Submit your post

Follow Us

यकीन नहीं होता, 'मैंने प्यार किया' के गीतों का म्यूज़िक एक दो नहीं, कुल पांच जगहों से चुराया गया था

1990. जाड़ों की छुट्टियां. कोई जनवरी-फरवरी का ही महीना रहा होगा. मैं पहली बार अपने शहर नैनीताल से दिल्ली घूमने आया था. 7-8 साल का रहा होऊंगा. सब कुछ धुंधला-धुंधला याद है. लोटस टेंपल, शहादरा का काफी लंबा फ्लाईओवर, गोलचा, रिवोली और पालिका बाज़ार. पालिका बाज़ार तब ऐसा चमकता था, जैसा अब इंदिरा गांधी का टर्मिनल 3. उस पालिका बाज़ार में विदेशी चीज़ों के अलावा एक और चीज़ ने मेरा ध्यान खींचा- कांच के शेल्फ में सजी हुईं कैसेट्स. जिनमें सबसे ज़्यादा मात्रा थी,‘मैंने प्यार किया’ नाम की ऑडियो कैसेट की. एक कैसेट दिल्ली की दीदी ने खरीद ली. फिर दिनभर यही लूप में चलती थी. बोल क्या धुन और गिटार के कॉर्ड्स भी याद हो गए थे.

लेफ्ट में सलमान और भाग्यश्री का फोटो शूट (1991, इंडिया टुडे आर्काइव). राईट में रीगल की पुरानी (हालांकि उतनी पुरानी नहीं) तस्वीर (इंडिया टुडे आर्काइव).
लेफ्ट में सलमान और भाग्यश्री का फोटो शूट. राईट में रीगल की पुरानी (हालांकि उतनी पुरानी नहीं) तस्वीर. [दोनों तस्वीरें- इंडिया टुडे आर्काइव.]

सुबह अखबार आता था. उसीमें लिखा रहता था कि कौनसी मूवी कहां लगी है. हमारे नैनीताल में तो ऐसा न था. वहां तीन ही पिक्चर हॉल थे, उनमें भी बासी मूवीज़ लगती थीं. लेकिन ये दिल्ली था, और था दिल्ली से मेरा पहला साक्षात्कार.

तय हुआ कि रीगल चलते हैं. ‘मैंने प्यार किया’ देखने. लेकिन जब लंबी लाइन को देखकर हताश हुए तो घर में वीसीपी मंगवाया गया. सब सलमान भाग्यश्री की स्क्रीन केमिस्ट्री देखकर हतप्रभ थे. अंताक्षरी, कैसेट में नहीं थी. मूवी में थी. और भी बहुत कुछ था. लेकिन,

यादें भी कितनी ही बुकमार्क करके रख लो, आएंगी बेतरतीब ही.

# मैंने प्यार किया-

मैंने प्यार किया. एक फिनॉमिना. शुरू में भारत के सिर्फ 20 सिनेमाघरों में रिलीज़ हुई ये मूवी बाद में उस साल की नहीं, दशक की सर्वश्रष्ठ मूवी बन गयी थी. कम से कम दो मामलों में. कमाई और फ़िल्मफ़ेयर अवार्ड्स. मूवी जिसके बारे में मनमोहन देसाई ने कहा था कि ये मूवी आलमआरा के बाद भारत की सर्वश्रेष्ठ मूवी है. और इसने बाकी सब तहस नहस कर दिया है.

फ़िल्म के म्यूज़िक की बात करें तो, बस ये जान लीजिए कि ये ‘आशिकी’, ‘डीडीएलजे’ और ‘साजन’ जैसी मूवीज़ से काफी पहले की बात है. जब किसी रोमांटिक मूवी के गीत इतने ज़्यादा सुने और पसंद किए गए. वो याद भी भुलाए नहीं भूलती, जब नैनीताल की एक दूसरी दीदी बिनाका गीत माला का काउंटडाउन कॉपी में नोट करती थी. पिछले कई हफ्तों से इस मूवी का गीत,’दिल दीवाना’ नम्बर एक से हटने का नाम ही नहीं ले रहा था.

सीपी की पुरानी तस्वीर. ऐसे ही. [इंडिया टुडे आर्काइव]
सीपी की पुरानी तस्वीर. ऐसे ही. [इंडिया टुडे आर्काइव]

फिल्म में म्यूज़िक दिया था- लक्ष्मण ने. हालांकि वो अपना नाम राम लक्ष्मण लिखते थे. क्यूं? क्यूंकि उनके एक भाई थे – राम. लक्ष्मण शुरुआत में उनके साथ मिलकर ही म्यूज़िक बनाते थे. जब उनको एक साथ पहली हिंदी फिल्म (एजेंट विनोद) मिली, तभी राम की मृत्यु हो गई थी. लेकिन फिर लक्ष्मण ने उनका नाम भी अपने नाम के साथ लगाना जारी रखा.

‘मैंने प्यार किया’ के लिए रामलक्ष्मण को ‘बेस्ट म्यूज़िक डायरेक्टर’ कैटेगरी में फिल्मफेयर अवॉर्ड भी मिला. और बेस्ट लिरिसिस्ट का फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला असद भोपाली को. ‘मैंने प्यार किया’ के ही गीत दिल दीवाना के लिए. हालांकि इस मूवी के कई गीतों के लिए देव कोहली ने भी बोल लिखे थे. वो फिल्मफेयर की  गीतकार वाली कैटेगरी में नॉमिनेट भी हुए थे. इसके बाद भी दो बार और नॉमिनेट हुए देव. लेकिन आज तक कभी अवॉर्ड को हाथों में नहीं उठा पाए हैं.

बहरहाल, इतनी सारी इनफॉर्मेशन के बाद अब आते हैं उस हैडिंग पर, जिसको पढ़कर आपने ये स्टोरी पूरी पढ़ने का निर्णय लिया.

# मैंने प्यार किया के 4 गीत, एक अंताक्षरी और 5 ऑरिजिनल धुनें-

# 1)-
ऑरिजिनल गीत- हम तो तेरे आशिक हैं सदियों पुराने (इंडियन)
मूवी- फर्ज़ (1967)
म्यूज़िक- लक्ष्मीकांत प्यारेलाल
गीतकार- आनंद बख्शी

अब ज़रा ये गीत सुनिए. ‘मैंने प्यार किया’ का टाइटल सॉन्ग-

मिली न समानता? आगे बढ़ने से पहले इस गीत के बारे में एक और मज़ेदार बात बताते हैं. ‘फर्ज़’ का ये गीत (हम तो तेरे आशिक हैं सदियों पुराने), ‘मैंने प्यार किया’ में एक जगह और भी यूज़ किया गया है. ‘मैंने प्यार किया’ की अंताक्षरी में. नीचे जो अंताक्षरी वाला वीडियो एंबेड किया है उसे फॉरवर्ड करके 05:40 से सुनना शुरू करें-

# 2)-
ऑरिजिनल गीत- The Final Countdown (स्वीडिश)
एल्बम- यूरोप बैंड का दी फाइनल काउंटडाउन (1986)
क्रेडिट- जोई टेंपेस्ट

अब ‘मैंने प्यार किया’ के गीत, ‘मेरे रंग में रंगने वाली’ की शुरूआती धुन और इसके इंटरल्यूड्स सुनिए-

अगर आप कहेंगे कि,‘क्या हुआ अगर इंटरल्यूड्स कॉपी किए गए हैं तो. गीत के बोल में तो ऑरिजिनलटी बरकरार रखी गई है.’

तो चलिए तीसरे गीत से ये भ्रम भी तोड़े देते हैं.

# 3)-
ऑरिजिनल गीत- Where do I begin? (इंग्लिश)
मूवी- लव स्टोरी (1970)
म्यूज़िक- फ्रांसिस लाई
लिरिक्स- एंडी विलयम्स,

मिली न ‘मेरे रंग में’ के अंतरे और मुखड़े से मिलती जुलती धुन? ‘व्हेर डू आई बिगन’ गीत, पहले ‘लव स्टोरी’ नाम की मूवी में केवल एक बैकग्राउंड म्यूज़िक या थीम म्यूज़िक के तौर पर था. फिर एंडी ने इस म्यूज़िक पर व्हेर डू आई बिगन (मैं कहां से शुरू करूं) के बोल लिखकर उसे गाया.

# 4)-
ऑरिजिनल गीत- Tarzan Boy (इंग्लिश/इटेलियन)
बैंड- बाल्टीमोरा (1985)
क्रेडिट्स- माउरिज़ियो बैसी, नैमी हैकेट

अब अगर मूलधन आई मीन मूल धुन सुन ली हो तो ये सुनिए. ‘मैंने प्यार किया’ का गीत ‘आया मौसम दोस्ती का’. इसके इंटरल्यूड्स (02:00 मिनट पर, 05:02 मिनट पर)…

अब चलिए छोटे-छोटे टुकड़े के बाद एक ऐसा गीत सुनाते और बताते हैं, जो बिलकुल ऑरिजिनल की ट्रू कॉपी है.

# 5)-
ऑरिजिनल गीत- I Just called to say I love You  (इंग्लिश/इटेलियन)
सिंगल (1984)
क्रेडिट्स- स्टीव वंडर

अब सुनिए ‘मैंने प्यार किया’ का गीत, ‘आते जाते’. जिसकी लिरिक्स तक सुनकर लगता है कि  I Just called… से इंस्पायर्ड है.


तो ये थे 5 ऑरिजिनल और 4 कॉपीड गीत, जिनके बिन ‘मैंने प्यार किया’ की एल्बम अधूरी है. जाते-जाते आपको एक और गीत सुनाते हैं, जिसके बारे में कभी ज़रूर लिखेंगे. सुनिए और बताइए क्या याद आया?-


वीडियो देखें:

फिल्म रिव्यू : पंगा-

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.

इन नौ सवालों का जवाब दे दिया, तब मानेंगे आप ऐश्वर्या के सच्चे फैन हैं

कुछ ऐसी बातें, जो शायद आप नहीं जानते होंगे.

अमिताभ बच्चन तो ठीक हैं, दादा साहेब फाल्के के बारे में कितना जानते हो?

खुद पर है विश्वास तो आ जाओ मैदान में.

‘ताई तो कहती है, ऐसी लंबी-लंबी अंगुलियां चुडै़ल की होती हैं’

एक कहानी रोज़ में आज पढ़िए शिवानी की चन्नी.

मोदी जी का बड्डे मना लिया? अब क्विज़ खेलकर देखो कितना जानते हो उनको

मितरों! अच्छे नंबर चइये कि नइ चइये?