Submit your post

Follow Us

बाहुबली के धांसू डायलॉग लिखने वाले मनोज मुंतशिर से लल्लनटॉप बातचीत

शहर-ए-दिल्ली. ग़ालिब, ज़ौक़ की दिल्ली. वो शहर जहां शायरी के लातादाद दीवाने हैं. इसी दिल्ली शहर में हुआ हमारा लल्लनटॉप अड्डा. अड्डे पर आए मनोज मुंतशिर. जो खुद भी एक शायर हैं. फिल्मों के गीत लिखते हैं. डायलॉग लिखते हैं. स्टेज पर से लोगों को बांध के रखने वाली बातें भी करते हैं. कुल मिलाकर गुणी आदमी हैं.

हिंदुस्तानी सिनेमा की नई क्रांति ‘बाहुबली’ के तमाम हिंदी डायलॉग मनोज ने ही लिखे हैं. ‘रुस्तम’ फिल्म का मशहूर गाना ‘तेरे संग यारां’ इन्हीं की कलम से निकला है. इसी तरह फिल्म ‘एम एस धोनी’ का ‘कौन तुझे यूं प्यार करेगा’, जो नई पीढ़ी के प्रेम-दीवानों का एंथम बना, मनोज की ही लेखनी का कमाल है. मनोज के लिखे ‘एक विलन’ के गाने ‘तेरी गलियां’ के लिए उन्हें ढेर सारे अवॉर्ड मिले. अमेठी, उत्तर प्रदेश में पैदा हुए मनोज ने लल्लनटॉप अड्डे पर लोगों से सीधी और सधी बात की. लोगों ने खूब पसंद किया. ज़्यादा क्या बताएं, आप वीडियो ही देख लीजिए.


ये भी पढ़ें:

ये किस तरह के लोग हैं जो मरती दिल्ली पर हंस रहे हैं?

सोशल मीडिया पर घूमती भाजपा नेता रेशमा पटेल की अश्लील तस्वीर का सच ये है

जब सचिन के साथ द्रविड़ पर भी माता चढ़ गई थी

 

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.