैं. इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि कीवीज ने इस जीत को कैसे सेलिब्रेट किया.

कट टू पहले टेस्ट मैच का चौथा दिन

न्यूज़ीलैंड के विकेटकीपर बीजे वॉटलिंग ने इस दिन सिर्फ एक सेशन विकेटकीपिंग की. अब अगर आप सोच रहे हैं कि इस दिन का उनका काम खत्म हो गया, तो ऐसा नहीं है. शाम को उन्हें एक और जरूरी काम करना था. काम था, शहर में मौजूद किराए पर कार देने वाली जगहों की छानबीन करना. इन जगहों से वॉटलिंग को एक झक सफेद लिमोज़ीन खोजनी थी. इसके बाद वॉटलिंग शहर की सबसे महंगी शैम्पेन के साथ क्यूबा की सिगार का एक पैकेट खरीदते हैं.

इन सारे सामान के साथ वॉटलिंग बेसिन रिजर्व स्टेडियम लौटते हैं. अपनी टीम के बोलर्स को गाड़ी में बैठाते हैं और फिर उन्हें लेकर माउंट विक्टोरिया जाते हैं. यह वेलिंगटन की सबसे ऊंची पहाड़ी है. बेसिन रिजर्व से दो किलोमीटर दूर इस पहाड़ी तक जाने के लिए वॉटलिंग को गाड़ी खुद ड्राइव करनी होती है.

तो इस बार वॉटलिंग के साथ इस सफर में थे टिम साउदी, ट्रेंट बोल्ट, काएल जैमिसन और कोलिन डि ग्रैंडहोम. यहां पहुंचकर अंधेरा होने के बाद वॉटलिंग और उनके साथी शैम्पेन की बोतल खोलकर पार्टी करते हैं. इस पहाड़ी से वे शहर और शहर के दोनों क्रिकेट स्टेडियम, बेसिन रिजर्व और स्काई को साफ देख सकते हैं.

# कैसे हुई शुरुआत

वैसे तो बेसिन रिजर्व का इतिहास 90 साल पुराना है, लेकिन यह सेलिब्रेशन स्टाइल साल 1998 में शुरू हुआ. मज़ेदार कहें या दुखदाई, लेकिन यह रिवाज़ शुरू भी भारत की हार से ही हुआ था. साल 1998 में साइमन डल और डियोन नैश की कमाल की बोलिंग की बदौलत न्यूज़ीलैंड ने उस बॉक्सिंग डे टेस्ट में भारत को चार विकेट से हराया था.

‘द इंडियन एक्सप्रेस’ से बात करते हुए पूर्व फर्स्ट क्लास क्रिकेटर और इतिहासकार डॉन नीली कहते हैं,

‘मुझे लगता है कि वे नैश थे, जिन्होंने यह आइडिया दिया था. यह एक फौरी तौर पर आया आइडिया था. माउंट विक्टोरिया शहर का सबसे ऊंचा पॉइंट है और यह रात में कमाल का दिखता है. और फिर तुरंत ही उन्होंने एक लिमो किराए पर ली और बेसिन रिजर्व के कुछ चक्कर लगाकर माउंट विक्टोरिया पहुंच गए.’

अब सवाल उठता है कि लिमोज़ीन जैसी बड़ी गाड़ी में सिर्फ बोलर्स क्यों? इसमें तो पूरी टीम आ सकती है. इस सवाल का जवाब न्यूज़ीलैंड के पूर्व विकेटकीपर इयान स्मिथ देते हैं. बकौल स्मिथ,

‘जैसा कि आपको पता ही होगा कि बोलर्स का आपसी रिश्ता खास होता है. जाहिर है कि कीपर तो उनका बेस्ट फ्रेंड है ही, इसलिए उस टीम में वे हमेशा साथ में ही घूमते थे. एडम परोरे, डली और नैश के साथ बाकी लोग. उन्होंने थोड़ी चालाकी दिखाई और फिर यह एक ट्रेडिशन बन गया.’

पूर्व कीवी बोलर शेन बॉन्ड ने इसका जिक्र अपनी आत्मकथा में भी किया है. इसमें एक मज़ेदार बात यह है कि इस लीमो में सारे बोलर्स की एंट्री नहीं होती. साल 2002 में भारत के ख़िलाफ जीत के बाद स्कॉट स्टाइरिश पूरी तरह तैयार होकर होटल की लॉबी में इंतजार ही करते रह गए थे. डैनिएल वेटोरी और बाकी के बोलर्स आए और उन्हें मुंह पर मना कर दिया. बताते हैं कि स्टाइरिश इसके बाद काफी दिन तक दुखी थे.

बताते हैं कि इस लिमो में किसे ले जाना होता है, यह पूरी तरह से विकेटकीपर पर निर्भर करता है. टीम कोशिश करती है कि ऐसा दिन चुना जाए जब पहाड़ी पर भीड़ कम हो.

जानने लायक है कि साल 2009 से 2013 तक यह लीमो राइड नहीं हुई, क्योंकि इस दौरान बेसिन रिजर्व में न्यूज़ीलैंड ने एक भी मैच नहीं जीता. इस दौरान खेले गए सात टेस्ट मैचों में न्यूज़ीलैंड तीन में हारा था, जबकि चार ड्रॉ रहे थे. हालांकि इसके बाद उन्होंने यहां खेले गए नौ में से पांच टेस्ट जीते हैं और लिमोज़ीन राइड के खूब मज़े लिए गए.


भारत-न्यूज़ीलैंड के पहले टेस्ट मैच में जीत के बाद भी केन विलियम्सन ने टीम इंडिया की तारीफ की!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

मधुबाला को खटका लगा हुआ था इस हीरोइन को दिलीप कुमार के साथ देखकर

एक्ट्रेस निम्मी के गुज़र जाने पर उनको याद करते हुए उनकी ज़िंदगी के कुछ किस्से

90000 डॉलर का कर्ज़ा उतारकर प्राइवेट जेट खरीद लिया था इस 'गैंबलर' ने

उस अमेरिकी सिंगर की अजीब दास्तां, जो बात करने के बजाए गाने में ज़्यादा कंफर्टेबल महसूस करता था

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.