Submit your post

Follow Us

मनोज मुंतशिर का दावा- मुहम्मद बिन कासिम को बप्पा रावल ने दौड़ा कर मारा, सच क्या है?

‘तेरी मिट्टी’ जैसा लोकप्रिय गीत लिखने वाले मनोज मुंतशिर आजकल इतिहास पढ़ा रहे हैं. लोगों को उनका इतिहास पढ़ने और याद रखने को कह रहे हैं. ये भी बता रहे हैं कि हमें-आपको क्या पढ़ाया गया और क्या नहीं पढ़ाया गया. मोटा-मोटा कहें तो उनका मतलब ये है कि अब तक हमने जो भारतीय इतिहास पढ़ा है, उसमें गड़बड़ है. जैसे अपने एक नए वीडियो में मनोज मुंतशिर कह रहे हैं,

“दर्जनों युद्धों में हमने आतताइयों को हमने पैरों तले रौंदा है. सातवीं सदी में बप्पा रावल ने मुहम्मद बिन क़ासिम को ईरान तक दौड़ा दौड़ा कर मारा था. ये हमें क्यों नहीं पढ़ाया जाता?”

आगे बताएंगे कि इस बात की सच्चाई क्या है और मनोज मुंतशिर के दावे पर इतिहासकारों की राय क्या है. लेकिन पहले उनका वीडियो देखिए.

वीडियो में किए गए दावे को सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने काउंटर किया है. जैसे Indian History Memes-इतिहास नाम के एक फेसबुक पेज पर मनोज मुंतशिर के सवाल का जवाब दिया गया है. उनका वीडियो पोस्ट करने के साथ कैप्शन में लिखा है,

“मनोज मुंतशिर जी पूछ रहे हैं की ये हमें क्यों नहीं पढ़ाया जाता. मुझे लगता है कि इसका एक कारण तो ये है की बप्पा रावल सातवीं नहीं आठवीं सदी में हुए थे.

दूसरा कारण ये है कि मुहम्मद बिन क़ासिम की मौत हुई थी 715 ईसवी में. उस समय बप्पा रावल केवल दो साल के थे. बप्पा रावल का जन्म ही 713 ईसवी में हुआ था.

तीसरा कारण ये है की बप्पा रावल अपनी डायनेस्टी के फाउंडर माने जाते हैं. यानी कि जब वो जवान हुए होंगे तभी उन्होंने अपने साम्राज्य की नींव रखी होगी.

चौथा कारण ये है कि मुहम्मद बिन क़ासिम ने सिंध पर हमला किया था. बप्पा रावल जहां के थे, उसके आसपास भी क़ासिम या उसकी सेना नहीं फटकी थी. और सिंध का राजा दाहिर एक बड़ा राजा था, बप्पा रावल से काफी बड़ा, तो उसे 2 साल के बच्चे की मदद की जरूरत पड़ी होगी युद्ध में, ऐसा मुझे नहीं लगता है.”

Kasim
मुहम्मद बिन कासिम लेफ्ट में और दाईं और बप्पा रावल.

हमने मनोज मुंतशिर के दावे पर ये तथ्य सामने रखने वाले फेसबुक अकाउंट के एडमिन से संपर्क किया. उन्होंने कहा कि ये बातें उन्होंने गूगल से उठाई हैं. ऐसे में इनकी तस्दीक के लिए विशेषज्ञों से बात करना जरूरी था. सो हमने कुछ इतिहासकारों को फोन लगाए. पूछा कि क्या सातवीं सदी में बप्पा रावल ने मुहम्मद बिन क़ासिम को ईरान तक दौड़ा-दौड़ा कर मारा था.

इस सवाल पर दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर असद अहमद ने ‘दी लल्लनटॉप’ को बताया,

“मुहम्मद बिन कासिम और बप्पा रावल का दूर-दूर तक कोई लेना-देना नहीं रहा है. मुहम्मद बिन कासिम ने (सन्) 712 में सिंध पर आक्रमण किया था और उस वक्त वहां के राजा दाहिर थे. बप्पा रावल और कासिम के बीच कोई लड़ाई नहीं लड़ी गई थी. दोनों समकालीन नहीं थे.”

दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर फरहत हसन ने ‘दी लल्लनटॉप’ को बताया,

“इन बातों का इतिहास से कोई लेना-देना नहीं है. बतौर हिस्टोरियन मेरा इस पर कमेंट करना ही बेकार है. इस पर बात करने का कोई फायदा नहीं है. केवल साफ करने के लिए कह दूं कि इसका इतिहास से कोई संबंध नहीं है. इसमें कोई हिस्टोरिकल एक्युरेसी नहीं है. कोई फैक्ट नहीं है. ये इतिहास है ही नहीं तो इस पर क्या बातें की जाएं.”

वहीं, दिल्ली विश्वविद्यालय के ही एक बेहद सीनियर प्रोफेसर ने नाम नहीं छापने की शर्त पर कहा,

“देखिए ये तथ्य नहीं है, सच नहीं है. इस पर वैसे कोई कमेंट नहीं करना चाहता. लेकिन इस तरह की खबरें नहीं लिखी जानी चाहिए, क्योंकि इससे समाज में गलत भावनाएं जाती हैं. जो भी बात वायरल हो रही है, उस पर चर्चा करके उसे बड़ा बनाया जा रहा है. खैर, रावल और कासिम के बीच कोई जंग नहीं हुई.”

इतिहासकारों की बातों से साफ होता है कि मुहम्मद बिन कासिम को कभी भी बप्पा रावल का सामना नहीं कर पड़ा. गूगल पर भी थोड़ा सा रिसर्च करने से ही साफ हो जाता है कि बप्पा रावल को लेकर किया गया मनोज मुंतशिर का दावा बेतुका है. यहां ये बात उल्लेखनीय है कि खुद बप्पा रावल के इतिहास को प्रमोट करने वाली चर्चित वेबसाइट्स पर भी यही लिखा है कि बप्पा रावल का जन्म सन् 713 में हुआ था. यानी जब मुहम्मद बिन कासिम को जानवर की खाल में सिलकर दमिश्क भेजा गया था, उस समय बप्पा रावल केवल 2 साल के थे.

मुहम्मद बिन कासिम के बारे में विस्तार से जानने के लिए ये पढ़ें-

मुहम्मद बिन कासिम को बैल की चमड़ी में सिलकर सीरिया भेजा गया था


तारीख़: कहानी अबुल फ़ज़ल की, अकबर का नवरत्न जो बाप-बेटे की रंजिश में मारा गया

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

जब ट्रेलर आया था, तबसे लगातार विरोध जारी है.

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

माधुरी से डायरेक्ट बोलो 'हम आपके हैं फैन'

आज जानते हो किसका हैप्पी बड्डे है? माधुरी दीक्षित का. अपन आपका फैन मीटर जांचेंगे. ये क्विज खेलो.