Submit your post

Follow Us

लॉर्ड्स में बड़ियार आदमी बने भारतीयों के 'लीडर' को जानते हैं आप?

लॉर्ड. अंग्रेजों के कल्चर में अगर आप लॉर्ड कहे जा रहे हैं तो मतलब आपके अंदर कुछ तो है. आप कम से कम उनकी नज़र में तो बड़ियार आदमी हैं ही. और ऐसे में अगर आपके लॉर्ड्स, अरे वही लॉर्ड का बहुवचन… के लॉर्ड बन जाएं तो? कमाल होगा ना? और क्या हो कि आपके पास लॉर्ड्स के 11 लॉर्ड्स हों? अबहियौं नहीं बूझे? हम बात कर रहे इंडियन क्रिकेट टीम की.

जिन्होंने बचपन की लकड़ी के गट्ठर वाली कहानी सच कर दी. एक लकड़ी आसानी से टूट जाती है, लेकिन यही लकड़ियां अगर गट्ठर बन जाएं तो इन्हें तोड़ना आसान नहीं होता. और Lords में अंग्रेजों के सामने भारतीय क्रिकेट टीम ऐसे ही गट्ठर बनकर अड़ गई. एक वक्त हाथ से जा रहे और फिर ड्रॉ दिख रहे मैच को भारत ने 151 रन के भारी अंतर से जीत लिया. और ऐसा जीता कि आधुनिक चौपाल, बोले तो सोशल मीडिया रंगारंग हो गया. ऐसे में हमारा फ़र्ज बनता है कि जो लोग जल्दी सो गए थे उन्हें इस जीत के हीरोज से मिलवाया जाए.

# विराट कोहली

कैप्टन, लीडर, लेजेंड. ये तीन शब्द जिस भी कप्तान के साथ जुड़ जाएं, उसे भौकाली मान लिया जाता है. और इस पैमाने पर कोहली अब भी भौकाली होने से दूर हैं. लोगों को मैदान पर उनका बर्ताव लीडर वाला नहीं लगता. लोग गिनाते हैं कि जब विकेट नहीं गिरते, स्थितियां प्रतिकूल होती हैं तब कोहली की बॉडी-लैंग्वेज बदल जाती है.

और ये बदलाव साफ दिखता भी है. लेकिन लोग ये नहीं देखते कि ऐसा कुछ वक्त के लिए ही होता है. बाकी के वक्त में कोहली जितनी एनर्जी कोई भी नहीं दिखा पाता. अपनी कमाल की एनर्जी के साथ कोहली जब जैसे को तैसा वाले अंदाज में जवाब देते हैं, तो सामने वाली टीम वैसे ही दो कदम पीछे हट जाती है.

लेकिन आज इसकी बात नहीं करेंगे. आज बात होगी विराट कोहली के साहस की. लॉर्ड्स की पिच सूखती है, स्पिनर्स को मदद मिलेगी, अश्विन हमारे सबसे बड़े मैच विनर हैं. ये बातें, अंग्रेजी में कहें तो रैंट लगातार सुनाई दे रहे थे. लोग अश्विन को ना चुनने वाले कोहली की समझ पर सवाल उठा रहे थे. लेकिन कोहली को पता था, ये नया भारत है यहां पेसर्स मैच जिताते हैं. और मैच के अंत में कोहली की सोच ही सच साबित हुई.

रविंद्र जडेजा के रूप में इकलौते स्पिनर के साथ जाने का कोहली का फैसला एकदम सटीक बैठा. भारतीय पेस बोलर्स ने इंग्लैंड के 20 विकेट ले डाले. टीम इंडिया के इतिहास में यह सिर्फ तीसरी बार था जब स्पिनर्स के बिना विकेट लिए भारत टेस्ट जीता हो. AND MIND YOU तीनों बार कैप्टन कोहली थे.

# Rahul-Rohit

राहुल ऑफिशल मैन ऑफ द मैच हैं. उन्होंने पहली पारी में कमाल की सेंचुरी मारी थी. राहुल के 129 रनों की बदौलत ही भारतीय टीम पहली पारी में 364 रन तक पहुंच पाई थी. बैटिंग के लिए मुश्किल विकेट पर राहुल ने कमाल का धैर्य दिखाया और 250 गेंदें खेल डाली. टेस्ट के पहले दिन ओपनिंग करने उतरे राहुल दूसरे दिन आउट हुए. लेकिन तब तक उन्होंने भारत को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया था.

और राहुल की इस पारी के आगे रोहित के महत्वपूर्ण 83 रन छिप से गए. लेकिन रोहित की ये पारी राहुल जितनी ही महत्वपूर्ण थी. अक्सर होम ट्रैक बुली कहे जाने वाले रोहित ने कठिन परिस्थिति में 145 गेंदें खेली और बहुमूल्य 83 रन बनाए. रोहित ने राहुल के साथ लगभग 44 ओवर बैटिंग की और लगभग पूरे वक्त तक कंट्रोल में दिखे. यह विदेशी सरजमीं पर उनका हाईएस्ट टेस्ट स्कोर था और यह लॉर्ड्स फतह के लिए बेहद जरूरी भी था.

# Rahane-Pujara

लंबे वक्त से इंडियन मिडल ऑर्डर सही से परफॉर्म नहीं कर रहा. विराट कोहली, चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे बड़े स्कोर करने में लगातार फेल हो रहे हैं. लेकिन जब भी आलोचना होती है तो रहाणे और पुजारा जाने कैसे आगे आ जाते हैं. सब इन दोनों को टीम से बाहर करने की बातें करने लगते हैं.

लेकिन लॉर्ड्स में इन्होंने फिर से दिखाया कि टीम इंडिया के लिए रहाणे-पुजारा कितने जरूरी हैं. पहली पारी में फेल होने के बाद पुजारा ने दूसरी पारी में 206 गेंदें खेली. शुरुआती विकेट गिरने से लड़खड़ाई टीम इंडिया को फिर से खड़ा किया. और बचा हुआ काम किया रहाणे ने. टीम इंडिया के उपकप्तान रहाणे ने 146 गेंदों पर 61 रन की पारी खेली. यह इन दोनों की बैटिंग का ही कमाल था कि मैच में बैकफुट पर जा चुकी टीम इंडिया ड्रॉ करने की रेस में लौटी.

# Shami-Bumrah

भई वाह! इस जोड़ी के बारे में क्या ही कहा जाए. टीम इंडिया की दोनों पारियां निपटने के बाद भी मैच का रिजल्ट इतना साफ नहीं दिख रहा था. लेकिन फिर इन दोनों ने गेंद से कमाल कर दिया. इंग्लैंड के दोनों ओपनर खाता नहीं खोल पाए. और यह दोनों विकेट शमी-बुमराह ने आपस में बांट लिए. इंग्लैंड ने सिर्फ एक रन के टोटल पर दोनों ओपनर्स गंवा दिए.

और यहां से अंग्रेज एक बार जो बैकफुट पर गए, वहीं रह गए. बाद में 67 के टोटल पर बुमराह ने अपना दूसरा विकेट भी ले लिया. जो रूट के रूप में आया यह विकेट अंग्रेजों की रही-सही उम्मीदें भी खत्म कर गया. बाद में बुमराह ने ऑली रॉबिंसन को भी आउट किया. बैटिंग करते हुए 34 रन बनाने वाले बुमराह ने दूसरी पारी में तीन विकेट झटके. जबकि 56 रन की नॉटआउट पारी खेलने वाले शमी के खाते में एक विकेट आया.

# Miyan Siraj

सिराज को टीम इंडिया के साथी मियां भाई बुलाते हैं. और इस गाने पर उनका ऐतिहासिक डांस कौन भूल सकता है? कुछ ही महीनों पहले तक IPL में खूब रन लुटाने के लिए सिराज चौतरफा ट्रोल होते थे. दूसरी टीमों के फ़ैन्स को तो छोड़ दीजिए, खुद RCB वाले भी इनका मज़ाक बनाते थे. लेकिन मियां भाई ने ऑस्ट्रेलिया टूर से जो जलवे बिखेरने शुरू किए हैं, कि कमाल ही हो गया है.

सिराज ने लॉर्ड्स टेस्ट की दूसरी पारी में चार विकेट निकाले. एक वक्त पर ड्रॉ की ओर जाते मैच को सिराज ने झकझोरकर भारत की ओर गिरा दिया. पहले तो उन्होंने धीमे-धीमे जम रहे मोईन अली को कैच कराया और फिर अगली ही गेंद पर सैम करन को बिना खाता खोले लौटा दिया. और फिर अंत में जोस बटलर और जेम्स एंडरसन को निपटाकर जीत भारत की झोली में डाल दी. सिराज ने पहली पारी में भी चार विकेट निकाले थे. और मजे की बात ये है कि दोनों ही पारियों में वह सेकेंड चेंज यानी चौथे पसंदीदा बोलर थे.


INDvsENG: लॉर्ड्स टेस्ट मैच में विराट कोहली ने बीच मैदान एंडरसन को क्या सुना दिया?

लगातार लल्लनटॉप खबरों की सप्लाई के लिए फेसबुक पर लाइक करें

कौन हो तुम

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

IPL का कित्ता ज्ञान है, ये क़्विज़ खेलकर चेक कल्लो!

ईमानदारी से स्कोर भी बताते जाना. हम इंतज़ार करेंगे.

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

'मनी हाइस्ट' वाले प्रोफेसर की पूरी कहानी, जिनकी पत्नी ने कहा था, 'कभी फेमस नहीं हो पाओगे'

अलवारो मोर्टे ने वेटर तक का काम किया हुआ है. और एक वक्त तो ऐसा था कि बकौल उनके कैंसर से जान जाने वाली थी.

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

एक्टर शरत सक्सेना की कहानी, जिन्होंने 71 साल की उम्र में ज़बरदस्त बॉडी बनाकर सबको चौंका दिया

हीरो बनने आए शरत सक्सेना कैसे गुंडे का चमचा बनने पर मजबूर हुए?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

'भीगे होंठ तेरे' वाले कुणाल गांजावाला आजकल कहाँ हैं?

एक वक़्त इंडस्ट्री में टॉप पर थे कुणाल और उनके गाने पार्टियों की जान हुआ करते थे.

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

राज कुंद्रा की पूरी कहानी, 18 की उम्र में शॉल बेचने से शुरुआत करने वाले राज यहां तक कैसे पहुंचे?

IPL स्कैंडल, मॉडल्स के आरोप, अंडरवर्ल्ड कनेक्शंस के आरोप, एक्स वाइफ के इल्ज़ाम सब हैं इस कहानी में.

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रैनसन: जिन्होंने पहले अंतरिक्ष के दर्शन करके जेफ बेजोस का मजा खराब कर दिया

रिचर्ड ब्रेन्सन की कहानी, जहां भी गए तहलका मचा दिया.

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

'सिंघम' IPS से तमिलनाडु BJP के सबसे युवा अध्यक्ष बने अन्नामलाई की कहानी

पहला चुनाव हार गए थे, बीजेपी ने राज्य की जिम्मेदारी सौंपी है.

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

'तड़प-तड़प के' जैसा प्रेमियों का ब्रेकअप एंथम देने वाले सिंगर के के आजकल कहां हैं?

उनके गाए 'पल' गाने के बगैर आज भी किसी कॉलेज का फेयरवेल पूरा नहीं होता.

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

कर लिया योगा? अब क्विज खेलने से होगा

आन्हां, ऐसे नहीं कि योग बस किए, दिखाना पड़ेगा कि बुद्धिबल कित्ता बढ़ा.

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

तमिल जनता आखिर क्यों कर रही है 'फैमिली मैन-2' का विरोध, क्या है LTTE की पूरी कहानी?

जब ट्रेलर आया था, तबसे लगातार विरोध जारी है.