Submit your post

Follow Us

एक डायरेक्टर ने 10 साल में एक ही कॉन्सेप्ट और एक ही नाम से दो फिल्में बना डालीं

एक फिल्ममेकर हैं, जिन्होंने 10 साल के भीतर एक ही कॉन्सेप्ट पर, एक ही नाम की दो फिल्में बना डालीं. नाम इम्तियाज़ अली. फिल्म का नाम ‘लव आज कल’. सैफ अली खान और दीपिका पादुकोण को लेकर 2009 में बनाई थी. 2020 में एक और ‘लव आज कल’ ले आए हैं. उसी का ट्रेलर आया है. उनकी पिछली ही फिल्म का कॉन्सेप्चुअल रीमेक लग रही है. अलग है, तो किन मायनों में?

फिल्म की कहानी

सबसे पहले हम एक चीज़ करेंगे, इस फिल्म को पिछली फिल्म से जोड़कर नहीं देखेंगे. स्टैंडअलोन पिक्चर की तरह देखेंगे. ‘लव आज कल’ की कहानी दो अलग-अलग टाइम पीरियड में घटती है. पहली 1990, जहां स्कूल में पढ़ने वाले एक लड़के को एक मुंहफट लड़की से प्यार हो जाता है. वो बच्चों वाला, प्योर वाला प्यार. लेकिन इनकी लव स्टोरी के पूरी होने में कई दिक्कतें हैं. कट टू 2020 यानी आज. ज़ोई और वीर. एक करियर ओरिएंटेड लड़की और उसके प्यार में पड़ा लड़का. ज़ोई वर्क-लाइफ बैलेंस बिठाने की कोशिश कर रही है. लेकिन इसमें उसका प्यार आड़े आ रहा है. फिल्म में दिखने वाली दोनों प्रेम कहानियां बिलकुल टूट जाने की कगार पर खड़ी हैं. इसी जोड़-तोड़ की कहानी लग रही है ‘लव आज कल’.

ट्रेलर के पहले ही सीन में पब्लिकली लड़के वीर और ज़ोई.
ट्रेलर के पहले ही सीन में पब्लिकली लड़ते वीर और ज़ोई.

ट्रेलर कैसा है?

जो प्यार से बनाया जाए, वो प्यारा लगता है. लेकिन पूरा मामला दोहराव वाला लग रहा है. हमने ऐसी क्या गलती की है कि हमें एक ही कहानी दो बार दिखाई जाए. इस फिल्म में पिछली फिल्म से अलग सिर्फ स्टारकास्ट और माहौल लग रहा है. लेकिन लगने और होने में अंतर होता है. वो अंतर ट्रेलर नहीं बता पा रहा. हालांकि एक चीज़ जो पकड़ में आ रही हैं, वो ये कि ये जितनी दिख रही है, उतनी सिंपल लव स्टोरी भी नहीं होने वाली. इसमें कुछ कैच ज़रूर है. करियर और प्यार में से चुनाव करने वाला एंगल तो दिख रहा है. लेकिन यौन उन्मुखता (सेक्शुअल ओरिएंटेशन) वाले टॉपिक को भी फिल्म छू सकती है. ये एक वाइल्ड गेस है. बाकी अभी ट्रेलर आया है, ज़्यादा क्रिटिकल होने से पहले फिल्म का इंतज़ार कर लेते हैं.

ये सीन देखकर सीधा 'अज दिन चढ़या' गाना याद आ गया. इम्तियाज़ ने खुद को ही कॉपी कर लिया है.
ये सीन देखकर सीधा ‘अज दिन चढ़या’ गाना याद आ गया. इम्तियाज़ ने खुद को ही कॉपी कर लिया है.

कौन-कौन काम कर रहा है?

फिल्म के 1990 वाले दौर में प्रेम में पड़े स्कूल किड्स के रोल में हैं कार्तिक आर्यन और आरुषी शर्मा. कार्तिक को तो आप जानते हैं, अभी-अभी ‘पति पत्नी और वो’ में दिखाई दिए थे. आरुषी नई हैं. उनकी पहली पिक्चर है. इससे पहले डिजिटल स्पेस में काम कर चुकी हैं. 2020 वाले समय में कार्तिक के साथ सारा अली खान दिखाई देंगी. सारा ने अपने करियर की शुरुआत ‘केदारनाथ’ से की थी, ये उनकी तीसरी फिल्म है. इन तीन लोगों के साथ रणदीप हुड्डा भी इस फिल्म का हिस्सा हैं. वो ट्रेलर में एक सेकंड को धुंधले से फ्रेम में दिखाई देते हैं. रणदीप इससे पहले भी इम्तियाज़ के साथ ‘हाईवे’ में काम कर चुके हैं.

फिल्म के एक सीन में कार्तिक, जिसे देखकर पता लग रहा है कि ये पिक्चर इम्तियाज़ अली ने बनाई है.
फिल्म के एक सीन में कार्तिक, जिसे देखकर पता लग रहा है कि ये पिक्चर इम्तियाज़ अली ने बनाई है.

कौन बना रहा है?

वही जिनका नाम आपने खबर की पहली लाइन में जाना. इम्तियाज़ अली. बतौर डायरेक्टर इम्तियाज़ की आखिरी फिल्म थी शाहरुख के साथ ‘जब हैरी मेट सेजल’ (2017). लेकिन वो ‘जब वी मेट’, ‘रॉकस्टार’ और ‘तमाशा’ जैसे नगीने भी बना चुके हैं. ‘लव आज कल’ के बारे में उनका ये मानना है कि जब 2009 में उन्होंने ‘लव आज कल’ बनाई थी, तब प्रेम की परिभाषा अलग थी. लेकिन पिछले दस सालों में पूरा सिलेबस चेंज हो गया है. लेकिन इमोशन अब भी वही है. शॉर्ट में बोलें, तो रिश्ता वही सोच नई. इस फिल्म का ट्रेलर देखते वक्त आपके दिमाग में बड़ी खीज के साथ एक लाइन आती है- इम्तियाज़ यार, फिर से प्यार?

फिल्म के एक सीन में सारा अली खान. 10 साल पहले आई 'लव आज कल' में इनके पापा सैफ अली खान ने लीड रोल किया था.
फिल्म के एक सीन में सारा अली खान. 10 साल पहले आई ‘लव आज कल’ में इनके पापा सैफ अली खान ने लीड रोल किया था.

कब आ रही है?

‘लव आज कल’ की शूटिंग भी मार्च 2019 में शुरू हुई थी. जुलाई 2019 में खत्म हुई. इस दौरान फिल्म की कास्ट और क्रू ने दिल्ली, उदयपुर और हिमाचल प्रदेश के कई इलाकों में शूट किया. अब फिल्म बनकर तैयार है, बस रिलीज़ का इंतज़ार है. रिलीज़ होने की तारीख है 14 फरवरी, 2020. यानी वैलेंटाइंस डे.

फिल्म के एक सीन में सारा और कार्तिक. मोमेंट है.
फिल्म के एक सीन में सारा और कार्तिक. मोमेंट है.

‘लव आज कल’ का ट्रेलर आप यहां देख सकते हैं:


वीडियो देखें: कश्मीरी पंडितों के विस्थापन पर बनी फिल्म ‘शिकारा’ फ़िल्म रोंगटे खड़े कर देगी

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

YES Bank शुरू करने वाले राणा कपूर कौन हैं, जिन्होंने नोटबंदी को 'मास्टरस्ट्रोक' बताया था

यस बैंक डूब रहा है.

सात साल पहले केजरीवाल ने वो बात कही थी जो आज वो ख़ुद नहीं सुनना चाहते

बरसों पुरानी इस बात की वजह से सोशल मीडिया पर घेर लिए गए हैं.

क्या भारत सरकार से पूछे बिना पाकिस्तान चली गई इंडियन कबड्डी टीम?

अब ढेरों खेल-तमाशा हो रहा है.

बजट का कितना ज्ञान है, ये क्विज़ खेलकर चेक कर लो!

कितना नंबर पाया, बताते हुए जाना. #Budget2020

संविधान के कितने बड़े जानकार हैं आप?

ये क्विज़ जीत लिया तो आप जीनियस हुए.

क्रिकेट के पक्के वाले फैन हो तो इस क्विज़ को जीतकर बताओ

कित्ता नंबर मिला, सच-सच बताना.

सलमान खान के फैन, इधर आओ क्विज खेल के बताओ

क्विज में सही जवाब देने वाले के लिए एक खास इनाम है.

QUIZ: देश के सबसे महान स्पोर्टसमैन को कितना जानते हैं आप?

आज इस जादूगर की बरसी है.

चाचा शरद पवार ने ये बातें समझी होती तो शायद भतीजे अजित पवार धोखा नहीं देते

शुरुआत 2004 से हुई थी, 2019 आते-आते बात यहां तक पहुंच गई.

रिव्यू पिटीशन क्या होता है? कौन, क्यों, कब दाखिल कर सकता है?

अयोध्या पर फैसले के खिलाफ ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड रिव्यू पिटीशन दायर करने जा रहा है.