Submit your post

Follow Us

ब्रेंडन मैकुलम, जिसने हर मैच अपने आखिरी मैच जैसा खेला

पहला टेस्ट हारने के बाद दूसरे मैच में हरी पिच पर पहले बैटिंग करने के लिए बुलाई गयी न्यूज़ीलैंड की टीम. 32 रन पर 3 विकेट गिरने के बाद न्यूज़ीलैंड की स्थिति ऐसी हो गयी थी जैसे चुलबुल पांडे ने मक्खी पांडे को हौंक दिया हो. लेकिन फिर एंट्री मारी भइय्या जी ने. क्रिकेट में एक टर्म इस्तेमाल किया जाता है. तेज़ गेंदबाजी. लेकिन भइय्या जी दाहिने हाथ की तेज बल्लेबाजी करते हैं. इनकी दबंगई के किस्से शहरों में मशहूर हैं. एक साल दूर गांव में जाकर इन्होनें पहले आईपीएल के पहले ही मैच में 158 रन मार दिए थे. भइय्या जी का गांव न्यूज़ीलैंड में पड़ता है और इनका असली नाम ब्रेंडन मैकुलम है.

उस रोज़ मैच शुरू होते ही जॉश हेज़लवुड ने अच्छी और कसी गेंदें फेंकनी शुरू की लेकिन विकेट पैटिन्सन और बर्ड को मिले. हेज़लवुड को विकेट मिला बीसवें ओवर में. आउट हुए हेनरी निकोलस. फिर आये ब्रेंडन मैकुलम. अपना आखिरी मैच खेल रहे थे. 80 में एक कम गेंद खेली और रन बनाये 145. छक्के 6 और चउव्वे कुल 21. मतलब कुल स्कोर का 82% हिस्सा सिर्फ बाउंड्री मार-मार के जमा कर लिया. इसी बीच एक रिकॉर्ड जो किसी सूरमा भोपाली के ही बस की बात हो सकती है – टेस्ट क्रिकेट में सबसे तेज़ सेंचुरी मारने का रिकॉर्ड. अभी तक ये रिकॉर्ड विव रिचर्ड्स और मिस्बाह के नाम पे था – 56 गेंद. मैकुलम ने 2 गेंदें कम खेलीं. 54 गेंद में 100 रन मार दिए.

मैकुलम के बारे में कुछ ऐसा है जो उन्हें न्यूज़ीलैंड क्रिकेट के अन्दर ब्रिटिश लेजेंड आर्थर जैसा बना देता है. माइक हेसन ने मैकुलम को उस वक़्त देखा था जब मैकुलम एक बच्चा था. एक साधारण सा बच्चा जिसमें ऐसा बहुत कुछ था जिसे खुरच देने पर वो असाधारण बन जाने वाला था. मैकुलम 6 साल के थे. उस वक़्त खुद माइक भी 13 साल के थे. आज माइक हेसन न्यूज़ीलैण्ड के हेड कोच हैं और पूरा का पूरा न्यूज़ीलैण्ड मैकुलम के साथ खड़ा है.

mccullum

मैं मैकुलम को खेलते हुए देखना चाहता था. उनके गेम से ज़्यादा उस वक़्त जब वो हेलमेट पहन कर हाथ में बल्ले को टूथपिक जैसा थाम कर ग्राउंड पर उतरते हैं. मुझे हमेशा ऐसा लगता था और अभी ऐसा ही लगता है कि मैकुलम जब मैदान पर आते हैं तो बाउंड्री को लांघते वक़्त शायद एक स्विच है जिसे वो ऑन कर देते हैं. वो स्विच उनके शरीर में ही कहीं लगा हुआ था. उस स्विच के ऑन होते ही वो पागल हो जाते हैं. मैंने उनके बल्ले को टूथपिक कहा था. वो इसलिए क्यूंकि बल्ले के स्विंग की स्पीड को देखकर ऐसा कतई नहीं लगता था कि कोई सवा किलो के लकड़ी के एक फट्टे को इतनी तेज़ी से घुमा सकता है. उसके लिए पागल होना ज़रूरी है. क्यूंकि मैदान के बाहर मैकुलम एक बहुत ही शांत और संभले हुए इंसान लगते हैं. ऐसे में ये पागलपन किसी न किसी स्विच के एक्टिव होने से ही बाहर आ सकता था.

पागलपन का स्विच ऑन करते हुए ब्रेंडन
पागलपन का स्विच ऑन करते हुए ब्रेंडन

कई बार ऐसा लगता था कि मैकुलम बल्ले को नहीं बल्कि बल्ला मैकुलम को कंट्रोल कर रहा है. वर्ल्ड कप 2015. मैच नम्बर 9. इंग्लैंड वर्सेज़ न्यूज़ीलैंड. इंग्लैंड की टीम टिम साऊदी के सामने नमस्कार हो गयी और 124 पे वापस वहीं चली गयी जहां से आई थी. अब स्कोर चेज़ करने के दो तरीके थे. या तो आराम से खेलते हुए आप मैच जीतें या फिर आप ब्रेंडन मैकुलम बन जायें. पहले 5 ओवरों में 67 रन बने. मैकुलम अपने पचासे से सिर्फ 2 रन दूर थे. अगले दो ओवरों में 40 रन आये. मैकुलम 24 गेंद पर 77 रन बना चुके थे. 8 चौके और 7 छक्के. सातवें ओवर की पहली गेंद पर मैकुलम आउट हो गए. काम खतम पैसा हजम वाली फीलिंग के साथ.

सिर्फ 43 गेंद क्रीज़ पर रहने के बावजूद स्टेडियम में लोग खड़े होकर तालियाँ बजा रहे थे. चौकस क्रिकेट और एंटरटेनमेंट का एक कॉकटेल उन सभी ने चख जो लिया था.

mccullum3

“मैं जब तक वहां (मैदान में) पहुंच नहीं जाता, मुझे नहीं मालूम मैं कैसे खेलूंगा.” कहना था आखिरी मैच खेलने से पहले मैकुलम का. ऑस्ट्रेलियाई प्लेयरों ने उन्हें गार्ड ऑफ़ ऑनर दिया, स्टीव स्मिथ ने हाथ मिलाया और डेविड वार्नर ने पीठ पर यारी-दोस्ती वाले दो मुक्के ठोंके. इसी बीच कहीं मैकुलम ने अपना वो स्विच ऑन कर लिया होगा.

मैकुलम के पहले शॉट को देखकर ऐसा लगा ज़रूर था कि फेयरवेल नज़दीक है. आउटसाइड एज को चूमने  से कुछ दूर ही गेंद निकल गयी थी. अगली गेंद पर किनारा लग के गेंद स्लिप से दूर चार रन के लिए चली गयी. अगली दो गेंदों में उनका स्कोर दूसरे एंड पर खड़े विलियमसन से ज्यादा हो गया था जो 44 गेंदें खेल चुके थे. ये मैकुलम हैं. इनकी गाड़ी में सिर्फ़ एक गियर है – पांचवां.

शनिवार से पहले मैकुलम ने ऐसा बहुत कुछ है जो उखाड़ा है. उखाड़ने के सिवा शायद ही कोई शब्द होगा जो उनकी दबंगई को तमीज से एक्सप्लेन कर सके. इसके पहले दो बार वो न्यूज़ीलैंड की सबसे तेज़ टेस्ट सेंचुरी का रिकॉर्ड बना चुके थे. टी-20 में न्यूज़ीलैंड की तरफ से सबसे तेज़ टी-20 सेंचुरी का रिकॉर्ड भी इनके ही नाम है. – 50 बॉल में 100. उस वक़्त ये एक वर्ल्ड रिकॉर्ड था. शनिवार को अपने 50 रन पूरे करने से पहले वो टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा छक्के लगाने वाले प्लेयर भी बन गए.

mccullum4

मैकुलम ने लंच में कहा कि उन्हें ऐसा लग रहा था आज उनका दिन है. उनका दिन तो था ही. दूसरी ही गेंद स्लिप के ऊपर से निकल गयी. पचासे से पहले ही कैच आउट हो गए. अंपायर ने कहा कि पैटिन्सन ने नॉ बॉल फेंकी थी. उसके बाद ज्यादा टाइम नहीं लिया हेलमेट निकाल के बल्ला उठाने में. जितनी देर एक इंजीनियरिंग कॉलेज में एक लेक्चर चलता है. एक घंटा. बस.

पचास गेंद में 82 रन बनाने के बाद एक टॉप एज 6 रन के लिए, मिड ऑन के ऊपर एक स्लॉग 4 रन के लिए और फिर कीपर के ऊपर से चार. 53 पे हुए 96. हेज़लवुड की अगली गेंद को एक्स्ट्रा कवर के ऊपर से 4 रन के लिए मारकर मैकुलम टेस्ट हिस्ट्री के सबसे तेज़ सेंचुरी मारने वाले बैट्समैन बन गए. एक रिकॉर्ड टूटा जो 30 सालों से जस का तस था. मिस्बाह भी उस रिकॉर्ड को बस छू पाए थे. आगे न बढ़ पाए. मैकुलम ने दो गेंद पहले ही निपटा दिया. प्रकाश झा की फिल्म गंगाजल का डायलाग – “ई तो साला होना ही था.”

 


हर क्रिकेट खेलने वाला खिलाड़ी कभी न कभी अपना आखिरी मैच खेलता है. लेकिन जब कोई अपना हर मैच ऐसे खेले जैसे वो उसका आखिरी मैच हो तो वो ब्रेंडन मैकुलम होता है.


मैकुलम के रिटायर होने के अगले ही महीने टी-20 वर्ल्ड कप था. मैकुलम उसके पहले ही रिटायर हो रहे थे. बोला कि अच्छा होगा अगर वो क्रिकेट के सबसे प्योर फॉर्मेट में क्रिकेट को बाय कहें. मुझ जैसे क्रिकेट के कीड़े के लिए ये कितना ज़्यादा सुख देने वाला स्टेटमेंट था! तो क्या हुआ कि वो किसी भी एंगल से प्योर टेस्ट इनिंग्स नहीं थी? वो हर एंगल से प्योर मैकुलम इनिंग्स थी.

हैप्पी बड्डे ब्रेंडन!

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

नेशनल हैंडलूम डे: और ये है चित्र देखो, साड़ी पहचानो वाली क्विज

कभी सोचा नहीं होगा कि लल्लन साड़ियों पर भी क्विज बना सकता है. खेलो औऱ स्कोर करो.

सौरव गांगुली पर क्विज़!

सौरव गांगुली पर क्विज़. अपना ज्ञान यहां चेक कल्लो!

कॉन्ट्रोवर्सियल पेंटर एमएफ हुसैन के बारे में कितना जानते हैं आप, ये क्विज खेलकर बताइये

एमएफ हुसैन की पेंटिंग और विवाद के बारे में तो गूगल करके आपने खूब जान लिया. अब ज़रा यहां कलाकारी दिखाइए.

'हिटमैन' रोहित शर्मा को आप कितना जानते हैं, ये क्विज़ खेलकर बताइए

आज 33 साल के हो गए हैं रोहित शर्मा.

क्विज़: खून में दौड़ती है देशभक्ति? तो जलियांवाला बाग के 10 सवालों के जवाब दो

जलियांवाला बाग कांड के बारे में अपनी जानकारी आप भी चेक कर लीजिए.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.